हमें चाहने वाले मित्र

25 अप्रैल 2017

नेहरू को गाली दे रहा था

एक अधेड़ अज्ञानी कल कोटा बैराज पर खड़े होकर ,,नेहरू को गाली दे रहा था ,,उसके बाप ने चपाट ,,एक थप्पड़ लगाते हुए कहा ,,यह ,,जो लाखो किसानो को पानी देता है ,,बिजली देता है यह कोटा बैराज तेरे बाप ने नहीं ,,नेहरू ने बनाया है ,,,,एक बांग्लादेशी ,,हंसा ,,उधर भी चपाट ,,पाकिस्तान को हराकर उसके टुकड़े कर बांग्लादेश को टुकड़े में बदलने वाली तेरी अम्मा ,इंद्रा गांधी ही थी ,,,खालिस्तान के नाम पर देश को टूटने से बचाने वाली इंद्रा ,,इसी देश की एकता अखंडता के लिए शहीद हुई थी ,,,,एक सज्जन मोबाइल ,लेबटोप ,से ,,,काम करते हुए ,,नक्सलाइट ,,आतंकवाद ,,पर राजीव को कोस रहे थे ,फिर चपाट ,,लिट्टे आतंकवाद को खत्म करने में ,,तुम्हारे अंकल का हाथ नहीं था ,,राजिव गांधी ने लिट्टे आतंकवाद खत्म कर खुद की जान दी है ,,शहीद हुए है ,,यह जो लेबटोप ,ा,यह जो मोबाइल तुम चला रहे हो न ,तुम्हारे किसी अब्बाजान ने नहीं दिया ,,राजीव गांधी की ही देन है ,,एक ने ,,सोनिया गांधी के लिए कुछ कहा ,,फिर चपाट ,,यह वही सोनिया है जो इटली से आयी थी ,,लेकिन देश की आदर्श बहु का पूरा किरदार निभाया है ,,कभी सर से पल्लू उतरने नहीं दिया ,,,यह वही सोनिया है ,,के प्रधानमंत्री की कुर्सी इनके हाथ में थी ,लेकिन इन्होने प्रधानमंत्री की कुर्सी न तो खुद ली ,,न अपने बेटे राहुल गांधी को दी ,,अगर प्रधानमंत्री बनाया ,,तो देश के ही नहीं विश्व के महाज्ञानी अर्थशास्त्री ,,मनमोहन सिंह को ,,जिसने देश को विकसित किया ,,यह वही प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जी है ,,जिनके राज में हर घोटाला करने वाला मंत्री ,,हर बेहूदगी करने वाला मंत्री ,,जेल में गया ,,बिना किसी पक्षपात ,के आज तो इनाम दिया जा रहा है ,,पीठ थपथपाई जा रही है ,,,भाई ,,,एक साहिब बोलते है ,,छोडो कुछ ,,गुलाम है ,कुछ साइको है ,,,कुछ मानसिक रोगी है ,,,कुछ सो कोल्ड राष्ट्रभक्त है ,,जिनके पास खुद की एक भी उलपब्धि ,,एक भी शहादत गवाने के लिए नहीं है ,,सिवाय गांधी की हत्या और सुप्रीमकोर्ट के आदेशों का उलंग्घन कर ,,देश के संविधान की भावनाये चूर चूर कर ,,अपराध करने के अलावा कुछ इनके पास गिनाने को नहीं है ,,,इसीलिए तो ईर्ष्या भाव में यह बस पागलो की तरह से बुराई ही बुराई ,,कल्पनाओ के आधार पर करते है ,,चलो इनसे पूंछो तीन साल में कोई एक काम जिस पर देश गर्व कर सके ,,देश का गरीब ,,देश का किसान ,,देश का फौजी ,,देश का जवान ,सीना थोक कर कह सके ,,हमे नाज़ है इन पर ,,देश में एक ईंट भी निर्माण की लगाई हो तो इनसे कहो यह ज़रा बताये ,,,कहा छोडो यह ऐसे ही है ,,यह ऐसे ही रहेंगे ,,,वक़्त बदल रहा है ,,जनता समझ रही है ,,सब ठीक होने वाला है ,देश इनके हाथो से जल्दी ही फिर सुरक्षित हाथो में ,विकसित हाथों में आने वाला है ,,,,,,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

मेरी नींद को तो

मुझे नींद में दिक्कत
ना भजन से
ना अजान से है,,,
मेरी नींद को तो
दिक्कत
शहीद होते जवान
ख़ुदकुशी करते किसान
झूंठ बोलती सरकार
चुप बैठे विपक्ष
सड़को पर निर्दोषो की
हत्या करते हुए
सो कोल्ड
राष्ट्रभक्त इंसान से है ,,अख्तर

