हमें चाहने वाले मित्र

09 फ़रवरी 2016

फैन को थप्पड़: गोविंदा ने सुप्रीम कोर्ट में कहा- मांगेंगे माफी, देंगे 5 लाख मुआवजा

गोविंदा । ( फाइल फोटो)
गोविंदा । ( फाइल फोटो)
नई दिल्ली. गोविंदा ने मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट को बताया कि वो उस शख्स से माफी मांगने को तैयार हैं, जिन्हें उन्होंने थप्पड़ मारा था। उन्होंने उसे 5 लाख रुपए का मुआवजा देने की भी बात कही है। सुप्रीम कोर्ट ने गोविंदा के एडवोकेट से कहा है कि दोनों पार्टी इस फॉर्मूले पर 2 हफ्ते में समझौता कर कोर्ट को बताएं। गोविंदा ने किसे थप्पड़ मारा था और क्यों मांगी मॉफी...?
- सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के बाद संतोष ने कहा- ‘मैं मुआवजे से संतुष्ट नहीं हूं। उन्हें पहले मुझसे मिलना चाहिए।
क्या है मामला?
- गोविंदा 2008 में मूवी ‘मनी है तो हनी है’ की फिल्मिस्तान स्टूडियो में शूटिंग कर रहे थे। उसी दौरान उन्होंने एक फैन संतोष राय को थप्पड़ मारा था।
- इसके बाद राय ने बॉम्बे हाईकोर्ट में केस दायर किया था।
-हाईकोर्ट ने 2013 में पर्याप्त सबूत नहीं होने की वजह से केस खारिज कर दिया था।
- इसके बाद राय ने सुप्रीम कोर्ट में अपील की थी।
- गोविंदा का कहना था कि राय ने साथी महिला आर्टिस्ट के साथ बुरा बर्ताव किया था, इसीलिए उन्होंने उसे थप्पड़ मारा था।
सुप्रीम कोर्ट ने माफी मांगने को कहा था
- इसके पहले, 1 दिसंबर को सुप्रीम कोर्ट ने गोविंदा से संतोष से माफी मांगने को कहा था।
- जस्टिस टीएस ठाकुर की अध्यक्षता वाली बेंच ने कहा था कि- 'गोविंदा एक पब्लिक फीगर हैं, उन्हें ऐसी हरकत नहीं करनी चाहिए थी। रील लाइफ में वो जो काम करते हैं, उसे रीयल लाइफ में उन्हें करने की जरूरत नहीं है।'
- बेंच ने गोविंदा को अपने रवैये के लिए माफी मांगने के साथ ही कोर्ट से बाहर इस मामले को सुलझाने को कहा था।
- बेंच ने घटना की वीडियो क्लिप देखने के बाद अपना फैसला सुनाया था।
फैसले के बाद गोविंदा ने कहा था- फंडिंग कहां से हो रही है, यह पता करूंगा मैं

- वह (पीड़ित) कहता है कि वह वहां गैरकानूनी तरीके से पहुंचा था। ऐसे लोगों पर नजर रखने की जरूरत है।
- हम लोगों का सम्मान करते हैं, लोगों के दिलों को ठेस नहीं पहुंचाते।
- सुप्रीम कोर्ट का जो कहना है वह हमारे लिए सर्वमान्य है। पर अभी लेटर नहीं मिला है। उसके बाद ही उस पर चर्चा करूंगा।
- दस साल निकल गए, फिर भी यह हो रहा है। सरप्राइज्ड हूं। यह सोचने लायक बात है। फंडिंग कहां से हो रही है, यह पता करूंगा मैं।
क्या कहना था विक्टिम संतोष का था
- 'एक्टर द्वारा थप्पड़ मारे जाने के कारण उसे सरेआम बेइज्जती का सामना करना पड़ा।'
- 'मैं मुंबई एक्टर बनने के लिए आया था। लेकिन थप्पड़ के कारण मेरी बेइज्जती हुई। मैं मानसिक तौर पर परेशान रहने लगा। मेरा करियर चौपट हो गया।'
- 'सात साल बाद सिर्फ सॉरी कहने से काम नहीं चलेगा। कोर्ट चाहता है इसलिए मैं बाहर मामला सुलझाने को तैयार हूं, लेकिन कोर्ट गोविंदा को मुआवजा देने का भी आदेश दे। मैं सिर्फ सॉरी नहीं चाहता।'

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...