हमें चाहने वाले मित्र

11 अक्तूबर 2015

,जनता का ज्वलंत मुद्दो से ध्यान बटाने के लिए

दोस्तों हमारे देश में सभी मुद्दो को गौण करने ,,जनता का ज्वलंत मुद्दो से ध्यान बटाने के लिए ,,गांय को राष्ट्रिय पशु की जगह राजनितिक पशु बना दिया गया है ,,केंद्र में तो जो भी नाकामी है उसे छुपाने में इससे मदद मिली है लेकिन उत्तर प्रदेश और बिहार में भी विकास के मुद्दे गौण हो गए ,,खेर सियासत है काठ की हांडी हमारे देश में बार बार नहीं चढ़ती ,,कई आये ,,कई चले गए ,,कई मुद्दे ,,कई शरारतें उठी लेकिन सब खामोश है ,,,उत्तरप्रदेश में अहिंसक पूजनीय गांय के नाम पर हत्या ,,हिंसा ,,नाइंसाफी हुई ,,लोग शाकाहरी की बात करने वाले मांसाहारी बन गए ,,हिंसक बन गए ,,अगर वोह नरभक्षी बन गए ,,कश्मीर में भाजपा के समर्थन से बनी सरकार में ,,विधानसभा हॉल के अंदर जो उत्पात हुआ सभी जानते है ,,केरल में और भी बुरा हुआ ,,लेकिन दोस्तों सच यही है के दादरी में अगर दरिंदो ने दरिंदगी दिखाई है ,,तो दूसरे स्थानो पर बार बार गांय का मांस खाने का ऐलान करना ,,इसके फोटु सार्वजनिक करना एक ज़िद एक विवाद पैदा करने की वजह है ,,,अरे गांय को माता का दर्जा दिलवाना उनका मक़सद नहीं सिर्फ सियासत करना उनका मक़सद है ,,वोह तो देश ,,धर्म ,,समाज ,,जाती ,,,गांय के दोषी है ही सही लेकिन दोस्तों हम जो लोग बीफ खाएंगे का नारा दे रहे है यह ठीक नहीं है वोह शैतान है तो हमे शैतानी से बचना चाहिए वोह स्वार्थो में राष्ट्रविरोधी और जानवर अगर बने है तो हमे जानवर नहीं बनना है ,,हमे इस देश को उनसे आज़ाद कराना है ,,हमे इस देश में सुक्ख शानति क़ायम करना है ,,सभी की भावनाओ का आदर सम्मान हो ,,भावनाओ जज़्बातों के साथ खेलने वाले को कठोर सज़ा मिले ऐसा क़ानून बनाए हम उसके पक्षधर है अगर हमारे रास्ते साफ़ होंगे ,,हमारी नियत साफ़ होगी ,,हमारे तरीकों में विनम्रता होगी तो जनाब जो लोग हिंसा भड़का रहे है ,,जो लोग बेवजह मुद्दे बना कर सियासत से जुड़े लोगों से रूपये लेकर माहोल खराब कर रहे है कल वोह लोग भी सच सामने आने पर आपके साथ खड़े होंगे और आपके सपने ,,भारत के नवनिर्माण के सपने को साकार करने में मददगार होंगे ,,ज़रा सब्र कीजिये खुदा के घर ,,,भगवान के घर देर है अंधेर नहीं ,,,,,,अंधेर नहीं ,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...