हमें चाहने वाले मित्र

05 अप्रैल 2020

कोरोना वाइरस

कोरोना वाइरस के ज़हर से बचने के लिए तो तुम ,सेनेटाइज़ कर रहे हो ,क्वारेंटाइन यानि छूत की बीमारी से बचने ,बचाने के लिए अलगाववाद की तरफ हो,, मुंह को संक्रमण से बचाने के लिए एहतियात कर रहे हो ,इंशाअल्लाह ,इस कोरोना संकट से तो हम आप ,देश दुनिया महफूज़ हो जाएगा ,,लेकिन जो आपकी जुबांन ,है इस जुबांन से निकले अल्फ़ाज़ है ,,इसका ज़हरीला वाइरस काफी नुकसान कर रहा है ,जो भविष्य के तबाही के मनोविज्ञान की तरह है ,सो प्लीज़ एक मास्क ,एक ब्रेक ,अपनी ज़ुबान ,अपनी क़लम ,अपने प्रकाशन ,प्रसारण पर भी लगाए ,अल्फ़ाज़ों में मोहब्बत हो ,प्यार हो ,,बस प्लीज़ ,,,संकट में आपकी यही मदद बढ़ी मदद होगी ,,अख्तर

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...