हमें चाहने वाले मित्र

21 मई 2020

यूँ तो कोटा में विश्वप्रसिद्ध कोचिंग गुरु ,, एलेन कोचिंग के निदेशक नवीन माहेश्वरी ,उनकी परिवारिक टीम ,, किसी परिचय की मोहताज नहीं

यूँ तो कोटा में विश्वप्रसिद्ध कोचिंग गुरु ,, एलेन कोचिंग के निदेशक नवीन माहेश्वरी ,उनकी परिवारिक टीम ,, किसी परिचय की मोहताज नहीं , लेकिन गोविन्द माहेश्वरी का अनुशासन ,,उनका खुलूस ,कोटा के प्रति वफादारी ,,स्थानीय आम लोगों के प्रति संवेदनशीलता ,,परिवार के प्रति मुखिया की ज़िम्मेदारी का जो अहसास है ,यह सब मिलकर उन्हें अपने , मां बाप की दुआओं से ,,सभी उद्योगपतियों ,सेलेब्रिटीज़ से अलग थलग ,सबसे सर्वोच्च ,सर्वश्रेष्ठ बना देते है ,, एलेन परिवार ,यूँ तो कोचिंग गुरु के रूप में ,, सर्वश्रेष्ठ है ,,समाजसेवा में सर्वप्रथम है ,, लेकिन ,परिवार में मोहब्बत , प्यार खुलूस ,अनुशासन ,,बढे भाइयों का अदब ,, हम हैं साथ साथ ,, के सामाजिक , पारिवारिक पाठशाला है , जो कोटा सहित पूरे देश को भाइयों के , भाभियों के साथ साथ,, रहने का ,,सबक भागदौड़ ,,मौक़ापरस्ती के इस माहोल में मोहब्बत से सिखा रही है ,, गोविन्द माहेश्वरी , जिन्होंने अपनी माँ की दुआओं से ,पिता लक्ष्मीं नारायण माहेश्वरी की स्मृति में , उनके भाई राजेश माहेश्वरी , नवीन माहेश्वरी ,बृजेश माहेश्वरी को मोटिवेट किया , जब कोटा में उद्योगबंदी से , बेरोज़गारी की अराजकता का माहौल था ,ऐसे में ,इनके आशीर्वाद से इनके भाई ,राजेश माहेश्वरी ने 18 अप्रेल 1988 सिर्फ 8 छात्रों के साथ अपना कोचिंग केरियर शुरू किया ,, हम साथ साथ , सफल फिल्म के फ़िल्मी अंदाज़ में सभी भाइयों को एक सूत्र , , मोहब्बत ,अनुशासन की माला में पिरोया और ,इस मोहब्बत की महक ने एलेन इंस्टीट्यूट को आज भारत में ही नहीं , विश्व में महत्वपूर्ण बना दिया ,, कहते है ,,जो कामयाब हो जाते है ,उनके पैर ज़मीन पर नहीं टिकते , वोह आसमान में उड़ते है ,,आसमान की बातें करते है ,नीचे चलने वाले लोगों को ऐसे कथित कामयाब लोग ,कीड़े मकोड़ों की तरह मसलते चले जाते है ,लेकिन स्वर्गीय पिता लक्ष्मी नारायण मित्तल , के साथ इन भाइयों के पास माँ का आशीर्वाद ,उनकी सीख थी ,, कुशल नेतृत्व गोविन्द माहेश्वरी का सर पर हाथ था ,,तो सभी भाई ,,माशाअल्लाह कामयाबी में आसमान पर सातवें आसमान पर है ,लेकिन सेवा कार्यों में धरातल पर है ,सभी भाइयों ने ,,,कोटा से प्यार की मिसाल क़ायम करते हुए ,, कोटा के विकास ,,कोटा के नाम को रोशन करने में ,कोटा को सोंदर्यकरंत करने में यह लोग अपने तन मन धन से लगे हुए है ,,, सियासत में यह आलू की तरह है ,कांग्रेस हो भाजपा हो ,,सभी के साथ , इनके ताल्लुक़ात , मोहब्बत प्यार भरे है यह , गैर सियासी तरीके से कोटा के विकास , कोटा की नामवरी को लेकर सीमित व्यवस्थाओ तक जुड़े है ,, पिछले दिनों कोटा को