हमें चाहने वाले मित्र

28 दिसंबर 2015

चार महिलाऐ

गाँव के कुएँ से चार महिलाऐ
पानी भर रही थी..!
.
एक महिला का पुत्र वहाँ से
निकला तो उसे देख कर वह
महिला बोली -
देखो वह मेरा पुत्र है..!
यहाँ का सबसे बड़ा पहलवान है ।
.
फिर दूसरी महिला का पुत्र
वहाँ से गुजरा..!
जिसे देख कर वो महिला बोली -
देखो ये
मेरा पुत्र बड़ा विद्वान है ।
.
उसके बाद
तीसरी महिला का पुत्र वहा से
निकला..!
उसे देख के वह
महिला बोली -
देखो मेरा सुपुत्र यहाँ का सबसे
बड़ा व्यापारी है ।
.
तभी चौथी महिला का पुत्र
वहा से निकला..!
माँ
को देख कर
माँ के पास आया..!
पानी
का घड़ा उठा लिया और बोला -
चलो माँ घर चले ।
.
उस माँ की ख़ुशी भरी आँखों के
सामने उन तीनो महिलाओ
की नज़रे झुक गयी।
वो समझ चुकी थी कि सुपुत्र
कौन है ।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...