हमें चाहने वाले मित्र

16 सितंबर 2015

NDA को झटका: नीतीश से मिले BJP के दो MLA, LJP नेता ने दिया इस्‍तीफा

मंगलवार को पटना में भाजपा के एक नेता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पोस्टर को साक्षात भगवान मान लिया। प्रणाम किया और हाजिर-नाजिर मानते हुए टिकट के लिए अपना बायोडाटा पार्टी ऑफिस में जमा किया।
मंगलवार को पटना में भाजपा के एक नेता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पोस्टर को साक्षात भगवान मान लिया। प्रणाम किया और हाजिर-नाजिर मानते हुए टिकट के लिए अपना बायोडाटा पार्टी ऑफिस में जमा किया।
नई दिल्ली. बिहार चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के कैंडिडेट्स की पहली लिस्ट आते ही एनडीए को झटका लगा है। टिकट नहीं मिलने से नाराज भाजपा के दो विधायकों ने बगावती रुख अपना लिया और सीएम नीतीश कुमार से मुलाकात भी की। उधर, सीट बंटवारे से नाराज एनडीए की सहयोगी एलजेपी (रामविलास पासवान की पार्टी) के एक सांसद ने पार्टी के पदों से इस्‍तीफा दे दिया।
टिकट नहीं मिलने से नाराज पीरपैंती के भाजपा विधायक अमन कुमार और नाथनगर के एमएलए अजय मंडल ने नीतीश कुमार से मुलाकात की। बुधवार को दोनों नीतीश कुमार के घर जाकर मिले। बताया जा रहा है कि वे जेडीयू में जा सकते हैं। अमन कुमार ने कहा कि शाहनवाज हुसैन ने उन्‍हें टिकट नहीं मिलने दिया।
एलजेपी सांसद का पार्टी के पदों से इस्‍तीफा
एलजेपी के लोकसभा सदस्‍य रामकिशोर सिंह ने पार्टी के महासचिव, मुख्‍य सचेतक और राजस्‍थान प्रभारी के पदों से इस्‍तीफा दे दिया। बताया जा रहा है कि वह बिहार में सीटों के बंटवारे को लेकर लिए गए फैसेले में खुद को नजरअंदाज किए जाने से नारज थे। 243 में से 40 सीटें मिलने से एलजेपी के कई सीनियर लीडर नाराज हैं।
बिहार विधानसभा चुनावः बुधवार के कुछ और अपडेट्स...
* बीजेपी प्रेसिडेंट अमित शाह से मिले जीतन राम मांझी।
* बिहार चुनाव के दौरान पीएम के रेडियो प्रोग्राम 'मन की बात' पर महागठबंधन ने रोक लगाने की मांग की। आरजेडी-जेडीयू और कांग्रेस के नेता इस मांग को लेकर इलेक्शन कमीशन गए। लेकिन, चुनाव आयोग का कहना है कि जब तक 'मन की बात' से मॉडल कोड ऑफ कंडक्‍ट का उल्‍लंघन नहीं होता, तब तक इसे बैन नहीं किया जा सकता। (
* सीट और टिकट बंटवारे को लेकर विवाद की खबरों को बीजेपी ने किया खारिज। बीजेपी प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने कहा, "आरएलएसपी सीट बंटवारे से नाखुश नहीं है। कोई भी नाखुश नहीं है।"
मंगलवार को आई थी लिस्‍ट
बता दें कि मंगलवार की रात बीजेपी की पहली लिस्ट आई थी। लिस्ट में 43 लोगों के नाम हैं। इनमें पांच विधायकों का टिकट काट दिया गया है।
किन विधायकों को नहीं मिला टिकट?
तेघड़ा से ललन कुमार, कटोरिया से सोनेलाल हेम्ब्रम, रजौली से कन्हैया रजवार, पीरपैंती से अमन कुमार और गुरुआ से सुरेन्द्र प्रसाद सिन्हा। इनमें कुछ से विवाद जुड़े हैं।
नए जिनको मिला टिकट
सरायरंजन से रंजीत निर्गुणी, मटिहानी से सर्वेश कुमार सिंह, परबत्ता से रामानुज चौधरी, गोपालपुर से अनिल यादव, बेलहर से मनोज यादव, मुंगेर से प्रणव कुमार यादव, झाझा से डॉ. रवींद्र यादव, दिनारा से राजेन्द्र सिंह, गोह से मनोज शर्मा, रामगढ़ से अशोक सिंह और काराकाट से राजेश्वर राज टिकट नहीं पाने वालों में शामिल हैं।
एनडीए में क्यों है विवाद?
* लोजपा पार्लियामेंट्री बोर्ड के प्रेसिडेंट चिराग पासवान जमुई की सीट को लेकर नाराज हैं। उनके संसदीय क्षेत्र जमुई के तहत आनेवाली सीटों पर भी उनका जोर नहीं चल रहा है।
* तारापुर पर हम (मांझी की पार्टी) के प्रदेश प्रेसिडेंट शकुनी चौधरी का दावा है। जमुई और चकाई की सीटों पर पूर्व मंत्री एवं हम के सीनियर लीडर नरेंद्र सिंह के बेटों (अजय प्रताप एवं सुमित सिंह) का दावा। वे फिलहाल यहां के सीटिंग विधायक हैं। बीजेपी अजय के लिए जमुई सीट अपने खाते में रख रही है।

* मांझी और महाचंद्र प्रसाद सिंह पसंद वाली सीटों पर बीजेपी की दावेदारी और इसे न छोड़ने के तेवर पर नाराज हो गए।

* दिल्ली में मीटिंग में हम की पसंद वाली पिपरा, अमरपुर, धोरैया, झाझा, जगदीशपुर, कुढ़नी, नवीनगर सहित एक दर्जन सीटों पर बीजेपी टस से मस नहीं हो रही है।
* झाझा में हम अर्जुन मंडल को लड़ाना चाहती है, जबकि बीजेपी ने वहां पूर्व विधायक डॉ.रवीन्द्र यादव को कैंडिडेट बनाया है। पूर्व सांसद लवली आनंद के लिए मांझी नवीनगर सीट मांग रहे थे, जबकि बीजेपी ने वहां से गोपाल नारायण सिंह को अपना कैंडिडेट बना दिया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...