हमें चाहने वाले मित्र

04 अप्रैल 2016

हाथ नहीं पैरों से चलाते हैं कार और नाक से मोबाइल, कंधों से करते हैं शेविंग



पैरों से कार ड्राइव करते हैं विक्रम
पैरों से कार ड्राइव करते हैं विक्रम
इंदौर.दोनों हाथ नहीं होने के कारण लोकसभा-विधानसभा चुनाव में पैर से वोट डालने वाले और पैर से ही गाड़ी चलाकर ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन करने वाले विक्रम अग्निहोत्री अब यशवंत क्लब का चुनाव लड़ेंगे। मध्य प्रदेश के इंदौर के रहने वाले विक्रम के भले ही हाथ नहीं हैं, लेकिन लेकिन ये पैरों से कार ड्राइव करते हैं।हाथ नहीं तो कंधों के सहारे करते हैं शेविंग...
- हाथ नहीं होने के बाद भी विक्रम को स्विमिंग करने और फुटबॉल खेलने का शौक है।
- वे कंधों के सहारे शेविंग और पैरों से टाइपिंग करते हैं। यहीं नहीं वे अपने स्मार्टफोन को नाक से ऑपरेट करते हैं।
- 7 साल की उम्र में एक हादसे में दोनों हाथ गंवाने वाले विक्रम भीड़ भरी सड़कों पर आसानी से कार चलाने का दावा करते हैं।
- विदेशों में ड्राइविंग के ज्यादातर मामलों में लोगों ने कार मोडिफाई कर स्टीयरिंग को पैरों के पास शिफ्ट कर देते हैं, जबकि विक्रम बगैर फेरबदल के आसानी से ड्राइव करते हैं।
जर्मनी से पढ़ाई करने के बाद आईआईएम में दो बार चयनित
जर्मनी में स्कूल की शिक्षा, इंदौर से बी कॉम, एमए के बाद विक्रम अब एलएलबी कर रहे हैं। दो बार आईआईएम अहमदाबाद के लिए चयनित भी हुए, लेकिन शारीरिक अक्षमता की वजह से प्रवेश नहीं मिला।
क्या कहा अग्निहोत्री ने
अग्निहोत्री ने भास्कर से चर्चा में कहा कि वह सामान्य जिंदगी जीते हैं और सामान्य रूप से चुनाव मैदान में उतरे हैं। इसलिए क्लब के सदस्य उन्हें अलग तरह से नहीं देखें। सामान्य उम्मीदवार की तरह ही लिया जाए। उन्हें अपनी तरफ से चुनाव लड़ाने के लिए टोनी सचदेवा पैनल ने भी चर्चा की थी। इसकी पुष्टि करते हुए अग्निहोत्री कहते हैं कि उनके विचार छाबड़ा पैनल और उनके समर्थकों से ज्यादा मेल खाते हैं। इसलिए उन्होंने छाबड़ा पैनल के साथ चुनाव लड़ने की घोषणा की है। छाबड़ा पैनल उनके प्रत्याशी बनने के बाद जोश में हैं। पैनल के प्रमुख छाबड़ा ने कहा कि अग्निहोत्री जिस तरह क्लब में और बाहर काम करते हैं, वह सामान्य व्यक्ति भी नहीं कर पाता है। अग्निहोत्री करीब 25 साल से क्लब के सदस्य हैं और यहां फुटबाॅल संयोजक भी हैं। वह फुटबाॅल के अच्छे खिलाड़ी और अच्छे तैराक भी हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...