हमें चाहने वाले मित्र

24 नवंबर 2020

संभाग में पहली बार,फेरों से पहले,दूल्हा-दुल्हन लेंगे अंगदान संकल्प

 

संभाग में पहली बार,फेरों से पहले,दूल्हा-दुल्हन लेंगे अंगदान संकल्प
विवाह समारोह में दूल्हे-दुल्हन सहित परिवार के 50 सदस्य लेंगे नेत्रदान संकल्प
विवाह समारोह में आयोजित होगा,नेत्रदान-अंगदान-देहदान संकल्प शिविर
शाइन इंडिया फाउंडेशन विगत 9 वर्षों से नैत्रदान अंगदान व देहदान जागरूकता,अंधता निवारण हेतू व दृष्टीहीनों के अधिकारों के लिये सम्पूर्ण संभाग में काम कर रही है । संस्था के प्रयासों से इस दौरान 496 जोड़ी से अधिक नैत्रदान लिये गये है । नैत्रदान की इस मुहीम को जन -अभियान बनाने के लिए संभाग के 1000 से ज्यादा ज्योति-मित्रों की टीम के अलावा नेत्रदानी परिवारों का अहम रोल है । एक नेत्रदानी परिवार अपने आसपास के लोगों के साथ-साथ,अपने समाज के लोगों और रिश्तेदारों में नेत्रदान के बारे में अच्छे से जागरूक करता है ।
आज से 5 वर्ष पूर्व,नागदी बाज़ार निवासी विनोद कुमार जैन का 14 अक्टूबर 15 को निधन हुआ था । उस समय उनके बड़े भाई देवेंद्र जैन के प्रयास से विनोद जैन का नेत्रदान सम्पन्न हुआ था । नेत्रदान की पूरी प्रक्रिया को विनोद जी की दोनों बेटियों शिल्पा और निधि ने भी अच्छे से देखा था । तिये की बैठक में,समाज के 1000 लोगों के बीच दोनों बेटियों का शाइन इंडिया फाउंडेशन की ओर से सम्मान किया गया था।
कल शिल्पा की शादी,गुरुनानक कॉलोनी, बूँदी निवासी शुभम जैन से देवपुरा, बूँदी में ही ,सम्पन्न होने जा रही है । शिल्पा ने शुभम, से शादी तय होने पर ही कहा था कि,नेत्रदान के प्रति अभी लोगों में जागरूकता पूरी तरह से नहीं है,बहुत समझाने के बाद जाकर सिर्फ कुछ लोगों को ही यह बात समझ आयी है । इसलिए हम अपनी शादी समारोह में स्वयं के नेत्रदान संकल्प पत्र भरने के साथ ,नेत्रदान-अंगदान-देहदान की जागरूकता को बढ़ाने के उद्देश्य से जागरूकता शिविर लगायेंगे ।
शुभम ने अपना यह निर्णय,जब अपने माता-पिता और क़रीबी रिश्तेदारों को बताया तो,सभी ने शौर्य और शिल्पा के इस नेक कार्य की बहुत सराहना की,सभी ने उनको यह विश्वास दिलाया कि,जितने भी मेहमान उस समय विवाह में आयेंगे, सभी को जागरूक करके नेत्रदान का संकल्प दिलवाने का पूरा प्रयास करेंगे ।
शाइन इंडिया फाउंडेशन के सदस्यों का कहना है कि,हाड़ौती में इस तरह का अनूठा आयोजन पहली बार किया जा रहा है,शिल्पा,अपने पिता के नेत्रदान के बाद से सक्रिय रूप से जुड़कर अभियान को गति दे रही है । उनका यह प्रयास, युवा वर्ग नेत्रदान के प्रति प्रेरणा देगा । शिल्पा का कहना है कि,यदि आज यह कोरोना का माहौल न होता तो,उनके इस तरह के प्रयासों से एक ही दिन में, ज्यादा से ज्यादा लोगों को नेत्रदान के प्रति जागरूक किया जा सकता था, परन्तु वर्तमान माहौल को देखते हुए, कम ही सही पर, विवाह में आने वाले हर व्यक्ति को नेत्रदान-अंगदान-देहदान के प्रति जागरूक करने का हर संभव प्रयास किया जा सकेगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...