हमें चाहने वाले मित्र

28 जुलाई 2019

कोटा तो कोटा है ,पत्थरों का शहर है

कोटा तो कोटा है ,पत्थरों का शहर है ,यहाँ कोचिंग है ,उद्योग है ,कचोरी है ,कड़के है ,चौबीस घंटे नलों में पानी है ,,देश की लोकसभा के अध्यक्ष कोटा के ही ओम बिरला है ,राजस्थान को संवारने वाले शान्ति कुमार धारीवाल कोटा के ही है ,उनके पास विज़न है ,,कार्यक्षमता है ,हिम्मत है ,हौसला है ,वोह कोटा के विकास ,सॉन्दर्य के लिए कुछ भी कर गुज़रने को तैयार है ,इसीलिए शांति कुमार धारीवाल ने हाल ही में एक कार्यक्रम में देश की लोकसभा का अध्यक्ष बनने का गौरव हांसिल करने वाली ,ओम जी बिरला से कोटा के लिए बजट देने का आह्वान किया था ,,,कोटा किन परिस्थितियों में है सभी जानते है ,अगर यहाँ डायवर्जन चैनल पिछली बार शान्तिकुमार धारीवाल के प्रयासों से नहीं बनाया गया होता तो ऐसी बारिश में हर साल कोटा डूब की स्थिति में रहता ,,शांति धारीवाल ने कोटा के विकास में हमेशा ड्रेनेज सिस्टम ,बारिश के पानी को नालों में बहाकर चंबल तक डालने की योजना बनाई है ,,,वाटर ट्रीटमेंट प्लांट बनाये है ,, वर्तमान में कोटा स्मार्ट सिटी में शामिल है ,यहाँ अतिरिक्त बजट आएगा ,,कोटा की स्टाम्प बिक्री में कोटा से दस प्रतिशत शहरी विकास के नाम पर सरकार अब तक एक अरब रूपये के लगभग एकत्रित भी कर चुकी है ,,अब कोटा को बरसात के वक़्त ,बाढ़ की स्थिति से मुक्त करना ही होगा ,, पुराना शहर ,नया शहर में अब हर वार्ड में इंजीनियर की विशेष टीम गठित कर सड़कों का ढलान ,,सड़कों के दोनों तरफ नालों में पानी की निकासी ,,हार्वेस्टर पानी रिचार्ज स्कीम ,वाटर ट्रीटमेंट प्लांट व्यवस्था के तहत ,विशेष सर्वेक्षण करवाकर ,,हर सड़क ,हर गली को बरसात के समय बीच में से ऊँची फिर दोनों तरफ ढलान वाली सड़कें बनाना होगी ,नाले दोनों तरफ व्यवस्थित बहाव वाले बनाना होंगे ,अब तक इस व्यवस्था के नाम पर कोटा में करोडो करोड़ रूपये खर्च कर ,ठेकेदारों ,और इनिजिनियर्स की जेब में डाल दिए गए है ,लेकिन नतीजा हर बार पुराने कोटे में नए कोटे में नालों में उफान ,बस्तियां जलमग्न का ही है ,,,,इस बार जोड़ी बनी है ,दलगत राजनीति की बात छोड़िये ,कोटा के लिए स्पेशल प्लान कीजिये ,अगर बजट व्यवस्थित मिला ,योजनाए विशेषज्ञों के साथ तैयार हुई ,ईमानदार इंजीनिययर ,ईमानदार ठेकेदारों से कार्य हुआ तो कोटा कम से कम वर्षा के वक़्त जलमग्न होने से बच सकता है ,देखिए आप भी लिखिए ,आप भी कहिये ,आप भी कोटा के है ,अपना फ़र्ज़ निभाइये इस मुहीम को आगे बढ़ाइए ,,कोटा को बाढ़मुक्त ,जलमग्न बस्ती हर साल बेवजह बनने से बचाइए ,,,,,,,,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...