हमें चाहने वाले मित्र

02 जुलाई 2020

में भाजपा की केंद्र सरकार के खिलाफ नहीं हूँ ,में बाबा रामदेव और उनकी व्यवसायिक कम्पनी पतंजलि के भी खिलाफ नहीं हूँ ,, लेकिन हाल ही में ,कोरोना जैसे गंभीर संकट के वक़्त ,दवा के व्यापार को लेकर ,प्रचार ,प्रसार ,झूंटे दावे ,फिर केंद्र की नानुकुर फिर राजस्थान में मुक़दमा दर्ज

में भाजपा की केंद्र सरकार के खिलाफ नहीं हूँ ,में बाबा रामदेव और  उनकी व्यवसायिक कम्पनी पतंजलि के भी खिलाफ नहीं हूँ ,, लेकिन हाल ही में ,कोरोना जैसे गंभीर संकट के वक़्त ,दवा के व्यापार को लेकर ,प्रचार ,प्रसार ,झूंटे दावे ,फिर केंद्र की नानुकुर फिर राजस्थान में मुक़दमा दर्ज ,फिर उसी दवा को थोड़े से बदलाव के बाद , कोरोना की दवा नहीं मानने के बावजूद भी व्यापार की बिक्री की इजाज़त देश के कोरोना मरीज़ों को संकट में डालने जैसा है ,,,दोस्तों सभी जानते ,है ,,खुले मंच से ,सार्वजनिक प्रेसकॉन्फ्रेंसें में जिसके फुटेज ,जिसकी रिपोर्टिंग ,,बयानात आज भी इलेक्ट्रॉनिक चेनल्स के पास है ,,, कोरोना , की कोरोनिल दवा का दावा किया गया ,प्रचार किया गया ,,, साक्ष्य के रूप में निम्स के निदेशक तोमर साथ ,रहे ,फिर जब जनहित याचिका लगी ,,आयुष मंत्रालय ने हाथ खेंच लिए ,, राजस्थान , महाराष्ट्र में फौज़दारी मुक़दमे दर्ज हुए , चमत्कारी ओषधि प्रतिषेध अधिनयम का उल्न्न्घन की शिकायतें हुई ,तब खुले रूप से एक इलेक्ट्रॉनिक चैनल पर ,निम्स के निदेशक तोमर ने ,, खुद को कोरोनिल दवा के उत्पादन ,व्यवस्थाओं से अलग कर लिया था ,,सिर्फ ट्रायल की बात कही ,थी ,अब बाबा रामदेव तो ,रामदेव है ,टी वी कार्यक्रमों के ज़रिये ,पंद्रह लाख  हर गरीब के खाते में झांसे के ज़रिये , लोकपाल क़ानून के ज़रिये ,, पेट्रोल डीज़ल की मूलयवृद्धि कम करवाने के झांसे सहित दर्जनों झांसे के साथ ,जनता को गुमराह कर ,अन्ना हज़ारे के साथ ,इन्होने ही भाजपा के शासन को स्थापित किया हो ,,तब ,, कोई इनका क्या बिगाड़ सकता ,है ,सभी क़ायदे ,सभी क़ानून एक तरफ ,सरकार बनाने में मददगार की कोशिशें , उन्हें पुरस्कृत करने की कोशिशें एक तरफ ,,यहाँ यही  सब कुछ हुआ है ,,,एक व्यापार ,अवैध व्यापार ,मरणासन्न आपदा बिमारी , महामारी को ठीक करने का झांसा देकर दवा ,बेचने दवा का विज्ञापन देने का खतरनाक अपराध किया ,,फिर  अचानक आयुष मंत्रालय के सुर बदल गए ,,गाइड लाइन बदल गयी ,,यह देश के साथ ,देश के कोरोना मरीज़ों के साथ धोखा सिर्फ धोखा है ,,हाँ बाबा रामदेव यही दवा ,,  बीमार मरीज़ों को , आयुष मंत्रालय ,,विश्व स्वास्थ्य संगठन से वैज्ञानिक जांच के बाद मान्यता दिलवाकर , अपनी तरफ से ,बिना व्यापारिक फायदे के ,मुफ्त में मरीज़ों को स्वस्थ करने के लिए यह दवा दें ,,तो हम इनके शुक्रगुज़ार ,होते ,इनकी  वाहवाही ,,करते , लेकिन देश जानता है ,सच क्या है ,,नियमों को कैसे तोड़ मरोड़ कर ,दबाव में ताक में रखा है ,,, खेर उम्मीद तो नहीं ,भरोसा भी नहीं ,लेकिन एक अदालत ईश्वर की है ,शायद उस अदालत के माध्यम से ,दुनिया की अदालत में जनहित याचिका में इन सभी मुद्दों का सूक्ष्म पोस्टमार्टम हो ,,नियमों , दावों ,पूर्व प्रेसकॉन्फ्रेंस के फुटेज ,आयुष मंत्रालय की रोक ,नोटिस ,जवाब ,फिर कोई बात नहीं ,,,कहकर जो मर्ज़ी पढ़े ,करो हम चुप ,रहेंगे कह कर ,,देश को खतरे में डालने की सभी व्यवस्थाओं को पारदर्शिता के साथ परीक्षण कर ,,जनता के सामने लाया जाए ,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...