हमें चाहने वाले मित्र

18 जुलाई 2020

बढे अफ़सोस की बात है , चौकीदार साहब के मणिपुर मुख्यमंत्री ,उनकी पत्नी , पर ड्रग के खुले रिश्ते स्वीकृत रूप से उजागर होने के बाद भी ,अभी तक आदरणीय ने उन्हें हटाया नहीं है

बढे अफ़सोस की बात है , चौकीदार साहब के मणिपुर मुख्यमंत्री ,उनकी पत्नी , पर ड्रग के खुले रिश्ते स्वीकृत रूप से उजागर होने के बाद भी ,अभी तक आदरणीय ने उन्हें हटाया नहीं है ,यह किसी चौकीदारी ,यह किसी ईमानदारी ,, यह किसी व्यवस्थाएं , सिर्फ सरकारें , गिराने ,सरकारें बनाने की तरफ हर तरह की ज़िम्मेदारी और यहाँ ख़ामोशी इस देश को डुबोने की कोशिशें ही कही जाएंगी जनाब ,,, जी हाँ दोस्तों मणिपुर में थोनाजम ब्रिंडा पुलिस अधिकारी द्वारा ,, हाईकोर्ट के शपथ पत्र में सीधा आरोप लगाया है के ,एक ड्रग माफिया की गिरफ़्तारी के बाद ,, उन के खिलाफ भाजपा के नेताओ का दबाव था ,,इस आरोपी को छोड़ने , इसके खिलाफ चार्जशीट विड्रो करने का ,, पूरा दबाव था भाजपा नेता ,,कहते थे ,के यह अपराधी मुख्यमंत्री मणिपुर की पत्नी के नज़दीकी है ,,इतना ही नहीं ,खुद मुख्यमंत्री ने उन्हें बुलाकर ,डांटा भी के , क्या तुम्हे मेने वीरता पुरस्कार इसी लिए दिया था ,, अब देखिए एक मुख्यमंत्री ,भाजपा के चौकीदार आदरणीय नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री साहिब के मुख्यमंत्री ड्रग माफिया के खुले रिश्ते उजागर होने ,ऐसे माफिया की मदद के लिए दबाव बनाने ,की खुली सिफारिश करने ,अधिकारी पर दबाव बनाने ,उसे डांटने के तथ्य है ,वैसे तो इस सभी तथ्य पर मुख्यमंत्री मणिपुर ,उनकी पत्नी ,वोह भाजपा नेता सभी फौजदारी मुक़दमे में गिरफ्तार होना चाहिए , लेकिन एक सो कोल्ड ईमानदार चौकीदार अगर ,,,,
-10:42

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...