हमें चाहने वाले मित्र

03 अप्रैल 2016

बच्चों के सामने ही NIA अफसर को मारी 24 गोलियां, IG ने क्यों कहा प्लान्ड अटैक?



बिजनौर में एनआईए अफसर को जिस वक्त गोली मारी गई उस वक्त वह कार में अपनी फैमिली के साथ एक शादी से लौट रहे थे।
बिजनौर में एनआईए अफसर को जिस वक्त गोली मारी गई उस वक्त वह कार में अपनी फैमिली के साथ एक शादी से लौट रहे थे।
बिजनौर. उत्तर प्रदेश के बिजनौर में एक एनआईए अफसर की गोली मार कर हत्या कर दी गई। एजेंसी में डीएसपी तंजील अहमद पत्नी और दो बच्चों के साथ भांजी की शादी से घर लौट रहे थे। बाइक से आए हमलावरों ने उन पर 24 गोलियां चलाई। हमले में अफसर की पत्नी भी जख्मी हुईं। बता दें कि तंजील पठानकोट हमले की जांच से जुड़े थे। ऐसे बने हमले का शिकार, क्यों अटैक कर पाए हमलावर...
-नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) में डीएसपी तंजील शनिवार रात 12.45 बजे पत्नी फरजाना और दो बच्चों के साथ घर लौट रहे थे।
- पूरी फैमिली के साथ वे यहां एक शादी के फंक्शन में आए थे। शादी उनकी भांजी की थी।
- स्योहारा थाना इलाके में एक पुलिया पर बाइक पर आए हमलावरों ने उनकी कार पर फायरिंग की। इस दौरान तंजील को 24 गोली मारी गई। बताया जा रहा है कि पुलिया अंडरकंस्ट्रक्शन थी जिसके कारण वहां कार धीमी थी।
- आईजी का कहना है कि साजिश के तहत घात लगाकर हमला किया गया। जांच जारी है।
- हॉस्पिटल ले जाते वक्त तंजील की मौत हो गई। पत्नी का नोएडा के एक हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है। उन्हें भी तीन गोली लगी है। बच्चों को चोट नहीं आई है।
- पुलिस मामले की जांच में जुटी है। हमले के कारण का पता नहीं चला है। मौके पर डीआईजी मुरादाबाद पहुंचे हैं।
- एनआईए, एटीएस के के बड़े अफसर मौके पर हैं। यूपी सरकार से तुरंत रिपोर्ट मांगी गई है।
#1.आईजी ने कहा- प्लान्ड अटैक
- एनआईए के आईजी संजीव कुमार सिंह ने कहा, ''पिछली रात 12.45 बजे हमारे बहादुर अफसर तंजील पर उस वक्त हमला हुआ जब वे शादी के एक फंक्शन से आ रहे थे।''
- '' साजिश के तहत हमला किया गया। इस दौरान पैसेंजर सीट पर बैठीं उनकी पत्नी भी जख्मी हुई हैं।''
- ''वह असिस्टेंट कमांडेंट थे। साढ़े 6 साल से एजेंसी में थे।''
- ''जांच जारी है। यूपी एसटीएस, एनआईए की लखनऊ की टीम सभी स्पॉट पर हैं।''
- वहीं पोस्टमॉर्टम करने वाले डॉ. एनके शर्मा का कहना है, 'NIA अफसर को टोटल 24 गोली लगीं। 9 गोली शरीर के आर-पार हो गई। 12 गोली शरीर के अंदर से निकली गईं। 3 गोली शरीर से रगड़ खा कर निकल गईं।
- डॉ. शर्मा ने ये भी बताया, दो तरह के हथियार का इस्तेमाल किया गया। एक 9 एमएम की पिस्टल और दूसरे हथि‍यार के बारे में कन्फर्म नहीं हो पाया है।
#2. आतंकी हमले का शक क्यों?
- तंजील के दोस्त जहीन अख्तर ने मीडिया से कहा- हमें शक है कि आतंकियों ने उन्हें निशाना बनाया।
- सूत्रों का कहना है कि हमलावरों ने 9mm पिस्टल का इस्तेमाल किया।
- ऑटोमेटिक वेपन के इस्तेमाल के चलते एनआईए, एटीएस की टीम जांच में जुटीं।
#3. पठानकोट जांच से कैसे जुड़े थे?
- बताया जा रहा है कि तंजील एनआईए में डेपुटेशन पर आए थे।
- वे कोर ऑपरेशन टीम का हिस्सा था। देश में सभी छोटी-बड़ी आतंकी घटनाओं की जांच में वे शामिल होते थे।
- पिछले दिनों पठानकोट हमले को लेकर पाकिस्तान से आई जेआईटी टीम के साथ इंडियन अफसरों के डेलिगेशन में भी वे शामिल थे।
- एनआईए दफ्तर में उन्होंने पाकिस्तानी अफसरों से बातचीत भी की थी।
#4. एनआईए के खास ऑपरेशन में शामिल थे तंजील
- पठानकोट हमले के अलावा तंजील ने देश में IS का मॉड्यूल पकड़ने में अहम रोल निभाया था।
- जाली नोट के कारोबार की कमर तोड़ने वाली टीम में भी रहे।
- प. बंगाल के बर्दवान में हुए धमाके की जांच में भी शामिल थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...