हमें चाहने वाले मित्र

02 अप्रैल 2016

सऊदी में रियाद के गवर्नर ने किया मोदी का वेलकम, टेररिज्म पर हो सकती है बात


सऊदी अरब में पहुंचे मोदी ने रियाद के गर्वनर प्रिंस फैजल बिन बांदर बिन अब्दुलअजीज से मुलाकात की।
सऊदी अरब में पहुंचे मोदी ने रियाद के गर्वनर प्रिंस फैजल बिन बांदर बिन अब्दुलअजीज से मुलाकात की।
रियाद.तीन देशों की यात्रा पर निकले नरेंद्र मोदी अपने आखिरी पड़ाव में शनिवार को सऊदी अरब पहुंच गए हैं। यहां उनका रियाद के गर्वनर प्रिंस फैजल बिन बांदर बिन अब्दुलअजीज ने स्वागत किया। इससे पहले मोदी वॉशिंगटन में न्यूक्लियर सिक्युरिटी समिट और बेल्जियम में भारत-ईयू समिट में हिस्सा ले चुके हैं। किंग सलमान के साथ करेंगे लंच...
अपडेट्स...
9.21 PM: सऊदी अरब में बसे भारतीयों के लिए हेल्पलाइन शुरू की है: पीएम
9.21 PM: अगर विदेश में कोई भारतीय संकट में है, तो उसे फौरन हेल्प मिलेगी: मोदी
9.21 PM: विदेश में रहने वाले भारतीयों के लिए कई नई सुविधाएं शुरू की: पीएम
9.20 PM: 'सऊदी अरब से सिक्युरिटी और इन्वेस्टमेंट पर बात होगी'
9.20 PM:भारत की शक्ति का पूरी दुनिया ने लोहा माना: पीएम
9.20 PM: आप मेरे लिए परिवार की तरह हैं: मोदी
9.20 PM: L&T वर्कर्स को पीएम मोदी अड्रेस कर रहे हैं।
8.13 PM:रियाद में इंडियन कम्युनिटी को अड्रेस कर रहे मोदी।
8.13 PM:विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप का ट्वीट, इंडियन कम्युनिटी को अड्रेस करते मोदी की
7.30 PM:मोदी रियाद के अल मसमक फोट्रेस पहुंचे।
- शनिवार को मोदी की मुलाकात सऊदी अरब के किंग सलमान बिन अब्दुलअजीज से होगी।
- साथ ही सऊदी किंग मोदी के सम्मान में लंच भी रखा है। इसमें कई सऊदी मिनिस्टर्स और ऑफिशियल हिस्सा लेंगे।
- लेकिन दुनिया की नजरें किंग के बेटे प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान नाएफ और मोदी की मीटिंग पर टिकी हैं।
- सऊदी मीडिया भी मोदी विजिट काे काफी कवरेज दे रहा है। सऊदी सरकार ने न्यूजपेपर्स में मोदी के वेलकम में ऐड दिए हैं।
- इस मुलाकात में टेररिज्म और मिडल ईस्ट में कट्टरपंथ जैसे इश्यू पर बात हो सकती है।
- इसके अलावा मोदी कई एमओयू भी साइन कर सकते हैं।
- बता दें कि सऊदी अरब जाने वाले मोदी चौथे पीएम हैं। इससे पहले मनमोहन सिंह 2010 में, इंदिरा गांधी 1982 और जवाहरलाल नेहरु 1956 में गए थे।
यहां भी जाएंगे मोदी

- मोदी की सऊदी कंपनीज के सीईओ और आंत्रप्रेन्योर्स से मीटिंग हो सकती है।
- वह मसमर्क फोर्ट का दौरा करेंगे और इंडियन कम्युनिटी को अड्रेस भी करेंगे।
- मोदी के टाटा कंसल्टेंट सेंटर भी जाएंगे। यहां एक हजार महिलाओं को ट्रेनिंग दी जाती है। इनमें करीब 80% सऊदी अरब की हैं।
- वह रियाद के दाहियत नामार में लार्सन एंड टर्बो (एलएंडटी) के इंडियन वर्कर्स से मिलने भी जाएंगे। ये लोग यहां रियाद मेट्रो प्रोजेक्ट में लगे हुए हैं।
सऊदी दौरे पर नजर
- सऊदी अरब दुनिया का सबसे बड़ा ऑयल एक्सपोर्टर देश है। अरब देशों की जीडीपी में 25% कॉन्ट्रिब्यूशन सऊदी अरब का है।
- गल्फ को-ऑपरेशन काउन्सिल के देशों की कुल जीडीपी में 50% कॉन्ट्रिब्यूशन सऊदी अरब का है।
- हर साल दुनिया भर के लोग हज के लिए भी सऊदी अरब जाते हैं। करीब 1 लाख 34 हजार भारतीय हर साल हज के लिए जाते हैं।
- मोदी भारत से हज पर जाने वाले लोगों के लिए ज्यादा सहूलियतों की मांग कर सकते हैं।
- यह भारत का चौथा सबसे बड़ा ट्रेडिंग पार्टनर है।
- सऊदी अरब में भारत का एक्सपोर्ट 11 बिलियन डॉलर से ज्यादा है।
- भारत में सप्लाई होने वाले क्रूड का 20% हिस्सा सऊदी अरब से आता है।
- पिछले साल भारत ने सऊदी अरब से 21 बिलियन डॉलर का क्रूड खरीदा था।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...