हमें चाहने वाले मित्र

07 अक्तूबर 2016

,उनके खून के पीछे आप छुपे हो ,,उनकी आप सियासी दलाली कर रहे हो

जिन्होंने देश की सीमाओ पर ,,सर्जिकल स्ट्राइक किया है ,,उनके खून के पीछे आप छुपे हो ,,उनकी आप सियासी दलाली कर रहे हो ,,जवानों ने अपना खून दिया उसकी आप दलाली कर रहे हो ,,,,राहुल गांधी ने ,,खूब कहा ,,ऐसी दुखती नब्ज़ पर हाथ रखा ,,के मिडिया सहित सभी दलालो की पोल खुल गयी ,,आप पाकिस्तान जाते हो ,,शरीफ की माँ को साडी देते हो ,,बेटी को मुबारकबाद देते हो ,,फिर आपके आते ही ,,पठानकोट में हमले होते है ,,हमले का मुंह तोड़ जवाब देने की जगह आप ,,पाकिस्तान की जांच एजेंसियों को ,,पठानकोट की जांच के लिए दावत देते हो ,,कश्मीर में हमारे जवानों के केम्प में ,,सिर्फ चार आतंकवादी घुसते है ,,कई जवानो को मोत के घाट उतारते है ,,आप पाकिस्तान पर हमला नहीं करते ,,मिडिया में अलग अलग खबरे लीक करवाते हो ,,हमारे जवान जो सीमाओ पर खड़े है ,,उनके पास बन्दूके है ,, हथियार है ,,हमारे हाथो में परमाणु बम का रिमोट है ,,बढ़ी फ़ौज है ,,,विश्व के हम सबसे बढे योद्धा है ,,लेकिन हमारे जवानों को बिना लड़े ही ,,मरवा दिया गया ,,आतंकवादियो की रेकी नहीं की गयी ,,आतंकवादी कैसे पहुंचे,,हमारी निगरानी में चूक कैसे हुई ,,सब ठंडे बस्ते में बन्द ,,शुक्र है हमारे जवानों का जिन्होंने बहादुरी दिखाई ,,पाकिस्तान की सीमा में घुसे ,,उन्हें जवाबी कार्यवाही में घर में घुसकर मारा ,,,जान हथेली पर रख कर हमारे जवान गए ,,,हमारे जवानों की आतंकी हमले में जाने गयी ,,,ऐसे जवानों की बहादुरी की प्रशंसा करने ,,उन्हें पुरस्कृत करने ,,उनकी पीठ थपथपाने की जगह सारा क्रेडिट अकेले ,एक प्रधानमंत्री ,,रक्षामंत्री को ,,मिडिया के ज़रिये मैनेज न्यूज़ से करवाना ,,क्या ,,हमारे फोजियो की बहादुरी ,,उनकी जांबाज़ी ,,हमारी फोजियो की कुर्बानियो का सियासी फायदा उठाना नहीं ,,और अब जब गोआ के पर्णिकर है ,,जो रक्षा मंत्री के रूप में पूरी तरह असफल रहे है ,,पंजाब में उत्तरप्रदेश में चुनाव है ,,,कोई मुद्दा नहीं तो फोजियो की बहादुरी ,,जांबाज़ी को सियासी फायदे के लिए इस्तेमाल करना ,,क्या ,,खून की सियासत नहीं ,,राहुल गांधी के ,,बयांन के बाद वही हुआ जो उन्होंने कहा ,,,फोजियो की जांबाज़ी ,,बहादुरी ,,उनकी कुर्बानियो पर सियासत सिर्फ सियासत ,,,क्या नरेन्द्र मोदी जाकर सीमा पर लड़े ,,नहीं तो फिर ,,सर्जिकल स्ट्राइक का क्रेडिट सिर्फ और सिर्फ फ़ौज को ही मिलना चाहिए ,,सियासत कर खुद को मज़बूत बताने की कोशिश सच ऐसे जांबाज़ बहादुरों के जज़्बात के साथ खिलवाड़ है ,,यही राहुल गांधी ने कहा और अब यह सभी भाजपाइयों ,,आपियो दूसरी पार्टी के लोगो ने साबित भी कर दिया है ,,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...