हमें चाहने वाले मित्र

01 सितंबर 2020

लोकडाउन होना ही चाहिए

 लोकडाउन होना ही चाहिए , पक्का लोकडाउन होना चाहिए , सब बंद होना चाहिए , मेरा सुझाव कलेक्टर ने मानकर , लोकडाउन लगाया , वगेरा वगेरा , कहां गए वोह अव्यवहारिक लोग , अब उन्हें तो अपने संस्थान नहीं खोलना चाहिए , उन्हें बाहर नहीं निकलना चाहिए , ज़िंदगी मे प्रेक्टिकल भी होना पढ़ता है , लोकडाउन सियासत का विषय नहीं , मजबूरी , महामजबूरी है , लेकिन हर वर्ग के बारे में विचार विमर्श कर , सिर्फ अपनी व्यक्तिगत सोच , व्यक्तिगत अनुभव दुनिया नहीं होते , अमीरों को , ऐसी में रहने वाले , ऐसी कारों में घूमने वालों को , कभी कभी , गरीब , मज़दूरों , ज़रूरतमन्दों के साथ भी उठना बैठना चाहिए , उनका दर्द समझना चाहिए ,, अख़्तर

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...