हमें चाहने वाले मित्र

18 दिसंबर 2017

अभिभाषक परिषद के वर्ष 2018 कार्यकारिणी चुनाव में

कोटा अभिभाषक परिषद के वर्ष 2018 कार्यकारिणी चुनाव में ,,कार्यकारिणी मतगणना के बाद परिणाम घोषित करने और पुनर्मतगणना की मांग ठुकराने के खिलाफ एक निर्वाचित होने के बाद ,,हारा हुआ घोषित हुए प्रत्याक्षी ने कई सवाल उठाये है ,,,कार्यकारिणी सदस्य प्रत्याक्षी राधेश्याम गोढ़ ने कार्यकारिणी चुनाव मे 351 वोट लेना बताकर निर्वाचन अधिकारी ने उन्हें नवें नंबर पर कार्यकारिणी सदस्य क़रार देते हुए निर्वाचित घोषित किया था ,, यह चुनाव परिणाम अभिभाषक परिषद के सुचना पट्ट पर भी लगाया गया ,,राधेश्याम गोढ़ ने जीत की बधाइयाँ ली ,,मालाये पहनी ,इस के तुरंत बाद अचानक राम दयाल शर्मा को विजय घोषित कर राधेश्याम गोढ़ को हारा हुआ घोषित किया ,,राधेश्याम गोढ़ के चुनाव एजेंट ने तीन वोट की हार जीत का अंतर् होने पर ,पुरमतगणना की तुरंत निर्धारित समयावधि में प्रार्थना पत्र दिया ,,लेकिन उनके प्रार्थना पत्र पर कोई पुनर्मतगणना के आदेश नहीं ,,हुए ,,राधेश्याम गोढ़ ने कोटा अभिभाषक परिषद के इस चुनाव में पुनर्मतगणना को लेकर ट्रिब्यूनल में अपील करने का फैसला लिया है ,,जिसमे मुख्य चुनाव अधिकारी ,,सहित अन्य प्रत्याक्षियों को पक्षकार बनाया जाएगा ,,,,,कोटा अभिभाषक परिषद के चुनाव में कुछ साल पूर्व एडवोकेट रविंद्र विजय ट्रिब्यूनल सदस्य कार्यकाल में ,कार्यकारिणी की पुनर्मतगणना के आदेश हुए ,थे ,,और पुनर्मतगणना में नतीजे उलट हुए ,,घोषित चुनाव के वोटो में और पुनर्मतगणना में काफी वोटो का अंतर् आया ,,था ,,तब से कार्यकारिणी सदस्यों की मतगणना एक साथ अंक काटने की जगह ,,अलग अलग वोट गिनकर की जाने लगी थी ,लेकिन अब फिर गिनती काटने की परिपाटी शुरू होने से वोटों की गिनती में मानवीय स्वभाव के तहत गलती होना संभावित ,है ,,देखते है ट्रिब्यूनल इस मामले में क्या फैसला लेता है ,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...