हमें चाहने वाले मित्र

22 अप्रैल 2020

अरनब रंजन गोस्वामी

अरनब रंजन गोस्वामी ने महिलाओं के खिलाफ ,एंकरिंग अपमान की मर्यादाएं लांघ दी है ,बेहूदा अमर्यादित अल्फ़ाज़ , झूठे अल्फ़ाज़ का अपराध है , अगर अभी भी महिलावादी संगठन , अग्रिम संगठन , संगठन , जहां सरकार है , वहां के सरकार सुप्रीमो ,चुप रहते है , इस बेहूदगी पर हर राज्य में प्रसारित इस बेहूदा डिबेट पर इसे गिरफ्तार कर जेल नहीं भिजवाते , तो इन सभी को इस्तीफा देकर , शर्म से सर छुपा कर घर बैठ जाना चाहिए , अगर यही शब्द ममता बनर्जी के लिये होते , तो अब तक यह बेहुदा ,नप गए होते , एक साहब ने तो शर्मसार की हद कर दी , वीडियो पोस्ट डाली फिर ,न जाने किस डर से पोस्ट डिलीट कर दी , खेर , यह भारत है यहां आई टी एक्ट , भावनाएं भड़काना , डिफेमेट्री डॉक्यूमेंट वीडियो बनाना , बोलना , प्रसारित करना , गम्भीर अपराध है , पहले भी कई अपराधियों को हमने छोड़कर खुद को कमज़ोर कर लिया है , देखते है वफादारी , ईमानदारी , क़ानून की पालना , एक महिला के अपमान के साक्ष्य सहित आरोपित को गिरफ्तारी मामले में , मांडोली होती है , टालमटोल रस्म अदायगी होती है , या फिर क़ानून की आर पार देखते है , रिपोर्ट तो मैने भी भेजी है , अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...