हमें चाहने वाले मित्र

27 जनवरी 2016

राजस्थान वक़्फ़ बोर्ड के आगामी पांच वर्षो के लिए संवेधानिक चुनाव जयपुर कलेक्ट्रेट बनीपार्क में आगामी पांच फरवरी को होने जा रहे है

राजस्थान वक़्फ़ बोर्ड के आगामी पांच वर्षो के लिए संवेधानिक चुनाव जयपुर कलेक्ट्रेट बनीपार्क में आगामी पांच फरवरी को होने जा रहे है ,,,राजस्थान वक़्फ़ सम्पत्ति को अब डकैतो ,,चमचे ,,चापलूसों से बचाने का वक़्त है ,,मुतव्वली आरक्षित कोटे से दो सदस्य निर्वाचित होकर जाएंगे ,,जिन्हे एक सो अड़सठ वोटर निर्वाचित करेंगे ,,इस चुनाव में अब तक फ़िरक़ों के नाम पर मुस्लिमो को बांट कर कुछ मठाधीश कुर्सी पकड़ हो गए है ,,,चुनाव में अभी से फ़िरक़ों के नाम पर नफरत फैलाई जा रही है ,,अफवाहे फैलाई जा रही है ,,राजस्थान के मुसलमानो को सिर्फ और सिर्फ कुर्सी हथियाने के लिए नफरत फैलाकर बांटा जा रहा है ,,लेकिन इस बार वोटर मुतव्वलि राजस्थान वक़्फ़ बोर्ड के पुराने रिकॉर्ड ,,पुराने सदस्यों के कार्यकाल के घपले ,,घोटालों ,,वक़्फ़ को नुकसान पहुंचाने की घटनाओ को भी निशाना बना रहा है ,,राजस्थान वक़्फ़ बोर्ड के बेहिसाब करोड़ों की सम्पत्ति पर लोगों के क़ब्ज़े है ,,संपत्ति कोड़ियो के भावो में किराए पर है ,,,नाजायज़ रूप से कमेटियों का गठन है ,,,रोज़े इफ्तार में बेवजह वक़्फ़ के रुपयो को खर्च किया गया है ,,वक़्फ़ सम्पत्तियो का विस्तार नहीं हुआ ,,उलटे सरकार को वक़्फ़ संपत्तियां परोस दी गई है ,,,कोसों दूर से जाने वाले वक़्फ़ को बचाने के प्रयासों में जुटे ,,लोगों को बेवजह परेशान किया जाता है ,,नक़्लो ,,मुकदमो सहित कई मामलों में उन्हें लूटा जाता है ,,परेशान किया जाता है ,,यह सब अब ना हो इसके लिए वक़्फ़ बोर्ड के मुतव्वली सदस्य नए निर्वाचन में पुरानो को बदल कर नया इतिहास बनाना चाहते है ,,,बस इसीलिए पूल बनाकर चुनाव लड़ने वालो में अब बोखलाहट और घबराहट है ,,,खुदा की राह में समर्पित सम्पत्ति वक़्फ़ की हिफाज़त के लिए सरकार ने विशिष्ठ क़ानून बनाया है ,,इसकी सुरक्षा के लिए प्रतिनिधियो की व्यवस्था की है ,,,केंद्र से संबंधित समस्या हो तो इसके समाधान के लिए राजयसभा का प्रतिनिधि वक़्फ़ में रहता है ,,क़ानून से संबंधित परेशानी हो तो इसके लिए बार कोंसिल का सदस्य रहता है ,,राजस्थान सरकार से संबंधित हो तो इसकी आवाज़ उठाने के लिए विधायक रहता है ,,ब्यूरोक्रेट्स से संबंधित कोई परेशानी हो तो इसके लिए एक वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी रहता है ,,,वक़्फ़ के हिसाब किताब में घोटाले