हमें चाहने वाले मित्र

07 अक्तूबर 2016

प्रेस क्लब हित में धीरज गुप्ता तेज प्रेस क्लब कोटा के अध्यक्ष और हरिमोहन शर्मा प्रेस क्लब कोटा के सचिव निर्वाचित हुए

एक धीरज जो चलते फिरते ब्लड बैंक ,,ऍन सी सी के पूर्व केडेट ,,समाज सेवक ,,कई संस्थाओ के सक्रिय पदाधिकारी के साथ साथ पत्रकार साथियो की संघर्ष की एक कहानी है ,,,जी हाँ दोस्तों में बात कर रहा हूँ धीरज गुप्ता तेज की ,, दो दशक पहले ,,कोटा प्रेस क्लब के चुनाव में ,,अपने गुरु साथी के साथ ,,यह धीरज गुप्ता ,,मेरे प्रतिद्वंद्धि के रूप में फ्रेंडली चुनाव के बाद मुझे दो वोट से हराकर ,,प्रेस क्लब कोटा के सचिव बने ,,,इनके गुरु अध्यक्ष ,,यह सचिव ,,,बस फिर क्या था ,,एक युवा उत्साही शक्ति के संचार पत्रकार की हैसियत से ,,धीरज गुप्ता ने टीम भाव से ,,अपने गुरु के आदर सम्मान के साथ , कोटा गुमानपुरा स्थित ,प्रेस क्लब कोटा के इस भवन की नींव की ईट रखवाई ,,इस भवन को तैय्यार करवाया ,,पत्रकारों के बैठने ,,पत्रकारों की बैठके आयोजित करने और प्रेस क्लब कोटा की अपनी सम्पत्ति बनवाई ,,,कई पत्रकार सम्मेलन किये ,,जार जो एक पत्रकारों का संगठन है उसे कोटा में प्रमुखता दिलाई ,,,प्रेस क्लब की एक मन्ज़िल फिर दूसरी मन्ज़िल बनी ,,हालात बदले ,,महत्वाकंक्षाये बदली ,,प्रेस क्लब हित में धीरज गुप्ता तेज प्रेस क्लब कोटा के अध्यक्ष और हरिमोहन शर्मा प्रेस क्लब कोटा के सचिव निर्वाचित हुए ,,हरिमोहन शर्मा ने प्रेस क्लब कोटा के एक सकारात्मक ,,हंसमुख तहज़ीब का वातावरण दिया ,,हरिमोहन शर्मा ने प्रेस क्लब कोटा को ,,सेमिनारों ,,कार्यक्रमो ,,मीट दी प्रेस ,,खेल कूद ,,आमोद प्रमोद कार्यक्रमो से जोड़ा ,,हरिमोहन शर्मा ने एक एक प्रेस क्लब सदस्य के दुःख दर्द जाने ,,उसमे शामिल हुए ,,और प्रेस क्लब कोटा में हर आगन्तुक साथी को सम्मान ही सम्मान मिला ,,पुरे आठ साल के चार कार्यकालों में इस जुगल जोड़ी ,,,धीरज गुप्ता हरिमोहन शर्मा ने ,,प्रेस क्लब का सम्मान बढ़ाया ,,,कई महत्वपूर्ण कार्यक्रमो के ज़रिये इस प्रेस क्लब को आफ़ताब बनाया ,,,नए लोगो को जोड़ा ,,,भवन को सँवारा ,,,प्रेस क्लब के ऋण का चुकतारा किया ,,आमदनी के ज़रिये बढाए ,,भवन का विस्तार किया ,,लाइब्रेरी बनवाई ,,टूट फुट की मरम्मत करवाई ,,अगर किसी वरिष्ठ साथी ने ,,चुनावी जुमले के तहत ,प्रेस क्लब कोटा को ,,सदस्यो के लिए सोफा देने की घोषणा कर दी ,,जो अलफ़ाज़ प्रेस क्लब की साधारण सभा के रजिस्टर का