हमें चाहने वाले मित्र

26 अक्तूबर 2020

एक क़ादर , जो पत्रकारिता में क़लन्दर है ,, पत्रकारिता के सिकंदर है ,,

 एक क़ादर , जो पत्रकारिता में क़लन्दर है ,, पत्रकारिता के सिकंदर है ,,, पत्रकारिता की हर जानकारी , हर व्यवस्था ज्ञान में पारंगत है ,, आज दैनिक भारत की महिमा के सम्पादक ,भाई अब्दुल क़ादिर की सालगिराह के मौके पर ,, कोटा के पत्रकार ,, समाजसेवक ,,राजनीतिज्ञ लोग , व्यवसायी उन्हें दिल से दुआओं के साथ , मुबारकबाद दे रहे है , भाई अब्दुल क़ादिर को उनकी योम ऐ पैदाइश के , इस पुरखुलूस मौके पर दिली मुबारकबाद ,

बधाई
, , भाई अब्दुल क़ादिर , किसी पहचान के मोहताज नहीं ,,, खुद के पाक्षिक अख़बार के सुपर स्टार तो है ही सही ,,दैनिक विश्व मेल , के पत्रकारिता के अनुभव के बाद ,, भाई क़ादिर , कोटा नयापुरा से निकलने वाले सांध्य दैनिक ,भारत की महिमा अख़बार के सम्पादक बने ,, जो लगातार नियमित रूप से ,,क़लम के जोहर बता रहे है ,, भाई क़ादिर कोटा प्रेस क्लब सहित ,, पत्रकारिता से जुड़े सभी संगठनों के सक्रिय सदस्य है ,, वोह पत्रकारिता के हर संघर्ष , हर सुख दुःख के हिस्सेदार , मददगार रहते है ,,, पत्रकारिता के अलावा भाई क़ादिर कई समाजसेवी संस्थाओं से भी जुड़े है , जो गरीब ,,पीड़ित लोगों की मदद के लिए वोह कार्यरत रहते है ,, लेकिन पत्रकारिता के साथ साथ , भाई क़ादिर , छोटे , मंझोले ,समाचार पत्रों के मार्गदर्शक भी बने हुए है ,,अधिस्वीकरण के नियम क़ायदे क़ानून की जानकारी हो ,, साथी पत्रकार ,पत्रकारिता नियम ,क़ायदे क़ानून में पारंगत , मास्टर की भाई ,क़ादिर को याद करते है ,, अख़बार के शीर्षक के आंवटन की बात हो ,, अख़बार के घोषण पत्र प्रस्तुत करने की प्रक्रिया हों ,भाई क़ादिर मास्टर की ऑफ़ पत्रकारिता नियमावली हाज़िर है , अखबार के प्रकाशन के बाद ,आर ऍन आई पंजीयन प्रक्रिया हो ,डाक पंजीयन प्रक्रिया हो ,,या फिर डी पी आर ,, डी ऐ वी पी में अख़बारों की फाइलें भेजकर , मान्यता प्राप्त कर विज्ञापनों की स्वीकृति का मामला हो ,, विज्ञापन की स्वीकृति मिलने के बाद ,वार्षिक लेखा जोखा भेजने की प्रक्रिया हो , हर व्यवस्था में पारंगत भाई क़ादर , अधिकतम पत्रकारों के लिए इन ज़रूरी विधिक व्यवस्थाओं में ,, मार्गदर्शक , विधि मित्र , सलाहकार , मददगार बने हुए है ,भाई क़ादर ,,अपने साथियों के इन कामों में ,, बेझिझक ,बिना किसी बहानेबाज़ी के , अपनत्व के साथ , फाइलें तय्यार करवाते है ,, ऑन लाइन रिकॉर्ड भिजवाते है,, भाई क़ादर ने खुद को पत्रकारिता के लिए वक़्फ़ कर दिया ,है , नियमित दिन चर्या में वोह पत्रकरिता से जुड़कर ,रिपोर्टिंग ,, सम्पादन कार्य के बाद ,अख़बार दैनिक भारत की महिमा के प्रकाशन के बाद , वितरण सहित सभी व्यवस्थाएं देखते है , पत्रकारिता संगठनों की गतिविधियों में सक्रिय हिस्सेदार रहते है ,, पत्रकार साथियों के साथ , भाई क़ादिर , हंसमुख , स्वभाव के साथ ,, मदद का जज़्बा रखते ,हुए ,, साथियों की हर ज़रूरत में तुरतं तय्यार मिलते है , ,भाई क़ादिर की बस यही खूबियां , उन्हें दूसरे पत्रकार साथियों से ,विशिष्ठ बनाती है ,, भाई क़ादिर की सालगिरह के मौके पर ,, आज सभी पत्रकार साथी , समाजसेवक , सियासी लोग उन्हें बधाइयाँ दे ,रहे है ,, भारत की महिमा के प्रकाशक ,,डॉक्टर डी ऍन गांधी , अख्तर खान अकेला ,, डॉक्टर प्रभात कुमार सिंघल ,,सुधींद्र गोड़ , आबशार क़ाज़ी , के एल जेन ,, के डी अब्बासी , , हरिमोहन शर्मा ,, क़य्यूम अली ,, मनोहर पारीक , सलीमुर्रहमान खिलजी ,, श्याम रोहिरा ,, सुनील माथुर ,,बद्रीप्रसाद गौतम , , शाकिर अली ,, , ओमेंद्र सक्सेना ,,, रजत खन्ना , , विजयनारायण सक्सेना , धीरज गुप्ता तेज ,,,, अतीक खान , ब्रजेश विजय वर्गीय ,सहित सभी पत्रकार साथियों ने उन्हें मुबारकबाद दी है ,, अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...