बाबा रामदेव के योग आतिथ्य, योग शिविर में कोटा को पुरे भारत में योग गुरु के रूप स्थापित करवाया , कोटा के लिए यह गौरव की बात है , माशा अल्लाह चारों भाई ,,बढे भाई गोविन्द माहेश्वरी के सम्मानित नेतृत्व , प्यार , मोहब्बत के निर्देशों में अपनी अपनी प्रतिभाओं के साथ, अपने अपने क्षेत्र में मुखर रहते है ,और यही वजह है ,के नवीन माहेश्वरी के नेतृत्व में , इनके भाई राजेश माहेश्वरी , नवीन माहेश्वरी ,बृजेश माहेश्वरी अनुशासित तरीके से ,, सर्वश्रेष्ठ होने पर भी लक्ष्मण बनकर, अपने इस ,राम, के नेतृत्व को स्वीकारते है ,सभी भाई बहुमुखी प्रतिभा के धनी ,,सवर्श्रेष्ठ सर्वोच्च है ,लेकिन धैर्य ,संयम ,संवेदनशीलता , करुणा भाव ,सेवा भाव ,इनका मोटिवेशन , इन्हे सबसे अलग, सबसे बुलंद बना देता है ,,गोविन्द माहेश्वरी के नेतृत्व में सभी भाई , बेस्ट इंटरनेशनल , मोटिवेशनल स्पीकर साबित है ,,मोटिवेशनल स्पीच के साथ साथ ,छात्र छात्राओं ,उनके अभिभावकों में अनुशासन ,हिम्मत के साथ उत्साहवर्धन का संचार इनकी भाषण शैली है ,,भाषण के साथ ,मोटिवेशनल ,,ईश्वर की प्रार्थना के साथ , मुझे इतनी शक्ति देना दाता , की प्रार्थना इनके संगीत ,इनकी मौसिक़ी ,इनकी पुरकशिश आवाज़ से ,,वातावरण को सिसकियों के साथ ,,,,हर छात्र छात्रा में अपने संकल्प ,अपने गोल को हांसिल करने के लिए संकल्पबद्ध करने के लिए काफी है ,,, एलेन कोचिंग जो लाखों छात्र छात्राओं का भविष्य है ,,एलेन जो हज़ारों हज़ार लोगों के लिए सीधे रोज़गार का साधन है ,,जो अप्रत्यक्ष रूप से भी अतिरिक्त रूप से हज़ारों हज़ार लोगों के रोज़गार का साधन है ,सिर्फ कमाई के लिए नहीं ,है वोह कोटा से अव्वलीन डॉक्टर , अव्वलीन इंजीनियर देता है , जिनमे कई लोग भारतीय प्रशासनिक सेवा सहित कई महत्वपूर्ण पदों पर है ,, एलेन ,,सामाजिक सरोकार रखता है ,,गौ शाला निर्माण हो ,,कोटा के सामाजिक कार्य्रकम हो ,सांस्कृतिक ,कार्यक्रम हो ,देश भक्ति के कार्य्रकम हों ,पर्यावरण के प्रति जागरूकता कार्यकम हो ,,गरीबों के लिए सेवा ,मदद के कार्य्रकम हो ,अव्वल रहता है ,,एलेन कोचीन गुरु में अव्वल है ,,रिज़ल्ट में अव्वल है ,, लेकिन सभी धर्म ,सभी वर्ग , सभी समाज ,सभी राज्यों ,सभी ज़िलों के छात्र छात्राओं को ,, एलेन एक ही बगीचे में , लगा कर इसे सुंदर ,,खुशबूदार ,सर्वश्रेष्ठ बना देता है ,, एलेन में नवरात्रा ,,दीपावली ,होली ,सहित सभी कार्यक्रमों में छात्र छात्राओं के लिए ,, व्रत के दौरान ,फलाहारी ,भजन कीर्तन की व्यवस्था होती है ,अलग अलग राज्यों की धर्म व्यवस्था के तहत , मज़हबी जुड़ाव होता है , तो रमज़ानों में ,तरावीह ,नमाज़ के लिए भी व्यवस्था होती है ,इफ्तार सहरी की व्यवस्था होती है ,, यह सब करने के लिये ऐलेन परिवार , अलग अलग मज़हब के धर्मगुरुओं को अतिथि मार्गदर्शक बनाकर , अलग अलग