इतिहास बने ,,उनके प्रेस क्लब के सदस्यो को उनकी हार के बाद सोफा देने पर ना नुकुर करने पर जब सदस्यो ने इस जुगल जोड़ी ,,अध्यक्ष सचिव पर ,,ऐसे जुम्लेबाज़ो के खिलाफ निंदा प्रस्ताव का दबाव बनाया ,,तो इस जुगल जोड़ी ने बढे अदब के साथ ,,,इस दबाव के बाद भी अपनों से नाराज़गी लेते हुए ,,ऐसे मुकर जाने वाले लोगो के खिलाफ कोई निंदा प्रस्ताव पास नहीं किया ,,,हाल ही में हुए चुनाव में धीरज गुप्ता के निरन्तर बढ़ते हुए क़द ,,,इनका मुस्कुराता रोबीला चेहरा ,,अंदाज़ और खासकर इनकी मूंछे ,,कुछ लोगो को चुभने लगी ,,,कई प्रचार कू प्रचार हुए ,,चुनाव एक जंग है इसमें सब जायज़ है ,,प्रेस क्लब के चुनाव थे ,,में भी प्रत्याक्षी था ,,लेकिन में निर्वाचन आवेदन दाखिल कर ,,बिटिया के सिलसिले में बाहर गया था ,,धीरज गुप्ता ,,हरिमोहन शर्मा ,,,सुकून से थे ,,मेने उनसे पूंछा ,,,उनका सटीक जवाब था ,,काम बोलता है ,,काम बोलेगा ,,लेकिन ,,खुद गुरु ही ,,मुखालिफ थे ,,,,उनका सम्मान रखना था ,,,धीरज और हरिमोहन का कहना था के इस बार देखते है ,,अपने काम पर साथियो की क्या प्रतिक्रिया आती है ,,वैसे भी चुनाव में जुमलेबाज़ी हो रही है ,,बढे बढे सटीक वायदे किये जा रहे है ,,,हम वायदे नहीं करते ,,हम काम करते है ,,उनका कहना था के ,,चुनाव है ,,कुछ लोग खुद आना चाहते है ,,,बहुत कुछ करने की बात करते है ,,प्रेस क्लब के सदस्यो को विज्ञापन से लेकर हर सुविधा ,प्लाट ,,मकान ,,प्रेस क्लब सदस्यो को मुफ्त भवन ,,,आगन्तुको को खुद के पास से चाय नाश्ता ,,,रोज़ सेमिनार ,,रोज़ पत्रकार वार्ताए ,,खेलकूद के कार्यक्रम ,,पारिवारिक पिकनिक ,,,रिसर्च कार्यक्रम ,,दबे हुए भवन की मरम्मत ,,नल का बिल ,,,आय के ज़रियों में वृद्धि ,,पत्रकारों और खासकर प्रेसक्लब के सदस्यो के लिए अच्छे दिनों की बौछारे कर रहे है ,,तो देख लेते है ,,,,एक विराम अगर ले भी ले तो क्या फ़र्क़ पड़ता है ,,बस इसी उम्मीद के साथ ,,अपने साथियो द्वारा पुराने कामो को ,, लेकर, वोट डालने की उम्मीद को लेकर ,,जुमलो से जुम्लेबाज़ियो से अलग हठकर ,,कितना वोट पड़ता है ,,सिर्फ ज़ीरो प्रचार के साथ चुनाव मैदान में रहे ,,नतीजा जो आया उसे स्वीकार किया ,,अब इस जुगल जोड़ी के साथ पांच इनके अपने निर्वाचित सदस्य और दो यह पूर्व अध्यक्ष ,,पूर्व सचिव होने के नाते ,मानद सदस्य होने के कारण इनके साथ कुल सात और हाल ही में निर्वाचित पैनल के साथ छह सदस्य है ,,सदस्यो की संख्या में पड़ला इनका भारी