हमें चाहने वाले मित्र

20 मई 2016

,रिखब चंद धारीवाल की पूण्य तिथि के अवसर पर उनकी मूर्ति स्मारक स्थल पर ही रिलीज़ हुई ,

, हाड़ोती ही नहीं राजस्थान भर में उद्योगों को विकसित कर राजस्थान को रोज़गार और खुशहाली देने वाले पूर्व उद्योग मंत्री स्वर्गीय रिखब चंद धारीवाल की पौत्र बहु श्रीमती एकता धारीवाल ,,की डॉक्युमेंट्री ,,मेरी क़लम से ,,आज प्रीमियर स्तर पर ,,रिखब चंद धारीवाल की पूण्य तिथि के अवसर पर उनकी मूर्ति स्मारक स्थल पर ही रिलीज़ हुई , ,रिखब चंद धारीवाल ,,के राजस्थान के सर्वागीण विकास और कोटा की बेहतरी को लेकर उनके कार्यो को सजाते हुए निर्मित एकता धारीवाल की यह डॉक्युमेंट्री फिल्म ,,हिट ही नहीं सुपर हिट हो गयी ,,,एकता धारीवाल ने डॉक्युमेंट्री की शुरुआत के पहले परिचय देते हुए कहा के विश्व भर में अब तक 155 लोगो के काम काज को लेकर ,,प्रमाणित दस्तावेजों के साथ डॉक्युमेंट्री बनाई गयी है ,,लेकिन मुझे गर्व है के मेरे दादा ससुर पर बनाई गयी यह डॉक्युमेंट्री राजस्थान में पहली है जिसे निर्मित करने का सौभाग्य मुझे प्राप्त हुआ है ,,संक्षिप्त लेकिन सारगर्भित ,,बेहतरीन वीडियोग्राफी ,,कोटा सहित राजस्थान के उद्योगों का इतिहास ,,कोटा का सौंदर्य ,,रोज़गार ,,समस्याएं ,,समाधान और रिखब चंद धारीवाल का कोटा के औद्योगिक विकास सहित कोटा बैराज निर्माण ,,सिंचाई के लिए दायीं ,बाईं मुख्य नहर सहित ,,राजस्थान के मुख्य्मंत्री मोहन लाल सुखाड़िया ,,श्रीमती इंद्रा गांधी ,,राजीव गांधी ,,पंडित जवाहर लाल नेहरू के साथ स्थापित संबंधों को भी उजागर किया गया ,,,,दस्तावेजी सुबूतों के साथ प्रमाणित उक्त डॉक्युमेंट्री फिल्म में एकता धारीवाल ने अपनी पूरी ताक़त ,,,अपने दादा ससुर रिखब चंद धारीवाल के प्रति आस्था ,,,श्रद्धा उंडेल कर रख दी ,,एकता धारीवाल इस डॉक्युमेंट्री फिल्म के हिट होने के बाद कोटा फ़िल्मी दुनिया की एकता कपूर से भी अव्व्ल हो गयी है ,,,इस डॉक्युमेंट्री फिल्म को सोशल मिडिया ,,इंटरनेट ,यु ट्यूब सहित सभी जगह प्रचारित किया जा रहा है ,,खूबसूरत अंदाज़ में परिचय के साथ शुरू हुई यह डॉक्युमेंट्री का आमुख रिखब चंद धारीवाल के जे के उद्योग के निकट स्थित मूर्ति स्थल से उठाया गया है ,,फिर कोटा के उद्योग ,,सिंचाई योजनाएं ,,,नहरे ,,,परमाणु संयंत्र ,,कोटा बैराज का उद्घाटन ,,भील समाज का पुनर्वास ,,,सहित कई विकास कार्य बताए गये है ,,समर्थन के लिए अख़बार की कतरने ,,फोटोग्राफ साथ में दिए गए है ,,,अंत में खूबसूरत राष्ट्रीयता भरे अंदाज़ में राष्ट्रीयगान जन गण मन को संगीत के साथ कारगिल और सेनिको के साहसिक कारनामो के साथ प्रदर्शित किया गया ,,है इस कार्यक्रम को पूर्ण रूप से एकता धारीवाल ने खुद ही परफॉर्म किया और कामयाब परफॉर्म के लिए उन्हें बधाई मुबारकबाद ,,कार्यक्रम के प्रारम्भ में रिखब चंद धारीवाल के छोटे भाई पारस धारीवाल ने संक्षिप्त विवरण दिया जिसे बुलंद आवाज़ में श्रोताओं तक पहुंचाने में माइक पर एकता धारीवाल ने मदद की इनके अलावा बृजमोहन मालवीय ,,,गोविन्द राम मित्तल ,,पूर्व विधायक शिवनारायण नागर सहित कई लोगों ने रिखब चंद धारीवाल की जीवनी और क्रिया कलापो पर प्रकाश डाला ,,कार्यक्रम के प्रारम्भ में राष्ट्रिय कवि ,,बशीर अहमद मयूख ,,सहित स्वतंत्रता सेनानी आनंद लक्ष्मण खांडेकर को सम्मानित किया जबकि ,,स्वर्गीय जमील अहमद ,, इंद्रदत्त स्वाधीन सहित कई स्वंत्रता सेनानियों के परिजनों को भी सम्मानित किया ,,,,,कार्यक्रम की शुरुआत में ही रचना राठोड ने कविता पाठ कर राष्ट्रीयता का भाव का माहौल बनाया ,,,मेरी क़लम से ,,बनाई गयी डॉक्युमेंट्री के लिए एकता धारीवाल को ढेरो बधाइयां ,,मुबारकबाद ,,साथ ही हमारे भाई अमित धारीवाल को बधाई जिन्होंने इस काम में उन्हें मदद की ,,जबकि पूर्व मंत्री शान्ति धारीवाल भी मुबारकबाद के हक़दार है क्योंकि एक ग्रहणी बहु ने ,,वह कमाल कर दिखाया जो एक फिल्म निर्माता और सधे हुए नेतृत्व के लिए भी सम्भव नहीं था ,,यह सब इसलिए हो सका की एकता धारीवाल बहु के लिए ससुर शांतिधारीवाल एक गुरु के रूप में पथप्रदर्शक का दर्जा रखते है ,,और एकता धारीवाल ने गुरु शांति धारीवाल को गुरु दक्षिणा के रूप में एक खूबसूरत डॉक्युमेंट्री ,,ऐतिहासिक अंदाज़ में ,,एक बहतरीन खूबसूरत व्यवस्थित कार्य्रकम दिया है जिसने कांग्रेस ,,कांग्रेस कार्यकर्ताओ और खुद धारीवाल अप्रिवार का सर गर्व से ऊंचा कर दिया है ,,एकता धारीवाल ने यह बता दिया है ,,के हाड़ोती ,,जनसंघ के गढ़ में जो भी विकास है वह सिर्फ और सिर्फ कांग्रेस और कांग्रेस में भी धारीवाल परिवार की ही देन रहा है ,,कार्यक्रम में नरेश विजयवर्गीय ,,पंकज मेहता ,,मनमोहन जोशी ,,अख्तर खान अकेला ,,तबरेज़ पठान ,,उमर सी आई डी ,,अरुण भार्गव ,,डॉकटर ज़फर अहमद सहित हज़ारो लोग मौजूद थे ,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...