हमें चाहने वाले मित्र

06 जुलाई 2015

अजीब विडंबना है इस देश की

अजीब विडंबना है इस देश की भी हमारे माननीय प्रधानमंत्री जी जो बडे - बडे भाषण देते थे व्य्वस्था पर , काले धन पर , बेरोजगार युवाओं की स्थिति पर, आतंकवाद पर , भ्रष्टाचार पर लेकिन अब चुप क्यो है , भुतपुर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को मौनि बाबा कहकर संबोधित करने वाले वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज खुद स्वामि मौनेन्दर क्यो बन गए , आम आदमी की परेशानी बने ये तमाम मुद्दों पर देश की जनता के सामने बडे- बडे वादे कर के सता तो हासिल कर ली लेकिन उनकों दूर करने पर मोदी जी चुप्पी साधे हुए है तो अब हमारी भी नैतिक जिम्मेदारी है जो भी संगठन या पार्टी हमारी ये लडाई लड रही है उसका साथ दे | हर-हर मोदी घर-घर मोदी का नारा देकर देश की जनता ने घर-घर मोदी जी को इस देश की सता देकर पहुंचा दिया लेकिन मोदी जी आप भी मोदी जी काले धन से मिलना वाला पैसा, रोजगार , भ्रष्टाचार रहित देश , सुरक्षित समाज घर-घर तक पहुंचाए | वन रैंक - वन पैंशन का नारा दिया था उसको पूरा करने की बजाय आप मंत्रियों और सांसदो का भता सौ फिसदी बढा रहे हो , देश के युवाओं को 6000 और 9000 बेरोजगारी भता देने की बजाय विदेशों को करोडो रूपये दान मे दे रहे हो , आप के 4-4 मंत्री भ्रष्टाचार में दोषी पाए गए उनकों निलंबित करने की बजाए चुप्पी साधे हुए हो | अपनी बातों को चुनावी जुमले बोल कर देश के मतदान का आपने जो मजाक बनाया है तो वो दिन दूर नही जब आपकी पार्टी भाजपा भी एक जुमला बन कर रह जाएगी

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...