मज़हब की ज़रूरतों के हिसाब से , व्यवस्थाएं करता है , यह इनका मानवधर्म कहलाता है ,, बहुमुखी प्रतिभा के धनी ,सर्वसमाज के प्रबंधन के लिए निष्पक्ष रहकर यह सभी भाई खुद को सर्वश्रेष्ठ कर लेते है ,,अभी हाल ही में कोरोना संकट ,,कोटा के लिए एक त्रासदी बनकर आया ,एक तरफ देश भर की छात्र छात्राये ,,उनकी हिफाज़त ,,उन्हें संक्रमण से बचाने के लिए कोरोना एडवाइज़ की पालना करते हुए ,सोशल डिस्टेंसिंग के साथ ,सभी बच्चों का उत्साहवर्धन ,सभी बच्चों के लिए खाने की व्वयस्था ,अल्पाहार की व्यवस्था ,,इसके अलावा प्रशासन के मार्गनिर्देशन पर पूरे कोटा शहर के अलग अलग हिस्सों में ज़रूरतमंदों के लिए दोनों वक़्त खाने के पैकेटों का वितरण ,चैलेंजिंग कार्य था ,जो इन चारों भाइयों , गोविन्द माहेश्वरी , राजेश माहेश्वरी , नवीन माहेश्वरी ,बृजेश माहेश्वरी ने कर दिखाया है ,,अभी भी ,आज भी यह सभी भाई अलग अलग क्षेत्रों में नवीन माहेश्वरी के प्रबंधन में खाने के पैकेट पहुंचाने का कार्य कर रहे है ,यह अब तक क़रीब चार लाख लोगों को खाने के पैकेट पहुंचा चुके है ,,, एलेन के लिए सबसे बढ़ा चैलेंजिंग काम कोटा के बाहर के हज़ारों छात्रों को डिप्रेशन से बचाना ,उनकी व्यवस्थाएं देखना , उनकी हौसला अफ़ज़ाइ करना ,प्रशासन की मदद से पास के ज़रिये फिर ,बाद में सरकारी व्यवस्था के ज़रिये उनके घरों तक ,रास्ते के खाने ,पानी की व्यवस्था के साथ पहुंचाने की ज़िम्मेदारी थी , जो उन्होंने बखूबी निभाई है ,,,सभी भाइयों को गोविन्द माहेश्वरी के नेतृत्व में अपने पिता स्वर्गीय लक्ष्मीनारायण माहेश्वरी , उनकी माता श्री के संस्कार के साथ ,अपनी पत्नियों , परिवार के साथ राजेश माहेश्वरी , नवीन माहेश्वरी ,बृजेश माहेश्वरी भाइयों की जो मोहब्बत ,है , हम साथ साथ , फिल्म की जो हक़ीक़त है ,प्यार का जो जज़्बा है ,अनुशासन का जो जज़्बा है ,, यक़ीनन अनुकरणीय है ,,इस समाज के लिए एलेन कोचिंग छात्र छात्रों के लिए , इंजीनियर डॉक्टर बनाने की सौगात के साथ साथ ,परिवार में मोहब्बत ,भरोसा ,टीम भाव से काम करने के प्रशिक्षण का आइकॉन पारिवारिक कोचिंग इंस्टीटियूट भी है ,अल्लाह इस परिवार को हर बुरी नज़र से बचाये ,,कोटा के ,राजस्थान के ,समूचे भारत के हर परिवार को ,इस एलेन परिवार से ,हम साथ साथ ,की तर्ज़ पर प्यार ,मोहब्बत से अनुशासित तरीके से रहने की अनुकरणीय तौफ़ीक़ अता फरमाए ,, कोटा के कोचिंग के गुलशन में फिर से बहार आये , इस परिवार के मुखिया गोविन्द माहेश्वरी ,,सहित राजेश माहेश्वरी , नवीन माहेश्वरी ,बृजेश माहेश्वरी को नेतृत्व , अनुशासन ,,बहतर प्रबंधन ,,कोचिंग गुरु के साथ ,प्यार की पाठशाला ,परिवार की पाठशाला के इस मोहब्बत के सबक़ का आइकॉन बने रहे के लिए बधाई ,, मुबारकबाद ,, एडवोकेट अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...