हमें चाहने वाले मित्र

28 दिसंबर 2017

वकील धीरे बोले ,,वकीलों को हम सही कर देंगे

वकील धीरे बोले ,,वकीलों को हम सही कर देंगे ,,,अमुक वकील भविष्य में लक्ष्मण रेखा पार न करे ,पाबंदी की इस शर्त पर उक्त वकील को जेल नहीं भेजकर माफ़ करते है ,,,,,वकील नहीं सुधरे तो हम सुधार देंगे ,,,लड़ाई में लोग अपने माता पिता का रुपया वकीलों की फीस पर खर्च कर देते है ,,,ऐसे लोग जो बुनियादी तोर पर वकील की सीढ़ी पार करके जाते है ,,अगर वोह ऐसी अव्यवहारिक बात करे ,,,तो अफ़सोस होता है ,,,एक दो लोग इधर भी बुरे हो सकते है उधर भी बुरे होते है ,,लेकिन पूरा सिस्टम ,,पूरा समुदाय अगर दोषी ठहरा दिया जाए तो इंसाफ नहीं होता ,,,बार कौंसिल ऑफ़ राजस्थान के चुनाव हुए नहीं ,,बार कौंसिल ऑफ़ इंडिया में ऐसे हालात में राजस्थान का निर्वाचित लोकतान्त्रिक दखल है नहीं ,,दोस्तों ,,वकील साथियों ,,,वकीलों के ह्रदय सम्राट ,,वकीलों की समस्याओ के लिए हमेशा खड़े रहने वाले ,,वकीलों स्वाभिमान के लिए संघर्ष का नारा देकर वोट मांगने वाले ,,साथियो से पूँछ तो लो ,,वोह पद पर थे ,,निर्वाचित थे ,,बार कौंसिल या फिर जिला बार में पदाधिकारी थे ,,या फिर वकीलों के मुद्दे पर उन्हें तकलीफ थी दर्द था ,तो क्या वोह इन मुद्दों पर कुछ बोले ,,,उन्होने कुछ लिखा ,,सार्वजनिक तोर पर कोई बयान देने ,,सोशल मिडिया पर ऐसी हिमाक़त के खिलाफ कोई ललकार लोगो तक पहुंचाई ,,दस साल का इतिहास खंगाल लो ,,,और जो वकील साथी ,,हर वक़्त हर लम्हा ,,वकीलों के स्वाभिमान ,,मान सम्मान ,,उनकी समस्याओ को उजागर निष्पक्ष ,,,निर्भीक रूप से करता रहा हो ,उसका साथ दो ,,अमीरो को अपनाया बार बार ,,वकीलों के हमदर्दो को भी आज़माओ पहली बार ,एडवोकेट ,,,अख्तर खान अकेला इच्छुक प्रथम वरीयता वोट ,,प्रत्याक्षी बारकोंसिल ऑफ़ राजस्थान ,,कोटा जिला एवं सेशन न्यायालय परिसर कोटा ,,,

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...