हमें चाहने वाले मित्र

11 जुलाई 2017

अभी साहिब विपक्ष में होते तो

अभी साहिब विपक्ष में होते तो साहिब और उनके भक्तजन ,,,आतंकवादियों और पाकिस्तान की ईंट से ईंट बजा देते ,,लव लेटर लिखना बंद करो ,,एक के बदले दस दस सर लेकर आओ ,,,का नारा लगाते ,,,,प्रधानमंत्री से इस्तीफा मांग लिया होता ,,कश्मीर में धारा 370 हठा कर ,,,राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग होती ,,महबूबा की गठबंधन सरकार के गठबंधन पर राष्ट्रविरोधी ,, गद्दार होने के न जाने कितने तमगे मिल गए होते ,,,अख्तर

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...