हमें चाहने वाले मित्र

20 मई 2016

यहां मंदिरों में बज रहे हैं ‘बेटी गीत’, इसलिए बाइक खरीदने पर पिता को मिलता है ऑफर



इस अनोखी पहल की शुरूआत पांच मंदिरों से की गई है।
इस अनोखी पहल की शुरूआत पांच मंदिरों से की गई है।
पानीपत (हरियाणा). यहां बेटियों के लिए एक दिलचस्प शुरुआत हुई है। बता दें कि लोग अपने घरों में बेटियों को जन्म देने को इंस्पायर हो, इसके लिए बाकायदा मंदिर में भजन के साथ 'बेटी गीत' का ऑडियो बजाया जा रहा है। पानीपत के कुछ मंदिरों में सुबह-शाम बेटी गीत सुने जा सकते हैं। किस तरह का बजाया जाता है गाना, किसलिए पिता को बाइक खरीदने पर दिया जा रहा है डिस्काउंट ऑफ़र...
- हरियाणवी में बजने वाला गान कुछ इस तरह का है - "मात मुझे मरवाइए ना, तुम्हारी शान देखना चाहूं हूं। गर्भ से बाहर निकलकर, हिंदुस्तान देखना चाहूं हूं..। "
- पानीपत के मंदिरों में लोग सुबह-शाम भजन-कीर्तन के साथ बेटी गीत सुनते हैं। लोगों की मानें तो ये गीत लोगों को बेटियों को आगे बढ़ाने के लिए इंस्पायर कर रहे हैं।
- दरअसल, बेटियों को बचाने और पढ़ाने के लिए ये अनोखी पहल शुरू की गई है।
- यहां के कुछ जागरुक लोगों ने इसके लिए 'वुमन एम्पावरमेंट एंड बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' टीम बनाई है।
- वे इन गीतों की सीडी, कैसेट बनवाकर मंदिरों में बांटते हैं। मंदिरों में बजाने के लिए आठ गीतों का सिलेक्ट किया गया है। इनमें कुछ हरियाणवी में हैं और कुछ हिंदी में हैं।
सत्संग में बजते हैं गाने
- पानीपत के सेक्टर 13-17 के शिव मंदिर, 8 मरला कॉलोनी के राधा-कृष्ण मंदिर, सेक्टर 11 मंदिर, मलिक एनक्लेव मंदिर में, इंसार बाजार हिंदू सत्संग मंदिर आदि में बेटी गीत बजाए जा रहे हैं।
- टीम की मेंबर मोनिका गुप्ता, अनिशा मक्कड़, सानिया आर्या यह जिम्मेदारी संभाल रही हैं।
- वे इसके लिए मंदिरों में पुजारियों से कॉन्टैक्ट करती हैं। फिर उनके हां करने पर बेटी गीतों की कैसेट और सीडी उन्हें देती हैं।
- वे कहती हैं ‘बेटियों पर बने गानों को धार्मिक गानों के साथ बड़े लोग बहुत आनंद के साथ सुनते हैं। बेटियों के सम्मान के लिए जागरूकता लाने के लिए यह पहल की है। मंदिरों में महिलाएं ज्यादा पहुंचती हैं। बेटी सुरक्षा के लिए महिला का जागरूक होना जरूरी है।’
बेटियों के पिता को बाइक खरीदने पर मिल रहा है ऑफर

- उधर, बाइक खरीदने पर एक बेटी है तो एक हजार, दो बेटी हैं तो दो हजार और तीन बेटी हैं तीन हजार रुपए की छूट भी दी जा रही है।
- पानीपत में दो एजेंसियों ने इस अनोखी स्कीम की शुरुआत की है। अब तक 120 लोग इसका फायदा उठा चुके हैं।
- वहीं, बिल बुक, एजुकेशन इंस्टिट्यूट के कागजात और फिर विभागीय पत्राचार पर बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ की स्पेशल मोहर चस्पा करवाई जा रही है।
- इसके लिए मोहर भी बांटी जा रही। टीम मेंबर ललित गोयल कहते हैं ‘कैम्पेन से अबतक 250 से अधिक मेंबर जुड़ चुके हैं।’

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...