हमें चाहने वाले मित्र

12 अगस्त 2018

बर्ड फ्लाई शूटिंग में अव्वल आकर गोल्ड मेडल जीतने पर दिली मुबारकबाद ,बधाई ,

मेरे हम ज़ुल्फ़ ,,साहिबज़ादे ,जागीरदार ककराज टोंक ,मोहम्मद अहमद बढे दादा को शनिवार जयपुर स्थित जगतपुरा शूटिंग रेंज में आयोजित प्रदेश स्तरीय निशानेबाज़ी ,,बर्ड फ्लाई शूटिंग में अव्वल आकर गोल्ड मेडल जीतने पर उन्हें दिली मुबारकबाद ,बधाई ,,,मोहम्मद अहमद ,,कॉलेज वक़्त से ही निशानेबाज़ी प्रतियोगिताओं में शामिल रहे ,,है ,,खेलकूद में अव्वल की वजह से ही मोहम्मद अहमद को इनके साथियों ने बढे दादा का नाम दिया और तब से ही इनकी पहचान बढे दादा के रूप में बन गयी ,कभी ककराज में मीठे और लज़ीज़ अमरूदों के बाग़ात वाले बढे दादा ,खेल कूद खासकर निशानेबाज़ी के शौक़ीन है ,,,मोहम्मद अहमद इसके पूर्व भी राष्ट्रिय स्तर की निशानेबाज़ी प्रतियोगिता में मेडल जीत चुके है ,जबकि क्षेत्रीय राइफल क्लब द्वारा आयोजित सभी प्रतियोगिता में यह हिस्सेदार और अव्वल रहते है ,,तीरंदाज़ी में भी मोहम्मद अहमद बढे दादा को महारत हांसिल है ,,तीरंदाज़ लिम्बाराम तो लाखों रूपये की प्रत्यंचना तीर इंस्ट्रूमेंट से निशानेबाज़ी लगाते है ,लेकिन टोंक आगमन पर देसी तीरों से जब लिम्बाराम ने बढे दादा की तीरंदाज़ी ,,बेस्ट निशानेबाज़ी देखी तो वोह इनकी पीठ थपथपाये बगैर नहीं रह सका ,,,बढे दादा ने तीरंदाज़ी की निशानेबाज़ी में भी अपनी प्रतिभा का ज़बरदस्त प्रदर्शन किया है ,जबकि एथलीट प्रतियोगिता ,,हेमर थ्रो प्रतियोगिता में भी विदिशा में इन्होने सिल्वर मेडल लेकर राजस्थान का नाम रोशन किया है ,,दक्षिणी भारत की तरह अब टोंक में मछली प्रतियोगिता का भी आयोजन होने लगा है ,जिसमे एक व्यक्ति को तीन मछली पकड़ना होती है और तीन मछलियों को तोलकर जिसका वज़न सबसे ज़्यादा होता है ,,उसे विजय घोषित किया जाता है ,बढे दादा खुद के तालाब में मछली पालन व्यवसाय भी करते है ,,,इसीलिए वोह इस प्रतियोगिता का टोंक में आधुनिकीकरण कर नए रूप में करवाने का मानस बना रहे है ,बढे दादा हिकमत यानी हकीम की शैक्षणिक योग्यता भी रखते है ,,हिकमत उनका पेशा नहीं लेकिन कई लोगो की फरमाइश पर उनके द्वारा बनाई गयी देसी दवा से फायदा होता रहा है ,,मछलीपालन के लिए खुद जाल बुनना ,अपने निशानेबाज़ी के हथियार बंदूको को रोज़मर्रा निशानेबाज़ी के लिए बेहतरीन टारगेट फिक्स करना ,,इनके लिए मामूली बात है ,,बढे दादा को बधाई ,मुबारकबाद ,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...