हमें चाहने वाले मित्र

19 जुलाई 2016

राहुल ने कहा था-संघ ने गांधी को मारा: SC ने कहा-माफी मांगें; कांग्रेस बोली-हम सबूत देंगे



कोर्ट ने कहा कि अगर राहुल अपना बचाव करना चाहते हैं और बयान पर माफी नहीं मांगते तो बेहतर होगा कि वो ट्रायल का सामना करें।
नई दिल्ली.सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को राहुल गांधी से कहा कि वे आरएसएस को महात्मा गांधी का हत्यारा बताने के मामले में माफी मांगें या फिर मानहानि के केस में ट्रायल के लिए तैयार रहें। कोर्ट ने कहा कि 'नाथूराम गोडसे ने महात्मा गांधी को मारा' और 'आरएसएस के लोगों ने महात्मा गांधी को मारा', इन दोनों बातों में बहुत फर्क है। उधर, कांग्रेस ने कहा कि राहुल माफी नहीं मांगेंगे। इसकी बजाय वे इतिहास से जुड़े फैक्ट्स और सबूत पेश करेंगे। इस मामले में अगली सुनवाई 27 जुलाई को होगी।राहुल ने कब दिया था ये बयान...
- राहुल ने यह बयान 6 मार्च 2014 को मुंबई के भिवंडी के सोनाले इलाके में एक रैली में दिया था।
- उन्होंने कहा था- "आरएसएस के लोगों ने महात्मा गांधी को मारा था।"
- इस बयान के बाद आरएसएस की एक शाखा के सेक्रेटरी राजेश कुंटे ने राहुल के खिलाफ भिवंडी के लोकल कोर्ट में क्रिमिनल केस दर्ज करवाया था।
- कुंटे का आरोप था कि इससे आरएसएस की छवि खराब हुई है। यह बयान जानबूझकर दिया गया है।
- राहुल ने मई 2015 में सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल कर यह केस खारिज करने की मांग की थी।
सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा?
- सुप्रीम कोर्ट ने राहुल से पूछा- ''आपने आरएसएस के बारे में इस तरह का बयान क्यों दिया? इस बयान से आपने इस ऑर्गनाइजेशन से जुड़े हर शख्स को एक ही रंग से रंग दिया।''
- ''आप किसी ऑर्गनाइजेशन पर इस तरह का आरोप नहीं लगा सकते हैं।''
-"आप किसी को पब्लिकली क्रिटिसाइज नहीं कर सकते। हम सिर्फ यह जांच कर रहे हैं कि उन्होंने जो बयान दिए, वे मानहानि के दायरे में हैं या नहीं?''
- "राहुल को यह साबित करने की जरूरत है कि आरएसएस के खिलाफ दिया बयान लोगों के हित में था।''
- सुनवाई के दौरान राहुल के वकीलों ने उनके बयान को सही ठहराने की कोशिश की और दलील दी कि यह ऐतिहासिक फैक्ट है। इसके अलावा सरकारी रिकॉर्ड में यह दर्ज है।
- इस पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा- "यदि राहुल गांधी खुद को डिफेंड करना चाहते हैं और माफी मांगने के लिए तैयार नहीं हैं तो बेहतर होगा कि वे ट्रायल का सामना करें।"
कांग्रेस ने क्या कहा?
- कांग्रेस के चीफ स्पोक्समैन रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ''राहुल गांधी के माफी मांगने का सवाल ही नहीं उठता। इस तरह का सुझाव पहले भी दिया गया था लेकिन इसे राहुल गांधी ने मंजूर नहीं किया था।''
- ''राहुल गांधी मैच्योर पॉलिटिशयन हैं। उन्हें इतिहास से जुड़े फैक्ट्स का नॉलेज है। कांग्रेस और राहुल गांधी इन टिप्पणियों का उचित मंच पर बचाव करेंगे।''

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...