हमें चाहने वाले मित्र

11 अक्तूबर 2015

पूरी दुनिया मोदी मोदी कर रही है...

● मैं आपके देश की महिला हूँ साहब....
सब्जियां बहुत महंगी हो गयी है, क्या करू ?
* तू टीवी चालू कर,
पूरी दुनिया मोदी मोदी कर
रही है....
● मैं आपके देश का गरीब नागरिक हूँ साहब...
मेरे कैंसर की 8 हज़ार की दवाई, अब 1 लाख 8 हज़ार की हो गई...
* तू टीवी चालू कर,
पूरी दुनिया मोदी मोदी कर
रही है....
● मैं आपके देश का एक आम आदमी हूँ साहब...
रेल में सफर करना मुश्किल हो गया है..
* तू टीवी चालू कर,
पूरी दुनिया मोदी मोदी कर
रही है....
● मैं आपके देश का एक किसान हूँ साहब...
खेत में डालनेवाला यूरिया बहोत महँगा हो गया है...
* तू टीवी चालू कर,
पूरी दुनिया मोदी मोदी कर
रही है...
● मैं आपके देश का एक व्यापारी हूँ साहब..
विदेशी कम्पनिया हमारा धंधा चौपट कर देगी...
* तू टीवी चालू कर,
पूरी दुनिया मोदी मोदी कर
रही है..
● मैं आपके देश की एक बेटी हूँ साहब...
आपके मंत्रालय में बैठे कुछ लोगो से ही मुझे डर लग
रहा है....
* तू टीवी चालू कर बिटिया,
पूरी दुनिया मोदी मोदी कर
रही है...
● मैं आपके देश का एक युवा हूँ साहब....
रोज़गार नहीं है, हमारा इंटरनेट दोगुना महँगा हो गया...
* तू टीवी चालू कर,
पूरी दुनिया मोदी मोदी कर
रही है...
● कालाधन लाने के लिए रामलीला में हमने आधी रात को लाठियां खायी थी...
अन्ना और बाबा को तो अपना फायदा मिल गया, कालाधन कब आएगा ?
* तू टीवी चालू कर,
पूरी दुनिया मोदी मोदी कर
रही है....
और आखिर में....
● बेटा, मैं तेरी भारत माँ हूँ....
मेरे बेटे रोज़ सीमा पर गोलिया खा रहे है....
● टीवी चालू करके क्या देखू ?
तेरे फैके हुए टुकड़ो पे पलने वाले मीडिया का तमाशा... ?

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...