हमें चाहने वाले मित्र

02 नवंबर 2017

राधिका सेवा संस्थान के राष्ट्रिय अध्यक्ष धनेश अग्रवाल अपने व्यवसाय के साथ साथ सामाजिक सरोकारों से भी जुड़े

राधिका सेवा संस्थान के राष्ट्रिय अध्यक्ष धनेश अग्रवाल अपने व्यवसाय के साथ साथ सामाजिक सरोकारों से भी जुड़े है ,,राधिका सेवासंस्थान अपने कार्यकर्ताओं की तस्दीक़ के बाद ,,,छात्र छात्राओं की फ़ीस जमा कराना ,,उन्हें यूनिफॉर्म और पाठ्यपुस्तके मुफ्त उपलब्ध कराने के अलावा उनके गुज़र बसर की भी व्यवस्था करता है ,,जबकि राधिका सेवा संस्थान की तरफ से गो संरक्षण ,,गो संवर्धन कार्यक्रमों में भी दिल खोल कर मदद की जाती है ,,इतना ही राष्ट्रिय आपदा के वक़्त उस क्षेत्र के पीड़ितों को भी ,,राधिका सेवा संस्थान राष्ट्रिय अध्यक्ष धनेश अग्रवाल के निर्देशों पर मदद पहुंचाता है ,,हाड़ोती खेलकूद प्रतिभा ,हाड़ोती कलाकृति को बढ़ावा देने के लिए भी राधिका सेवासंस्थान कई कार्यक्रम चलाता है ,,,साक्षरता की अलख जगाने के साथ ही राधिका सेवा संस्थान स्वास्थ्य सुरक्षा पर भी पूरा ध्यान देकर पीड़ितों को आवश्यकतानुसार दवा वगेरा के खर्च सहित अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराता है ,,,सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के बाद पत्थर व्यवसाय बंद होने के बाद ढोबीया किंग कहे जाने वाले धनेश अग्रवाल के स्वर्गीय पिता सेठ लालचंद प्रजामंडल के साथ जुड़कर ,,देश को आज़ाद कराने के लिए कविताओं के माध्यम से अलख जगाते थे ,,पत्थर किंग कहे जाने वाले धनेश अग्रवाल ने पत्थर व्यवसाय चौपट होने पर ,,खुद को रियल स्टेट व्यवसाय से जोड़ा ,,कृषि विस्तार कार्यक्रमों से जोड़कर खुद को फिर से स्थापित किया ,,धनेश अग्रवाल का सेवाभावी स्वभाव सभी जानते है ,,कभी कोटा की धरती पर पूर्व मुख्यमंत्री मोहनलाल सुखाड़िया की गोद में खेलने वाले धनेश अग्रवाल ,,राधिका सेवा संस्थान के माध्यम से पुरे देश में ,,सेवा संस्कार ,,और प्राकृतिक साधनो का संरक्षण करना चाहते है ,,वोह जड़ी बूटियों के पार्क के साथ ,हर्बल पार्क ,,बनाने की कोशिशों में जुटे है ,,कृषि सुधार व्यवस्था के तहत उन्होंने कई स्थानों पर सुधार कार्यक्रम चलाये है ,,धनेश अग्रवाल ने कोटा को पर्यटन दृष्टि से आकर्षक ,,खबूसूरत जुड़ाव पैदा करने के लिए ,,थेकड़ा केथून रोड स्थित अपने फ़ार्म हाउस में एक खूबसूरत पांच सितारा से भी बेहतर सुविधाओं वाला घर से भी बेहतर आराम दायक रिसोर्ट तैयार किया है ,,राधिका रिसोर्ट हरियाली है ,,खूबसूरत रंग बिरंगे फूलो के पेड़ पौधे है ,,,बच्चो बुज़ुर्गो के लिए मनोरंजन के साधन है ,,झूले है ,,खूबसूरत हरियाली की व्यवस्था है जबकि घर जैसा ,,खुले गांव जैसा माहौल है ,,रंगबिरंगी जगमगाती लाइटें है ,,खूबूसरत आरामदायक कमरे ,,बेहतरीन कार्यक्रम करने के लिए कोटा का एक मात्र ऐतिहासिक क्षमता वाला खूबसूरत हॉल है ,,,,जबकि वाटरपार्क के नाम पर देश के प्रसिद्ध उपकरणों से प्राकृतिक छटा बिखेरती बारिश ,,समुन्द्र की लहरे ,,प्राकृतिक झरनों की फुहार ,,खबूसूरत कृत्रिम बारिश की बौछारे ,,,बच्चो के खेलकूद के लिए पानी के खेलकूद ,,पानी के साथ डांस और संगीत का आनद उठाने के लिए विशेष मनोरंजक उपकरण है ,,स्वीमिंग पूल विशेष सुविधाओं वाला बनाया गया है ,,,,,खेल कूद का आनंद लेकर ,,ख़बसूरती के सुखद अनुभवों से सरोबार होने के बाद यहाँ लज़ीज़ खाने की व्यवस्था भी है ,,,कोटा ही नहीं है हाड़ोती ही नहीं शायद पुरे राजस्थान में सम्पूर्ण सुविधाजनक ,,खूबसूरत ,,,घर के नज़दीक ,,घर की सुविधाओं से भी बेहतर यह रिसोर्ट ,,शहर में एक खूबसूरत गाँव की याद दिलाता है ,तो हाड़ोती की कलाकृतियों की यादे भी इसमें शामिल की गयी है ,,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...