हमें चाहने वाले मित्र

14 अप्रैल 2020

सब्ज़ी वालों को बेरहमी से पीट कर

सब्ज़ी वालों को बेरहमी से पीट कर , गिरफ्तार होने वालों ,एक बात बताओं ,क्या सब्ज़ी वाले के धर्म के डॉक्टर ,,नर्सिंग स्टाफ वाले होंगे ,तो ,तुम उनसे इलाज करवाने से ,,इंकार करने की हिम्मत रखते हो ,,, क्या तुम ज़रूरत पढ़ने पर ,,तुम्हे चढाया जाने वाले खून का धर्म पूंछ कर खून को लेने से इंकार कर सकते हो ,,ज़रा सुधरो ,इंसानियत से बढ़ा कोई धर्म नहीं ,नफरतबाज़ों का कोई धर्म नहीं होता ,,यह पेशेवर होते है ,या फिर सियासत इन्हे ऐसा नफरत बम बनाकर इस्तेमाल करती है ,,,,अख्तर

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...