हमें चाहने वाले मित्र

25 मार्च 2017

,उत्तरप्रदेश का मुख्यमंत्री क्यों बनाया

योगी आदित्यनाथ को ,,,,विधायक नहीं होने पर भी ,,उत्तरप्रदेश का मुख्यमंत्री क्यों बनाया ,,,यह एक हमारा अपना ,,,अपने लोगो का आंतरिक मामला है ,इसमें न्यूयार्क टाइम्स ,,या कोई विदेशी सरकार ,,विदेशी एजेंट ऐतराज़ भी जताए तो हमे कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता ,हमने देखा है ,,आपने देखा है ,,यह वही नरेन्द्र मोदी है ,,,जो एक मुख्यमंत्री की हैसियत से ,,अमेरिका जाने की इजाज़त मांगते रहे ,,और अमेरिका इन्हें ,,हत्यारा बताकर ,,अमेरिका की इजाज़त देने में टालमटोल करता रहा ,,लेकिन हमारी आंतरिक ताक़त ,,राष्ट्रिय एकता,,आपसी भरोसे का ही नतीजा है ,के वही नरेन्द्र मोदी के आगे ,,अमेरिका का कई सर झुकता है , नरेन्द्र मोदी को दावत देकर ,,अमेरिका बुलाया जाता है ,,और इन्ही नरेन्द्र मोदी का अमेरिका पलक पावणे बिछाकर इन्तिज़ार करता नज़र आता है ,,,,,योगी आदित्यनाथ विधायक नहीं तो क्या ,,सांसद तो उत्तर प्रदेश से ही है ,,उत्तर प्रदेश के रस्मो रिवाज से ,,,वाक़िफ़ है ,,अभी तो उन्होंने कुर्सी सम्भाली है ,,,राजधर्म निभाएंगे ,,या राजधर्म के खिलाफ काम करेंगे ,,यह तो उनके काम काज के तरीक़ो से ही पता लगेगा ,,प्रतिपक्ष अपना प्रतिपक्ष का नेता तो अब तक घोषित नहीं कर सकता ,,मुट्ठी भर प्रतिपक्ष कैसे उनका मुक़ाबला करेगा को रणनीति भी नहीं है ,,,अभी उपचुनाव होंगे ,,कमसे कम पांच उपचुनाव ,विधान परिषद के चुनाव ,,देखते है क्या होता है ,,लेकिन योगी आदित्यनाथ के कामकाज की कमसे कम तीन माह की समीक्षा के बाद ही कोई भी टीका टिप्पणी की जाए तभी ईमानदाराना टिप्पणी कहलाएगी ,,वरना तो ,,बिना कामकाज देखे कोई भी ,,टीका टिप्पणी,,बेईमानी ही कहलाएगी ,,,सांसद योगी आदित्यनाथ ने अभी इस्तीफा नहीं दिया है ,,चुनाव आयोग से भी किसी विधायक ने इस्तीफा देकर कोई ,,उपचुनाव की पेशकश नहीं की है ,,यह भाजपा का आंतरिक कन्फ्यूज़न हो सकता है ,,लेकिन सच यही है के योगी आदित्यनाथ ,,उत्तरप्रदेश के बहुमत वाली पार्टी के जीतने के बाद ,,जनता के लोकप्रिय मुख्यमंत्री के रूप में मिडिया द्वारा प्रस्तुत किये जा रहे है ,ऐसे में जब उन्होंने कोई भी राजधर्म विरोधी काम क्या ही नहीं तो फिर ,,न्यूयार्क टाइम्स अख़बार की योगी आदित्यनाथ और नरेन्द्र मोदी के हिंदूवादी सपनो के भारत के इल्ज़ामो की हमे सभी को कठोर आलोचना करना चाहिए ,,हम ,,योगी आदित्यनाथ ,नरेन्द्र मोदी ,,कोई भी हो सभी देश के विधान ,,संविधान ,,क़ायदे क़ानूनों से बंधे है ,,ऐसे में हम एक आदर्श उत्तरप्रदेश ,,एक आदर्श भारत के सपने को साकार करने की पहल करे ,,जिसमे आप भी हो ,,में भी रहूँ ,सभी रहे ,,,,लेकिन संवैधानिक मर्यादाओ के साथ ,,इंसाफ के साथ ,,ईमानदारी के साथ ,,राष्ट्रभक्ति के जज़्बे के साथ ,,,,कोमी एकता के मनसूबो ,,,राष्ट्रिय एकता के साथ ,,कश्मीर हमारा था हमारा है ,,के नारे सिर्फ नारे के साथ नहीं ,,कश्मीर को हमारा हिस्सा बनाने की क़ानूनी प्रक्रिया के साथ ,पाकिस्तानी आतंकवादियो के खात्मे के साथ ,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...