हमें चाहने वाले मित्र

24 जून 2020

बाबा रामदेव ने कोरोना बिमारी के इलाज की दवा का अविष्कार करने का दावा किया

बाबा रामदेव ने कोरोना बिमारी के इलाज की दवा का अविष्कार  करने का दावा किया , अच्छी खबर है , अल्लाह उन्हें कामयाब ,करे लेकिन दवा का अविष्कार ,दवा का प्रयोग , दवा की ट्रायल बिना सरकार की अनुमति ,बिना सरकारी क़ायदे क़ानून के मरीज़ों पर परीक्षण एक अपराध तो है ,क़ानून का खुला उलंग्घन तो है ,,केंद्र सरकार ने अपना दामन बचाने के लिए , केबिनेट मंत्री का दर्जा लेकर  सरकारी सुविधा प्राप्त बाबा रामदेव की इस गैर क़ानूनी हरकत  से पड़ला झाड़ लिया ,, लेकिन अब जांच का विषय यह है के जब दिल की बिमारी का इलाज की दवा का अविष्कार कर दवा बेचने वाले बाबा रामदेव के भगत ,को  हार्ट अटेक होने पर ,उन्हें एम्स में भर्ती कर इलाज करवाया गया तो फिर ऐसी दवा पर ,संदेह पैदा होता है ,,इधर कोरोना की दवा के अविष्कार की पूर्व सुचना केंद्र ,सरकार राज्य सरकार को क्यों नहीं ,दी ,अनुमति क्यों नहीं ली ,,इस दवा की ट्रायल ऐसे कोनसे कोरोना संक्रमित मरीज़ो पर की ,जिसकी सुचना सरकार को भी नहीं है ,, कोरोना मरीज़ की गुपचुप ट्रायल का अपराध क्यों किया ,फिर बिना  सरकार की अनुमति के मीडिया में सार्वजनिक रूप से इस दवा के उत्पादन का प्रचार करने का अपराध है ,,,इन सभी  विषयों पर जांच के पहले ,बाबा रामदेव का ड्रग लाइसेंस निलंबित होना चाहिये ,,, आपदा प्रबंधन अधिनियम , महामारी अधिनियम ,,ड्रग एक्ट सहित , धोखाधड़ी का मुक़दमा दर्ज होना चाहिए , क्योंकि अपराध हुआ ,है यह तो सरकार ने भी स्वीकार कर लिया ,, अब तो कायर्वाही की देरी है ,देखते ,है क़ानून के फ़र्क़ को ,एक तरफ नीम हकीम के नाम पर सारे क्लिनिक सीज़ ,है दूसरी तरफ ऐसे अपराधी को खुली छूट क्यों ,है सवाल तो उठता ,है ,, अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...