हमें चाहने वाले मित्र

16 अक्तूबर 2020

कोटा सहित ,जयपुर , जोधपुर के नगर निगम , के आगामी चुनावों में ,, कोटा के विधायक ,केबिनेट मंत्री शांति कुमार धारीवाल के शहरी विकास के ऐतिहासिक विज़न ,ऐतिहासिक कार्यों की वजह से कांग्रेस का पड़ला भारी ,है

 कोटा सहित ,जयपुर , जोधपुर के नगर  निगम ,  के आगामी चुनावों में ,,  कोटा के विधायक ,केबिनेट मंत्री शांति कुमार धारीवाल के शहरी विकास के ऐतिहासिक विज़न ,ऐतिहासिक कार्यों की वजह से कांग्रेस का पड़ला भारी ,है , ,जयपुर में मेट्रो की शुरुआत , ,मेट्रो का विस्तार ,,जोधपुर ,कोटा ,जयपुर में ,,बेहिसाब विकास कार्य ,सोंदर्यकरण , सिर्फ कांग्रेस की कढ़ी से कढ़ी जोड़कर ,, केबिनेट मंत्री शांति कुमार धारीवाल के समन्वय से ही स्थानीय निकायों द्वारा किया जाना सम्भव है ,यह कड़वा सच ,कोटा , जोधपुर ,जयपुर का समझदार ,पढ़ा लिखा मतदाता खूब जान गया है ,,इन शहरी क्षेत्रों का मतदाता ,अपने अपने निगम क्षेत्र में विकास चाहता है ,इसलिए भविष्य में कोई भी मुद्दा विपक्ष अगर उठाये , भड़काए तो कोई सुनवाई नहीं ,क्योंकि इन सब को पहले कढ़ी से कढ़ी जोड़कर ,इन क्षेत्रों की जनता आज़मा चुकी है ,खुद को ठगा महसूस कर चुकी है ,, कोटा नगर निगम की ही बात लें ,, यहाँ कोटा उत्तर ,  कोटा दक्षिण नगर निगम क्षेत्रों में ,, विकास कार्यों का इतिहास बना है ,,, कोटा शहरी क्षेत्र में 2000 करोड़ रूपये के विकास कार्य है ,, कोटा का सोंदर्यकरण चरम सीमा पर है , विकास की ढेरों योजनाए ,, पूरी होने जा रही है ,, कोटा का शानती कुमार धारीवाल ने पहले भी काया कल्प किया और अब फिर अपने ही पुराने विकास ,सोंदर्यकरण के ऐतिहासिक रिकॉर्ड को , खुद ही कोटा  ऐतिहासिक ,विकास ,सोंदर्यकरण कार्य करवाकर तोड़ने जा रहे है ,हैं ,, कोटा शहर को , कोटा शहर वासियों को विकास योजनाए ,ट्रेफ्रिक दिक़्क़तों से छुटकारा , खूबसूरत पर्यटन स्थलों की सौगात ,पर्यटन के साथ रोज़गारोन्मुखी विकास , ,, कोटा शहर का बच्चा बच्चा जानता है ,खुद प्रतिपक्ष के लोग भी ,, अंदरूनी मंद से , सराहना करते है , बेसाख्ता आवाक होकर ,इन विकास योजनाओं की क्रियान्विति तय समय में पूरी होते देख , अंदर ही अंदर सोचते है , हमारी सरकार पांच साल ,,कोटा के विकास मामले में बेकार रही है , खुद  अपनी ही  सरकार के कार्यकाल ,, महापोर काल को कोसते नज़र आते है ,कोटा स्मार्ट सीटी की सूचि में आने के बाद भी पीछे ही रहा ,जो अब शांति धारीवाल के प्रबंधन से , पिछड़ी सूचि से अगड़ी सूचि में आया है ,,, कोरोना आपदा में ,, केबिनेट मंत्री शांति धारीवाल के नेतृत्व में ,, कोटा के कांग्रेस कार्यकर्ता , पदाधिकारियों ने ,, आम लोगो के दुःख दर्द का साथी बनकर ,, जो मदद कार्य किये है उसे सभी कोटा शहरवासियों ने देखा भी है , सराहां भी है , लगातार कोटा अस्पताल , कोटा के मरीज़ों की ज़रूरतों की व्यवस्था पर नज़र , कोटा में जांचे शुरू  ,,कोटा में विशेषज्ञों की नियुक्ति ,,लेबोरेट्री सहित ,सभी सुविधाएं जयपुर से तत्काल , ऑक्सीजन की आपूर्ति , अस्पतालों का अधिग्रहण ,, जागृति कार्यक्रम , बचाव कार्य ,, उत्साहवर्धन , प्लाज़्मा डोनेशन के प्रति ऐतिहासिक जागरूकता ,शांति धारीवाल , ,के नेतृत्व , उनके