हमें चाहने वाले मित्र

10 सितंबर 2020

कोटा के कोचिंग हब को , कोरोना की नज़र लग गयी है

 कोटा के कोचिंग हब को ,  कोरोना की नज़र लग गयी है , लेकिन अभी शान्तिकुमार धारीवाल के  प्रयासों से यहाँ ,,पर्यटन ,फिल्म शूटिंग ,, वन्य जीव प्रेमियों ,डॉक्टर सुधीर गुप्ता ,, पत्रकारों के हौसले से कोटा फिर उठने की तैयारी में है ,लेकिन इसके लिए मुकंदरा टाइगर्स हिल्स के लिए ,,अभी टाइगर और टाइग्रेस की ज़रूरत है ,,
प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य एडवोकेट अख्तर खान अकेला ने ,कोटा के मुकंदरा में जो अलग अलग हादसों में , वन्य जीव प्रेमियों , पर्यटकों के आकर्षक का केंद्र बनते जा रहे बाघ , बाघिन ,शावकों की मोत के बाद ,, अब एक  गुमशुदा बाघिन जो अथक प्रयासों से जंगल में फिर से मिल गयी है ,, उसके अलावा ,इस कोटा की मुकंदरा को आकर्षक बनाने के लिए प्रशिक्षित वन अधिकारीयों का स्टाफ ,,सुरक्षात्मक उपकरण उपलब्ध कराने और ,, मुकंदरा अभ्यारण्य में कम से कम ,, बाघ बाघिन के दो जोड़ो को शिफ्ट करने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ,, वन मंत्री को पत्र लिखा है ,, अख्तर खान अकेला ने केंद्रीय वन मंत्री ,,कोटा सांसद लोकसभा अध्यक्ष , प्रधानमंत्री आदरणीय नरेंद्र मोदी को भी इस मामले में सहयोग कर कोटा मुकंदरा टाइगर अभ्यारण्य को सुरक्षित , व्यवस्थित  , और फिर से बाघ बाघिन का आकर्षक केंद्र बनाने के लिए सकारात्मक व्यवस्थाएं देने का आह्वान किया है ,, सभी जानते है ,,देश का सबसे प्रसिद्ध ,विकसित कोटा शहर इन दिनों कोचिंग बंद हो जाने से , आर्थिक संकट के दौर से गुज़र रहा है , कोचिंग संचालक यूँ तो , ऑन लाइन , व्यवस्था में लगे है , लेकिन फिर भी उनकी कमाई पात्र दो से पांच प्रतिशत रह गयी है ,इसी तरह कोटा के सभी होस्टल्स ,,  पेइंग गेस्ट हाउस की स्थिति ,दयनीय है ,,हॉस्टल मालिकों के पास बैंकों की किस्ते देने के लिए रूपये नहीं है , जबकि बिजली नल सहित रोज़ मर्रा के खर्चे यथावत चल रहे है , ऐसे में कोचिंग को फिर से वापस लौटने में अभी तो न जाने कितना समय लगेगा , लेकिन स्वायत शासन मंत्री शान्तिकुमार धारीवाल के कोटा को पर्यटन दृष्टि से राजस्थान का ही नहीं देश का मुख्य आकर्षक केंद्र बनाने की कोशिशों से कोटा पर्यटन हब के रूप  में अपनी पहचान बना रहा है ,यहाँ ,,पर्यटन हब होने ,,  प्राकृतिक सौंदर्य व्यवस्था होने से ,, फिल्मों की शूटिंग के लिए कोटा लोगों  के लिए एक प्राथमिकता बनता जा रहा है ,ऐसे में , फिल्म इंड्रस्ट्रीज  भी पर्यटन हब होने से कोटा को फिर से पुनर्जीवित करने की स्थिति में है , लेकिन इसके लिए ,कोटा सांसद , लोकसभा अध्यक्ष आदरणीय ओम बिरला साहिब को  , कोटा को हवाई सेवा से तुरतं जोड़ने के लिए अपना वायदा पूरा करने के मामले में प्राथमिकता के आधार पर तत्काल सफलतम प्रयास भी शुरू करना होंगे ,, , इधर  मुकंदरा टाइगर अभ्यरण्यः , के जो हालत पिछले दिनों हमने देखे है ,, वोह दर्दनाक है ,,,एक साथ पुरे अभ्यारण्य से बाघ , बाघिन उनकी  नस्लों का खत्म हो जाना बहुत बढ़ा धक्का है ,, लेकिन सेल्यूट  कोटा के कुछ पत्रकार साथियों को ,,,फर्स्ट इण्डिया के भंवर एस चारण ,,, भास्कर के प्रवीण जैन ,, चम्बल संदेश के नितिन भाई ,,इमरान खान , पत्रिका के रिपोर्टर्स ,, वन्य जीव प्रेमी  , डॉक्टर सुधीर गुप्ता , प्रियंक जैन ,,बनवारी यदुवंशी , सहित कई साथियों ने मिलकर ,फिर से  कोटा मुकंदरा टाइगर्स अभ्यारण्य  को  पुनर्जीवित करने के प्रयास शुरू किये है ,,, पत्रकारों ने पीछा किया ,तभी प्रशासन सक्रिय रहा , वन  अधिकारीयों को सावचेत रहना पढ़ा और , बाघिन 4 , लंगड़ाती हुई मिली ,इस बाघिन का इलाज भी अब शुरू हुआ ,, ट्रैंक्युलाइज़ेशन के बाद , कॉलर व्यवस्था से भी इसे जोड़ा ,गया  ,लेकिन यह प्रयास नाकाफी है ,,कोटा को फिर से ,मुकंदरा अभ्यारण्य को ,,  पर्यटन की दृष्टि से आकर्षक बनाने के लिए ,  कम  से कम ,,दो जोड़े ,बाघ बाघिन के चाहिए , इसके लिए राजस्थान सरकार को केंद्र सरकार से समन्वय स्थापित कर शीघ्र ही इंतिज़ाम करना होगा ,,  भविष्य में फिर से , बाघ बाघिन किसी हादसे ,संघर्ष ,या गुमशुदगी के शिकार न हो ,इसके लिए आवश्यक उपकरण ,सरक्षात्मक उपाए ,कॉलर सिस्टम , कैमरे व्यवस्थाओं को मज़बूत करना ,होगा ,,, इस मामले में अख्तर खान अकेला सदस्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने सभी ज़िम्मेदारों को पत्र लिखकर ,, कोटा में मुकंदरा अभयरण्य  , को फिर से मुकंदरा टाइगर टाइग्रेस अभ्यारण्य बनाने के लिए ,, जल्द क़दम उठाने की मांग की है ,,,,, कोटा के समाजसेवियों ,जागरूक नागरिकों, पत्रकारों को भी कोटा की आर्थिक स्थिति को फिर से पुनर्जीवित करने के लिए इन प्रयासों की तरफ सकरात्मक रुख अपनाते हुए ,,कोशिशें करना होंगी ,,, मददगार बनना होगा ,जागरूकता कार्यक्रम चलाना होगा ,ज़रूरत पढ़े तो दलगत राजनीति से अलग हठ कर कोटा के हक़ में संयुक्त सर्वदलीय संघर्ष समिति का गठन कर ,, कोटा को फिर से आर्थिक संकट से  उबारने की कोशिशों को कामयाब बनाना होगा ,,, अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...