हमें चाहने वाले मित्र

29 अप्रैल 2016

CIC ने दिल्ली-गुजरात की यूनिवर्सिटीज से कहा- केजरी को दिखाएं मोदी की डिग्रियां



सीआईसी ने दिल्ली और गुजरात यूनिवर्सिटी को ऑर्डर दिया है कि वे नरेंद्र मोदी की डिग्री से जुड़ी जानकारी सर्च कर अरविंद केजरीवाल को दें। (फाइल)
सीआईसी ने दिल्ली और गुजरात यूनिवर्सिटी को ऑर्डर दिया है कि वे नरेंद्र मोदी की डिग्री से जुड़ी जानकारी सर्च कर अरविंद केजरीवाल को दें। (फाइल)
नई दिल्ली. सेंट्रल इन्फॉर्मेशन कमीशन (सीआईसी) ने दिल्ली और गुजरात यूनिवर्सिटी को ऑर्डर दिया है कि वे नरेंद्र मोदी की डिग्री से जुड़ी जानकारी सर्च कर अरविंद केजरीवाल को दें। बता दें कि केजरीवाल ने इस ट्रांसपेरेंसी पैनल की फंक्शनिंग की आलोचना की है। इन्फॉर्मेशन कमिश्नर एम. श्रीधर आचार्यलु ने शुक्रवार को पीएमओ से भी कहा कि वह डीयू (दिल्ली यूनिवर्सिटी) और गुजरात यूनिवर्सिटी को मोदी की डिग्रियों के नंबर और ईयर बताए ताकि उनको रिकॉर्ड्स को खोजने में आसानी हो। केजरीवाल ने लिखा था CIC को लेटर...
- बता दें कि डीयू ने कहा था कि जब तक स्टूडेंट का रोल नंबर नहीं मिलेगा, तब तक ऐसे रिकॉर्ड्स को खोजना बेहद मुश्किल होगा।
- कमीशन ने डीयू और गुजरात यूनिवर्सिटी के CPIOs (सेंट्ल पब्लिक इन्फॉर्मेशन ऑफिसर्स) से कहा है कि वे मोदी की डिग्रियों को खोजने की अच्छी तरह कोशिश करें।
- श्रीधर ने यह भी कहा कि नरेंद्र दामोदर मोदी नाम से डीयू में ग्रेजुएशन (1978) की और गुजरात यूनिवर्सिटी में पोस्ट ग्रेजुएशन (1983) की डिग्रियां होंगी जिन्हें जल्द से जल्द मि. केजरीवाल को दिखाया जाए।
- बता दें कि गुरुवार को केजरीवाल ने श्रीधर को लेटर लिखकर कहा था कि वह पीएम नरेंद्र मोदी की डिग्री से जुड़ी जानकारी पब्लिक करें।
- केजरीवाल के लेटर को ही इन्फॉर्मेशन कमिश्नर ने आरटीआई एप्लिकेशन माना है।

केजरीवाल ने की फैसले की तारीफ
- अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर सीआईसी के इस फैसले की तारीफ की है।
- उन्होंने लिखा "हम सीआईसी के इस फैसले का स्वागत करते हैं, अब सब कुछ साफ हो जाएगा।"
- इससे पहले सीआईसी ने केजरीवाल से पूछा था कि उनसे जुड़ी सारी इंफॉर्मेशन पब्लिक की जा सकती है या नहीं।
- इस पर केजरीवाल ने गुरुवार को लेटर लिखकर कहा था- मुझे कोई आपत्ति नहीं है।
- साथ ही यह सवाल भी किया था कि पीएम की डिग्रियों के बारे में इन्फॉर्मेशन छुपा कर क्यों रखी जाती है?
- 'आरोप लग रहे हैं मोदी जी के पास कोई डिग्री नहीं है। ऐसे में जनता सच जानना चाहती है।'
- 'आपने (सीआईसी) उनकी (मोदी) डिग्री से जुड़ी जानकारी पब्लिक करने से मना कर दिया। आपने ऐसा क्यों किया। यह गलत है।'
- 'मेरी रिक्वेस्ट है कि मुझ से जुड़ी जानकारी पब्लिक करने के साथ-साथ आप पीएम की डिग्री से जुड़ी जानकारी पब्लिक करने की हिम्मत दिखाएं।'
- केजरीवाल ने इसी खत को ट्वीट भी किया था।
मोदी ने अपने एफिडेविट में दिया था डिग्रियों का डिटेल
- मोदी ने 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान वाराणसी से बीजेपी कैंडिटेट के तौर पर फाइल किए गए अपने एफिडेविट में खुद को 1983 में गुजरात यूनिवर्सिटी अहमदाबाद से M.A ('मास्टर ऑफ़ आर्ट्स') बताया था।
- उससे पहले 1978 में उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से डिस्टेंस एजुकेशन प्रोग्राम के जरिए पॉलिटिकल साइंस में B.A (बेचलर ऑफ आर्ट्स) की डिग्री हासिल करना बताया था।
यूनिवर्सिटीज ने किया था जानकारी देने से इनकार
- बता दें कि डीयू ने हाल ही में RTI के जरिए मांगी गई पीएम मोदी की बीए की डिग्री की इंफॉर्मेशन देने से मना कर दिया था।
- यूनिवर्सिटी ने कहा था कि बिना रोल नंबर के डिग्री की जानकारी देना पॉसिबल नहीं है।
- इससे पहले गुजरात यूनिवर्सिटी ने भी मोदी की एमए की डिग्री की इंफॉर्मेशन पब्लिश करने से इनकार कर दिया था।
- गुजरात यूनिवर्सिटी ने कहा था कि मार्कशीट और इससे जुड़ी अन्य जानकारी निजी होती हैं इसलिए इन्हें पब्लिक नहीं किया जा सकता।
- पीएमओ ने भी पीएम की एमए की डिग्री से जुड़ी जानकारी मांगने पर कहा था कि उनके पास इससे जुड़ी कोई जानकारी नहीं है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...