हमें चाहने वाले मित्र

15 अगस्त 2016

पहली बार किसी प्रधानमंत्री के भाषण को देश की सर्वोच्च अदालत के मुख्य न्यायधीश ने पूरा ध्यान से सूना और फिर सुप्रीम कोर्ट जजमेंट की तर्ज़ पर उसे रिजेक्ट कर दिया ,,

हिंदुस्तान के इतिहास में ,,,लालकिले का अपना इतिहास है ,,लालकिले से आज़ादी का तिरंगा फहरा कर देश के प्रधानमंत्री द्वारा देश की जनता को सम्बोधित करने का अपना इतिहास है ,,लेकिन दोस्तों आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ,,अपने भाषण से एक नया इतिहास बनाया है ,,पहली बार किसी प्रधानमंत्री के भाषण को देश की सर्वोच्च अदालत के मुख्य न्यायधीश ने पूरा ध्यान से सूना और फिर सुप्रीम कोर्ट जजमेंट की तर्ज़ पर उसे रिजेक्ट कर दिया ,,रिजेक्ट ही नहीं किया तल्ख टिप्पणियां भी की ,,देश को इन्साफ की ज़रूरत है ,,रोज़गार की ज़रूरत है ,,देश को अदालतों की ज़रूरत है ,,देश को और भी कई ज़रूरते है ,,लेकिन भाषण सिर्फ पुरानी सरकार को नीचा दिखाने की गरज़ से तैयार किया गया था ,,कितना सच कितना झूँठ था ,,यह देश के सर्वोच्च अदालत के न्यायधीश जस्टिस ठक्कर ने जनता की खुली अदालत में अपनी तल्ख टिप्पणियों के साथ साबित कर दिया है ,,अपने मुंह मिया मिट्ठू बनना अलग बात है ,,और ज़मीनी हक़ीक़त दूसरी बात है ,,रहा सवाल अपनी ताक़त पुरानी सरकार को नीचा दिखाने की कोशिश करने की ,,तो जनाब यह पब्लिक है सब जानती है ,,जमा जमाया ढांचा ,,चलती हुई योजनाए उनमे सियाय अटल जी का नाम लिखने के अलावा कोई बदलाव नहीं ,,वही का वही ,,,दालें ,,रोज़मर्रा की खाने पीने की चीज़े कितनी महंगी है ,,जनता को सब पता है ,,,फिर यह सस्ताई कैसे हुई मेरे भाई ,,,सुरक्षा के क्या हाल ,,,देश में क़ानून व्यवस्था से प्रधानमंत्री जी खुद तंग हो गए है ,,,मेने तो कल ही लिख दिया था ,,लेकिन कल लिखते वक़्त मुझे अंदाज़ा न था के मेरी बातो का समर्थन देश के सर्वोच्च न्यायालय के न्यायधीश भी करेंगे ,,,शुक्रिया जस्टिस ठाकुर साहब ,,देश की जनता के लिए सच बोलने का साहस हर किसी में नहीं होता ,,,आपने वोह साहसिक कार्य कर दिखाया है ,,एक बार फिर शुक्रिया ,,सियासी पार्टी कोई सी भी हो ,,देश की जनता को झूंठे आंकड़े दिखाकर उल्लू बनाना चाहती है लेकिन देश के बुद्धिजीवी ,,देश की सर्वोच्च संस्था के ज़िम्मेदार अगर इस तरह निर्भीकता से ऐसे फेंकुओं को ,,आयना दिखाने लगे तो सच देश की जनता को बेवक़ूफ़ बनाने के इस गोरखधंधे पर काफी हद तक रोक ,,लग सकेगी ,,,जय भारत ,,जय हिंदी ,,जय हिन्द ,,जय सुप्रीमकोर्ट ,,जय सुप्रीम कोर्ट के जज ठक्कर साहब ,,,,,,,,,,,,,,,,,जय लोकतंत्र ,,जय भारत की आज़ादी सच्ची आज़ादी ज़िंदाबाद ,,,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...