हमें चाहने वाले मित्र

20 जुलाई 2015

पूर्व MLA के पोते की मौत: कनपटी पर रिवॉल्वर लगाकर ले रहा था SELFIE, दबा ट्रिगर

FILE PHOTO: मृतक राहुल।
FILE PHOTO: मृतक राहुल।
भोपाल. कांग्रेस के पूर्व MLA गोविंद सिंह राजपूत के पोते की गोली लगने से मौत हो गई। बताया जा रहा है कि मृतक राहुल लाइसेंसी रिवॉल्वर को कनपटी पर लगाकर सेल्फी लेने की कोशिश कर रहा था, तभी ट्रिगर दब गया। राहुल की फैमिली और शुरुआती पोस्टमार्टम रिपोर्ट इसी ओर इशारा कर रहे हैं। हालांकि, अभी इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है।
क्या है मामला?
राहुल उर्फ सूर्य प्रताप सिंह राजपूत (20) अपने चाचा की लाइसेंसी रिवॉल्वर के साथ सेल्फी लेना चाहता था, तभी गोली चल गई और सिर में जा लगी। राहुल के परिजन इसी बात को दोहरा रहे हैं। वहीं, पुलिस के अनुसार एक गोली राहुल के सिर में और एक अलमारी में मिली है। दोनों गोली करीब 3 सेकेंड के अंतर पर चली है। वह इसे एक्सीडेंटल और सुसाइडल केस मानकर इन्वेस्टीगेशन कर रही है।
राहुल की फैमिली ने बताया कि वह पढ़ने-लिखने में होशियार था और उसने इस बार एमपी पीईटी का एंट्रेस क्लियर किया था। इसी सिलसिले में उसे इंदौर के सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन लेना था। कॉलेज की काउंसिलिंग में शामिल होने के लिए वह सागर से अपने चाचा मूरत सिंह उर्फ पप्पू के साथ निकला था। उनके चाचा का भोपाल की सीआई कॉलोनी में एक फ्लैट है।
काउंसलिंग में शामिल होने के लिए वह अपने चाचा मूरत सिंह, उनके दोस्त पुष्पेंद्र और ड्राइवर जावेद के साथ इनोवा गाड़ी से रविवार रात 9.30 भोपाल पहुंचा था। वह अपने चाचा के साथ सागर से भोपाल होते हुए इंदौर जा रहा था। लेकिन, तेज बारिश के चलते वे सभी भोपाल के माता मंदिर स्थित सीआई होम्स के फ्लैट नंबर डी-404 में रुके थे।
ऐसा लगा की सिलेंडर फट गया
सोमवार सुबह राहुल काउंसिलिंग के लिए तैयार हो रहा था। इस दौरान राहुल के कहने पर उसका ड्राइवर किचन में पूड़ी और आलू की सब्जी बना रहा था। राहुल के चाचा नहा रहे थे और राहुल टीवी देख रहा था। इतने में अचानक गोली की आवाज हुई। राहुल के चाचा को लगा कि सिलेंडर फट गया है। जब राहुल के चाचा और उनके ड्राइवर ड्राइंग रूम में पहुंचे तो देखा कि राहुल जमीन पर पड़ा था। उस समय उसकी सांसें चल रही थीं। दोनों राहुल को हजेला अस्पताल ले गए, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
फूट-फूटकर रो पड़े पूर्व विधायक
पोते की मौत की खबर सुनकर गोविंद सिंह सागर से भोपाल आए। अस्पताल में वह बैचेनी के साथ टहल रहे थे। जैसे ही उन्हें अपने पोते की बॉडी दिखाई, वह फूट-फूटकर रो उठे। जवान पोते के शव को ज्यादा देर देख नहीं सके और बाहर आ गए।
फैमिली की है सागर में अच्छी पहचान
राहुल के दादा गोविंद सिंह राजपूत सागर के पूर्व कांग्रेसी विधायक हैं। इस बार उन्होंने लोकसभा चुनाव लड़ा था, लेकिन हार गए थे। राहुल के पिता रंजीत सिंह गोविंद सिंह राजपूत के भाई गुलाब सिंह के बेटे हैं। सागर में इस फैमिली की सियासी तौर पर अच्छी पहचान है। राहुल का एक छोटा भाई और एक बहन है। राहुल के पिता रंजीत सिंह सागर में ठेकेदारी करते हैं।
एक्सीडेंटल और सुसाइडल केस मानकर चल रहे हैं
इस केस को हम अभी एक्सीडेंटल और सुसाइडल मानकर चल रहे हैं। गोली कनपटी पर रखकर चली है। उसके बाएं हाथ पर गनपाउडर मिला है। रिवाल्वर में 6 गोली थी जिसमें से 2 चल गई थी, 4 बाकी थी।
मनीषराज भदौरिया,टीआई, टीटीनगर थाना

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...