हमें चाहने वाले मित्र

05 मई 2017

एक सर के बदले दस सर

बहनो और भाइयों ,,एक सर के बदले दस सर ,,मेने कहा था के नहीं कहा था ,,,बहनो और भाइयों ,,मित्रो ,,,जब भारत के सेनिको की शहादत ,,पाकिस्तानी क्रूरतम सेनिको ने की थी ,,,तब ,मेने ,कांग्रेस सरकार को ,,लव लेटर लिखना बंद करो ,,कहा था के नहीं ,,,ओबामा ओबामा ,कहकर ,एक्टिंग करते हुए मज़ाक़ उड़ाया था की नहीं ,,,बहनो भाइयों जिन चेनलो पर यह साक्षात्कार था ,,उन चेनलो को मेने राज्यसभा सदस्य बनाया ,,पद्मविभूषण दिया ,,दिया की नहीं ,,,,अभी इन दिनों ,,हमारे सेनिको की क्रूरतम शहादत हुई के नहीं ,,,में चुप हूँ के नहीं ,,,,मेरे भक्त जन भी चुप रहना ,,,मुझे नैतिकता मत सिखाना ,, मुझसे पाकिस्तान पर हमले की बात मत करना ,,,कोई ऐसी बकवास करे ,,तो अगल बगल होकर ,,कांग्रेस का इतिहास बताना ,,,हिन्दू मुस्लिम करके उन्हें प्रताड़ित करना ,,मेने यह तो नहीं कहा ,,फिर भी तुम ऐसा ही करोगे ,,अरे राष्ट्र का मामला है ,,मुझे समझाओ ,,मुझे पाकिस्तान की नापाक हरकतों पर उसे सबक़ सिखाने के फार्मूले बताओ ,,,,अख्तर

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...