बेईमानी न हो इसके लिए मोलवी ,,मौलाना ,,इल्म के जानकार होते है ,,,समाज सेवक होते है ,,अब तो महिलाओं को उनका हक़ ,,पेंशन वगेरा मिले इसके लिए महिला प्रतिनिधि भी होंगे ,,,,,,राजस्थान में अब तक जो भी हुआ सभी जानते है अगर अब तक के कार्यक्रलापो की सी बी आई जांच हो जाए ,,सभी दरगाह ,,वक़्फ़ कमेटियों ,,वक़्फ़ बोर्ड के हिसाब किताब ,,किराया मामलों की जांच हो ,,सम्पत्ति पर क़ब्ज़े और बेवजह समझौतों की जांच हो तो सभी जानते है पूरा राजस्थान का वक़्फ़ तब से अब तक अपने हमाम में नंगा हो जाए ,,,बार कोंसिल के नाते नासिर नक़वी फिर भी ज़िम्मेदार रहे है ,,,अब नए सदस्य विधायक हबीबुर्रहमान से भी लोगों को उम्मीदे है पहले ,,कुछ लोग अगर ईमानदार रहे है तो उन्होंने कभी राजस्थान की वक़्फ़ सम्पत्ति का कोई विज़न तय्यार नहीं किया ,,,,आंतरिक घोटालो के खिलाफ कोई आवाज़ नहीं उठाई ,,नतीजन वक़्फ़ गरीब है ,,राजस्थान के मरीज़ ,,बेवा ,,यतीम ,,बुज़ुर्ग ,,,प्रतिभावान छात्र छात्राएं मदद के लिए तरस रहे है ,,जब की हमारे वक़्फ़ के पास बेहिसाब अकूत सम्पत्ति है ,,उसके प्रबंधन को सही अगर कर लिया जाए ,,तो हमे मदद के लिए कहीं भटकना नहीं पढ़े ,,किसी भी राज्य सभा के सदस्य ने राजयसभा में वक़्फ़ सम्पत्ति को लेकर कोई सवाल नहीं उठाया ,,किसी भी विधायक सदस्य ने वक़्फ़ मामले में विधानसभा में कोई आवाज़ नहीं उठाई ,,समाज सेवक ,,मुतव्वली ,,आलीम ,,मौलाना मस्ती मारते रहे ,,और राजस्थान वक़्फ़ बिखरता गया ,,टूटता गया ,,लेकिन अब टोंक जिला वक़्फ़ कमेटी के सदर मोहम्मद अहमद खान भय्यू ने ,,टोंक वक़्फ़ सम्पत्ति के कुशल प्रबंधन , ऐतिहासिक विकास के बाद ,,राजस्थान की वक़्फ़ सम्पत्तियो ,,,खानकाहों ,,दरगाहो ,,मुसफ़िरख़ानो ,,कब्रिस्तानों ,,,,मज़ारात ,,वक़्फ़ सम्पत्तियो के विकास ,,विस्तार और वक़्फ़ की आमदनी बढ़ाने की कोशिश के तहत राजस्थान वक़्फ़ बोर्ड के सदस्य का चुनाव लड़ने का मन बनाया है उन्हें इस मामले में एक तरफा समर्थन मिल रहा है ,,,,मोहम्मद अहमद खान की इस लोकप्रियता से कई लोग जो वर्षो से कुंडली मारे बैठे है वोह बोखला भी रहे है ,,लेकिन जिसे अल्लाह रखे उसे कोन चखे ,,होना वही है जो खुदा चाहे ,,,,,,,,अपना वोट फ़िरक़ों की अफवाह से नहीं ,,,भाई भतीजावाद से नहीं ,,निजी स्वार्थ फायदों से नहीं बस राजस्थान की वक़्फ़ सम्पत्ति को बचाने और आमदनी बढ़ाने के लिए मोहम्मद अहमद खान को देकर खुदा की राह में समर्पित सम्पत्ति को बचाये ,,,,,,,,,,,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...