हमें चाहने वाले मित्र

01 अप्रैल 2016

4 अप्रैल को J&K के CM पद की शपथ लेंगी महबूबा, PDP-BJP में ऐसे हुई डील



महबूबा की बीजेपी से जनवरी से सरकार बनाने को लेकर बातचीत चल रही थी। (फाइल)
महबूबा की बीजेपी से जनवरी से सरकार बनाने को लेकर बातचीत चल रही थी। (फाइल)
जम्मू. जम्मू-कश्मीर में नई सरकार 4 अप्रैल को बनेगी। बीजेपी नेता निर्मल सिंह ने शुक्रवार को इसका एलान किया। महबूबा मुफ्ती सीएम और सिंह डिप्टी सीएम के रूप में शपथ लेंगे। बता दें कि जनवरी में मुफ्ती मोहम्म्द सईद के निधन के बाद से राज्य में नए सीएम ने शपथ नहीं ली थी। राज्य की पहली महिला सीएम होंगी महबूबा...
- निर्मल सिंह ने कहा- राज्य में एक बार फिर पीडीपी-बीजेपी की सरकार बनने जा रही है।
- "नई कैबिनेट 4 अप्रैल को शपथ ग्रहण करेगी।"
- "पीडीपी चीफ महबूबा मुफ्ती राज्य की पहली महिला सीएम होंगी।"
- बता दें कि पीडीपी ने महबूबा को सीएम पद का कैंडिडेट चुना है।
- दूसरी ओर, स्टेट बीजेपी ने निर्मल सिंह को असेंबली में पार्टी का लीडर और डिप्टी सीएम का कैंडिडेट चुना है।
- इससे पहले, गुरुवार को पीडीपी लीडर अमिताभ मट्टू ने एक ट्वीट में महबूबा के 4 अप्रैल को शपथ लेने की बात कही थी। लेकिन बीजेपी की ओर से इस पर कोई बयान नहीं आया था।
कैसे हुई बीजेपी-पीडीपी की डील?
- सूत्रों का कहना है कि बीजेपी ने कैबिनेट के ईक्वल डिस्ट्रीब्यूशन की अपनी डिमांड छोड़ दी है।
- ऐसा कहा जा रहा है कि बीजेपी ने कुछ ज्यादा कैबिनेट बर्थ का पीडीपी का ऑफर मान लिया है।
- सूत्रों के मुताबिक दोनों पार्टियों के बीच मंत्रालयों का बंटवारा पुराने फॉर्मूले के आधार पर होगा।
पीडीपी-बीजेपी में बन गई है सहमति : राम माधव
- उधर, बीजेपी के जनरल सेक्रेटरी राम माधव ने शुक्रवार को कहा- सरकार बनाने को लेकर पीडीपी के साथ सहमति बन गई है।
- "महबूबा मुफ्ती जी और निर्मल सिंह जी के बीच बातचीत के बाद ऐसा पॉसिबल हुआ है।"
- "नई सरकार के बारे में बहुत जल्द सारी जानकारी पब्लिक कर दी जाएगी।"
- "उम्मीद है कि 2-3 दिनों में शपथ ग्रहण हो जाएगा।"
इससे पहले 10 महीने थी गठबंधन सरकार
- जम्मू-कश्मीर में बीजेपी और पीडीपी की गठबंधन सरकार मार्च 2015 से जनवरी 2016 तक रही।
- 7 जनवरी को सीएम मुफ्ती मोहम्मद सईद के निधन के बाद दोनों दलों के बीच दूरियां बढ़ गईं।
- लिहाजा, सरकार गठन को लेकर असमंजस के हालात बन गए।
- 9 जनवरी से स्टेट में गवर्नर रूल लागू है।
महबूबा का ऐसा रहा है पॉलिटिकल करियर
- 56 साल की महबूबा ने 1996 में कांग्रेस ज्वाइन की और मेन स्ट्रीम पॉलिटिक्स में आईं।
- पीडीपी को जमीनी स्तर पर पॉपुलैरिटी दिलाने में उनका बड़ा रोल रहा।
- दो बच्चों की मां महबूबा ने अपना पहला विधानसभा चुनाव बतौर कांग्रेस कैंडिडेट बिजबेहरा से जीता था।
- 1998 में मुफ्ती मोहम्मद सईद को बतौर कांग्रेस कैंडिडेट लोकसभा चुनाव में जीत दिलाने में उनका बड़ा रोल रहा।
- 1999 में उन्होेंने और सईद ने कांग्रेस छोड़कर पीडीपी बनाई।
- 2002 के विधानसभा चुनाव में महबूबा ने ही जमकर कैम्पेन चलाया और पीडीपी को 16 सीटें दिलाईं।
- कांग्रेस के सपोर्ट से सईद सीएम बने।
- 2004 में महबूबा पहली बार सांसद बनीं।
- अमरनाथ यात्रा के लिए जमीन दिए जाने के विरोध में पीडीपी ने कांग्रेस से समर्थन वापस ले लिया।
- 2008 के चुनाव में महबूबा शोपियां की वाची सीट से विधायक बनीं। पीडीपी के इस बार 21 विधायक चुनकर आए।
- वे अभी अनंतनाग से सांसद हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...