हमें चाहने वाले मित्र

24 सितंबर 2020

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा , संगठन को मज़बूत कर ,,प्रत्येक बूथ , भाग संख्या ,मतदाताओ तक पहुंचाने के लिए एक्शन प्लान में है ,

 राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा , संगठन को मज़बूत कर ,,प्रत्येक बूथ , भाग संख्या ,मतदाताओ तक पहुंचाने के लिए एक्शन प्लान में है ,उन्होंने आगामी जनवरी माह में निर्वाचन आयोग द्वारा ,निर्वाचन नामावलियों का फोटोयुक्त पुननिरिक्षण कार्यक्रम में संगठन के ज़िम्मेदारों को सावचेत करते हुए ,,बी एल ऐ नियुक्त कर शीघ्र ही प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में सूचि भेजने के निर्देश दिए है ,,,, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा ने आज 23 सितम्बर को जारी सो नंबर के परिपत्र में , प्रदेश के सभी निवर्तमान जिला अध्यक्षों ,विधायकों ,विधानसभा प्रत्याक्षी रहे नेताओं को उनकी अपनी विधानसभा क्षेत्रों की बी एल ऐ सूचि शीघ्र तय्यार कर संगठन कार्यालय जयपुर भेजने के निर्देश दिए है ,इस परिपत्र की प्रति सभी प्रदेश कोंग्रेस कमेटी सदस्यों सहित पूर्व पदाधिकारियो , अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी सदस्यों को भी भेजी गयी है ,, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डोटासरा ने ,निर्देशित करते हुए कहा के आगामी 1 जनवरी 2021 तक फोटोयुक्त मतदाता अहर्ता सूचि पुननिरिक्षण कार्यक्रम शुरू हो रहा है ,जो 16 नवम्बर से शुरू होगा , इस कार्यक्रम में ,बूथ लेवल के पार्टी कार्यर्कताओं सहित मान्यता प्राप्त राजनितिक दल के बूथ लेवल के कार्यर्कताओं से भी मदद की अपेक्षा निर्वाचन आयोग ने की है ,, प्रदेश अध्यक्ष डोटासरा ने निर्वाचन आयोग के निर्देशों का हवाला देते हुए कहा है अभी संगठन में बूथ लेवल के बी एल ऐ नियुक्त नहीं हुए है ,इस संबंध में निर्वाचन आयोग को सूचि भेजना है ,, प्रदेश अध्यक्ष डोटासरा ने ,,गंभीरता से निर्देशित करते हुए कहा है के तत्काल सभी 200 विधानसभा के बी एल ऐ की सूचि तैयार कर ,प्रदेश संगठन कार्यालय को भेजें ,ताकि वोह सूचि निर्वाचन आयोग को देकर ,उनसे हर विधासनभा क्षेत्र में ,, बूथ स्तर पर सहयोग लिया जा सके ,, डोटासरा के इस क़दम को संगठन और सत्ता के समन्वय की शुरुआत का पहला महत्वपूर्ण क़दम माना जा रहा है ,क्योंकि अब तक बूथ कार्यर्कताओं ,, बी एल ऐ की सूचि सभी अपने स्तर पर प्रत्याक्षी अपनी इच्छानुसार अपने कार्यर्कताओं कीतै तय्यार कर जेबी व्यवस्था रखते थे ,, जिसकी सूचि जिला निर्वाचन अधिकारी ,या निर्वाचन अधिकारी के पास नहीं होने से ,,अधिकृत रूप से सरकार का निर्वाचन विभाग उन्हें सुचिया तय्यार करते वक़्त अधिकृत व्यवस्था में शामिल नहीं कर पाता था ,,कई ज़िलों में ,कई विधानसभा क्षेत्रों में ,,संगठन और प्रत्याक्षी जेबी कार्यर्कताओं में समन्वय नहीं होने से विरोधाभास स्थिति बनी रहती थी ,,कोटा सहित पुरे राजस्थान में पिछले कार्यकाल में हर जगह बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन तो हुए लेकिन बूथ कार्यर्कताओं की सूचि प्रकाशित नहीं होने से व्यवस्थित कार्यक्रम नहीं हो सके , प्रदेश अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा का यह निर्देश ,जिला अध्यक्षों पर विधासनभा प्रत्याक्षियों ,विधायकों में समन्वय स्थापित कर ,, संगठन सर्वोपरि व्यवस्था के तहत ,, बूथ लेवल के कार्यर्कताओं को नामज़द नियुक्ति के साथ , संगठन के कार्यक्रमों में हिस्सेदारी की शुरुआत है ,ऐसे संगठन में व्यवस्थाओं के साथ ,भाग संख्या ,बूथ संख्या सहित अलग अलग क्षेत्रों में समन्वय के साथ अब कार्य की शुरआत हो सकेगी ,,, अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...