हमें चाहने वाले मित्र

08 सितंबर 2015

अफेयर में आड़े आता था भाई, बहन ने खेल के बहाने आंखों पर पट्टी बांधी, रेता गला

मौका ए वारदात का मुआयना करती पुलिस।
मौका ए वारदात का मुआयना करती पुलिस।
अमरेली (गुजरात)। गुजरात के अमरेली शहर में एक नाबालिग लड़की पर भाई की गला रेतकर हत्या करने का आरोप लगा है। पुलिस के मुताबिक, उसने कबूला है कि भाई उसके लव अफेयर में आड़े आ रहा था। उसने लुकाछिपी खेलने के बहाने भाई की आंखों पर पट्टी बांधी, दुपट्टे से हाथ बांधा और गला काट डाला।
बदहवास घर से निकली और चिल्‍लाई कि किसी ने भाई का मर्डर कर दिया
चितलरोड इलाके में रहने वाले पेशे से वकील रमेशभाई अरजणभाई का 23 साल का बेटा सिद्धार्थ और 17 साल की बेटी नितिका (बदला हुआ नाम) सोमवार शाम घर में अकेले थे। अचानक निकिता दौड़ते हुए घर से बाहर निकली और रोते-चिल्लाते पड़ोसियों को बताया कि किसी ने भाई का मर्डर कर दिया। पड़ोसी घर में दाखिल हुए तो सिद्धार्थ की खून से लथपथ लाश मिली।
ऐसे खुली बात
पुलिस पहुंची तो मौका-ए-वारदात को देख शक हुआ कि आखिर घर में किसी को पता चले बिना सिद्धार्थ की इतनी सफाई से हत्या कैसे की जा सकती है। पुलिस को आसपास के लोगों से पूछताछ करने पर पता चला कि लड़की का किसी से अफेयर है और इस वजह से उसका अपने भाई से अक्सर झगड़ा होता रहता था। इसके बाद, पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ की और लड़की ने अपना जुर्म कबूल कर लिया।
क्राइम पेट्रोल देखकर बनाया प्लान
निकिता ने पुलिस को बताया कि उसने कुछ दिन पहले टीवी पर आने वाला प्रोग्राम क्राइम पेट्रोल देखा था। उसी से उसे मर्डर का आइडिया आया था। उस एपिसोड में दिखाया गया था कि एक महिला पति की हत्या करने के लिए उसे सरप्राइज देने के बहाने उसकी आंखों पर पट्टी बांध देती है और फिर उसके दोनों हाथ भी। इसके बाद महिला पति को कुर्सी पर बैठा देती है और पीछे से उसका गला रेत देती है।
खून के दाग मिटाने के लिए कपड़े भी धोए
निकिता ने माना कि गला काटने के बाद सिद्धार्थ जैसे ही जमीन पर गिरा तो उसने उसके गले पर चाकू से एक के बाद कई वार किए। हत्या के बाद उसके कपड़ों पर खून के धब्बे लग गए थे। इसीलिए उसने तुरंत अपने कपड़े धोए और सूखने डाल दिए। इसके बाद कपड़े चेंज कर पड़ोसियों को बुलाने घर से बाहर आई।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...