है ,,,लेकिन चुनाव हो गए ,,तल्खियां खत्म,हो गयी ,,जो जीते है एक सपना , ,एक कार्ययोजना ,,,कई वायदे ,,कई उम्मीदे साथ लेकर आये है ,,,वोह भी हमेशा कन्धे से कन्धा मिलाकर साथ रहे है ,,,कोई छोटा भाई है तो कोई बढ़ा भाई है ,,सब गले मिले है ,,फ्रेंडली चुनावी मैच खत्म हुआ है ,,अब जो भी मेन्डेट है ,,पुरे आदर सम्मान के साथ स्वीकार्य है ,,गजेन्द्र व्यास और उनके निर्वाचित सदस्यो को जीत की बधाई है ,,ईश्वर उनके किये गए वायदे पुरे करने की उन्हें शक्ति दे ,,इस काम में धीरज ,,हरिमोहन की पुत्री टीम भाई गजेन्द्र के साथ पुरे निर्वाचन कार्यकाल में कन्धे से कन्धा मिलाकर साथ रहेगी ,,जो ज़िम्मेदारी दी जायेगी उसे पूरा करेंगे ,,,प्रेसक्लब के परिवर्तन का आंकलन एक बार फिर दो साल बाद अक्टूबर माह में श्राद्ध महीनों से शुरू होकर होगा ,,,,फिर चुनाव होंगे ,,फिर नतीजे आएंगे ,,तब तक के लिए सभी साथियो को एक साथ ,एक जुट होकर ,,नियमित बैठके कर ,,,जो कमिया है उन्हें दूर करना चाहिए ,,जो दूरिया बढ़ी है उन्हें हिल मिलकर ,,गले मिलकर दूर करना चाहिए ,,बुज़ुर्गो को सम्मान ,,छोटो के स्वाभिमान की रक्षा के लिए एक नया क़दम उठाना चाहिए ,,प्रेस क्लब को सजाना ,,सँवारना चाहिए ,,प्रेस क्लब के सदस्यो के हक़ो के लिए संघर्ष करना चाहिए ,,,हम सब साथ साथ है ,,हम एक है ,,प्रेस क्लब का स्वाभिमान ,,प्रेसक्लब का संरक्षण ,,इसको सजाना ,,इसे सँवारना ,,इस प्रेस क्लब के सदस्यो के आमोद ,,प्रमोद ,,रिसर्च डवलपमेंट ,,कार्यक्रमो के लिए हमे,,,,,, कुछ लोगो के इंटरफियर से ऊपर उठकर ,, एक जुट होकर ,,प्रेस क्लब के विकास के लिए संकल्प बद्ध होना चाहिए यह सब हमारे नव् निर्वाचित अध्यक्ष भाई गजेन्द्र व्यास के लिए नामुमकिन नहीं ,,हम सब उनके साथ है ,,गजेन्द्र व्यास के सपनो ,,उनके किये गए वायदों को साकार करने वाली जो भी रणनीति हो उसके साथ है ,,,,गजेन्द्र व्यास का बढ़ा दिल है ,,गजेंदर व्यास में टीम भाव है ,,,लोगो को साथ लेकर चलने का जज़्बा है ,,,प्रेस क्लब सदस्यो ने उन पर भरोसा जताया है ,,हम सब उस भरोसे के साथ है ,,एक बार फिर ,,गजेन्द्र व्यास सहित सभी निर्वाचित भाइयो को बधाई ,,,धीरज गुप्ता और हरिमोहन शर्मा की जुगल जोड़ी ,,के प्रेस क्लब विस्तार ,,प्रेस क्लब के स्वाभिमान के लिए किये गए रचनात्मक ऐतिहासिक कार्यक्रमो के लिए उन्हें बधाई ,,उन्हें सेल्यूट ,,,उन्हें सलाम ,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...