कार्यकर्ताओं की स्थानीय लोगों के लिए जीवनदायनी उपलब्धि है ,, ,,शांति धारीवाल के केबिनेट मंत्री कार्यकाल में  शहरी विकास से , फिर यहाँ प्रॉपर्टी व्यापार की उम्मीदें तेज़ हुई है ,, रोज़गार की योजनाओं को पंख लगे है ,, ज़रूरी समस्याओं का तत्काल समाधान हुआ है ,,,खुद शान्ति कुमार धारीवाल ने हर वार्ड की समस्याओं को जाना है ,देखा है ,वहां कैसे विकास हों ,स्थानिय लोगों को , तात्कालिक परेशानियों से कैसे छुटकारा मिले इसके लिए तत्काल निर्देश देकर , कार्य करवाए है ,,,,  इधर कोटा की जनता इन सभी कामकाजों से अभिभूत है ,,भविष्य में और विकास का स्थानीय जनता को भरोसा है , इसलिए कोटा नगर निगम उत्तर हो या फिर दक्षिण हर तरफ , कढ़ी से कढ़ी जोड़ने की कोशिशों में , वोटर्स का रूहझान सामने आया है , भाजपा इसी सर्वेक्षण की रिपोर्टों के बाद बोखलाहट में है ,,वोह खुद चुनाव लड़ने के लिए प्रत्याक्षी चाहे तलाश रही हो ,लेकिन इससे ज़्यादा भाजपा का प्रबंधन , कांग्रेस के वोट काटू , प्रत्याक्षियों के जुगाड़ में है ,भाजपा जुगत लगा रही है ,के हर वार्ड में कांग्रेस विचारधारा के वोटर्स ,में से किसी को उकसा कर निर्दलीय या किसी भी पार्टी से  प्रत्याक्षी बनाकर , भाजपा की हारी हुई बाज़ी को जीत में बदलने की कोशिश करे , लेकिन भाजपा की यह चाल इस बार , कामयाब नहीं हो पा रही है ,, बगावत के बाद भी , कांग्रेस एक जुट है , कांग्रेस के वोटर निजी स्वार्थ को छोड़कर कोटा का विकास ,अपने वार्डों का कढ़ी से कढ़ी जोड़कर विकास चाहते है ,, कोटा के वोटर्स के पता है , के कोटा के वार्डों में ,, केबिनेट मंत्री शान्तिकुमार धारीवाल के नेतृत्व में , सामान्य बजट में भी बेहिसाब विकास कार्य होंगे , लेकिन इसके अलावा शांति कुमार धारीवाल की , बोर्ड बनने के बाद हर वार्ड में तीन करोड़ के अतिरिक्त विकास कार्यों की जो स्थानीय जनता तस्वीर देख रही है ,उससे भी , वोटर्स का आकर्षण कांग्रेस बोर्ड की तरह है ,, कोटा उत्तर में सत्तर वार्ड हर वार्ड मे तीन करोड़ के अतिरिक्त विकास कार्य यानी ,सत्तर वार्डों में 210 करोड़ के अतिरिक्त विकास कार्य , कोटा दक्षिण में , अस्सी वार्ड हर वार्ड में तीन करोड़ के  अतिरिक्त कार्य , यानी 240 करोड़ के विकास कार्य ,इस तरह से कोटा उत्तर ,कोटा दक्षिण के 150 शहरी वार्डों में 450 करोड़ के अतिरिक्त विकास कार्य कोटा की जनता ,वार्डों के वोटर्स को दिख रहे है ,और आज के दोर में कोटा का हर वोटर ,कोटा का विकास चाहता ,है सोंदर्यकरण चाहता है ,, निर्माण कार्य चाहता है ,,विकास वीज़न चाहता है ,, रोज़गारोन्मुखी योजनाए चाहता है ,,कियोस्क आवंटन व्यवस्स्था की तरह , रोज़गारोन्मुखी पुनर्वास योजनाए चाहता है ,, थड़ी होल्डर्स ,नियमित फेरीवालों के लिए ,विशिष्ठ योजनाए चाहता है ,, और यह सब सिर्फ सिर्फ ,केबिनेट मंत्री शान्तिकुमार धारीवाल के विकास विज़न ,,व्यवस्थित प्रबंधन , बोल्डली डिसीज़न ,, के साथ , राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में ही सम्भव है , जो इन सभी योजनाओं के क्रियान्वन के लिए ,, शांति धारीवाल की हर योजना पर भरोसा जता कर ,तत्काल ह्री झंडी दिखाते है ,, अख्तर खान

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...