हमें चाहने वाले मित्र

20 मई 2017

,जब जब भारत मुसीबत में रहा है

दोस्तों जाधव मामले में हरीश साल्वे ने पैरवी की ,,शशि थरूर ने मदद की ,,लेकिन यह सब भारत सरकार के बिहाफ पर ही हुआ है ,,जब जब भारत मुसीबत में रहा है ,,संकट में रहा है ,,बाहरी आतताइयों से उत्पीड़ित रहा है ,तब तब भारत एक रहा है ,,भारतियों ने अंदरूनी आपसी विवाद भुलाकर एक जुट होकर हर मुसीबत का मुक़ाबला किया है ,और हमारी इसी एक जुटता से ,,आज भी विश्व के बढे बढे ताक़तवर देश थर्राते है ,,,तो दोस्तों देश का एक नागरिक संकट में है ,यानी देश का अस्तित्व संकट में है ,ऐसे में किसी भी व्यक्ति ने देश के इन हालातो में मदद की है तो कोई अहसान नहीं किया है ,,जो भी मददगार है वोह कोई कोंग्रेसी ,,कोई हिन्दू ,,कोई मुसलमान ,,कोई सिक्ख कोई ,ईसाई नहीं ,,सिर्फ और सिर्फ भारतीय ही है ,,ऐसे में जाधव मामला हो या फिर कोई सा भी मामला हो ,,ऐसे मामलों का सियासीकरण ,,राजनतीकरण ,,धार्मिक पहलु के विचारो से इन्हे नहीं आंकना चाहिए ,बस हम सब की संयुक्त कोशिश होना चाहिए के भारत और भारत का प्रत्येक नागरिक दुश्मनो और उनकी चालो से सुरक्षित रहे ,,अलबत्ता वोह उद्योगपति जिनका पाकिस्तान में उद्योग चल रहा है ,जो पाकिस्तान से सहूलियतें और मुनाफा ले रहे है ,,उनसे इस भारत को कोई उम्मीद नहीं करना चाहिए ,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...