यह उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री

यह उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री ,,समाजवादी पार्टी के नेता ,,गायत्री प्रजापति से ,,योगी जी क्या सेटिंग हुई ,,एक अबला से बलात्कार के इलज़ाम की पैरवी ,,अनुसंधान में आपकी पुलिस ने ऐसी कोनसी कमी रख दी ,,,जो ,सुप्रीम कोर्ट के आदेश से गिरफ्तार होने वाले ,,इस गायत्री प्रजापति की ज़मानत हो गयी ,,चुनाव के पहले ,,तो सभी राष्ट्रभक्त इन्हे फांसी पर चढाने के बात कर रहे थे ,,उस अबला को इन्साफ दिलाने की बात कर रहे थे ,,,आखिर राज़ तो बता दो ,,कहानी झूंठी थी ,,आपके अनुसंधान में कमी रही ,,आपने सबूत एकत्रित नहीं किये ,,आप की सरकार के वकील ने इस अबला की तरफ से पैरवी तरीके से नहीं की ,,क्या वजह थी जो गायत्री प्रजापति की ज़मानत हो गयी ,,क्या आप इन गायत्री प्रजापति की इस ज़मानत से संतुष्ठ है ,अगर नहीं तो क्या आप इस ज़मानत को ख़ारिज कराने के लिए अपर कोर्ट में ,,अपील करेंगे ,,देखते है एक ब्रेक के बाद ,,छद्म राष्ट्रवादियों की टिप्पणियों के ,साथ ,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

फिर भी देखो

तुम्हारी मोहब्बत मेरे लिए
नंगे पैर तपती धुप में
जलते डामर पर
खड़े होने जैसी हो गयी है ,,
फिर भी देखो
में पसीने में तर बतर
पैरों में छाले लिए ,,
तुम्हारी मोहब्बत में खड़ा हूँ ,,,अख्तर

आतंकवाद नक्सलियों का हो ,,कश्मीरियों का ,हो ,कश्मीरी पत्थरबाजों का ,हो ,या फिर पाक प्रायोजित हो

आतंकवाद नक्सलियों का हो ,,कश्मीरियों का ,हो ,कश्मीरी पत्थरबाजों का ,हो ,या फिर पाक प्रायोजित हो ,,,गोरक्षा के नाम पर हो ,,या फिर किसी भी जेहाद के नाम पर जो लव जेहाद हो ,,या मज़हबी जेहाद ,,उन्माद हो ,,ऐसे आतंकवाद से ,,हमारे देश को ,,हमे ,,गैर सियासी तरीके से ,,आपस में एक जुट होकर ,,मुक़ाबला करना होगा ,,अगर ऐसा नहीं हुआ ,,हम अपने गिले शिकवे ,,एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप ,,एक दूसरे को नीचा दिखाने की प्रवृत्ति से अगर हम बाज़ नहीं आये तो हम निश्चित तोर पर इस देश और देशवासियों के साथ इंसाफ नहीं कर पाएंगे ,,,सुकमा छत्तीसगढ़ में एक बढ़ा हमला हुआ है ,,आंतरिक हमला है ,,आस्तीन के अंदर छुपे सांपो का हमला है ,,ऐसे हमले से निपटने की ज़िम्मेदारी अकेली सरकार ,,या सत्ता पार्टी की नहीं ,,पुरे देश की ,,देश की सभी सियासी पार्टियों की यह नैतिक ज़िम्मेदारी है ,,इसके लिए ऐसी समस्या से निपटने के लिए अगर हम एक जुट नहीं हुए तो देश हमे कभी माफ़ नहीं करेगा ,,,वर्तमान ज्वलंत हालातो में ,,आपसी विवाद भुला कर ,,केंद्र सरकार को सर्वदलीय बैठक बुलाना चाहिए ,,आर एस एस से जुड़े आदिवासी कल्याण संगठनों को भी इस समस्या के समाधान में लगाना चाहिए ,,जबकि छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजित जोगी ,,को भी इस मामले में मदद के लिए आगे आना चाहिए ,,खुद कांग्रेस की राष्ट्रिय अध्यक्ष सोनिया गांधी ,,राहुल गांधी को ,,प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से ऐसी समस्याओं और उनके समाधान के लिए आपस में बैठ कर सर्वदलीय बैठक बुलाने की पेशकश करना चाहिए ,,किया हिन्दू ,,क्या मुसलमान ,,क्या सिक्ख ,,क्या ईसाई ,,,क्या कांग्रेस ,,क्या भाजपा ,,क्या तृणमूल ,,क्या सपा ,,क्या बसपा ,,क्या तृणमूल,, क्या मुस्लिम लीग वगेरा वगेरा जो भी सियासी पार्टियां है ,,सब हम आपस में बाद में वर्चस्व की लड़ाई लड़ लेंगे ,,लेकिन यह राष्ट्रीयता की लड़ाई ,,यह राष्ट्रिय सुरक्षा की लड़ाई ,,यह आंतरिक सुरक्षा की लड़ाई हमे हर हाल में एक जुट होकर जीतना ही होगी ,,अगर इसमें हमने ज़रा भी सियासत ,,ज़रा भी सियासत की तो देश और देश के लोग हमे कभी माफ़ नहीं करेंगे जनाब ,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...