हमें चाहने वाले मित्र

10 जनवरी 2016

वीके सिंह ने की थी तख्तापलट की कोशिश? कांग्रेस नेता ने खबर को बताया सही

दिल्ली में मार्च कर रही आर्मी की टुकड़ी। - फाइल फोटो
दिल्ली में मार्च कर रही आर्मी की टुकड़ी। - फाइल फोटो
नई दिल्ली. चार साल पहले आर्मी का दिल्ली की ओर कूच करने को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने शनिवार शाम माना कि 2012 में आई यह खबर सही थी। इस बयान से मौजूदा केंद्रीय मंत्री और उस वक्त आर्मी चीफ रहे वीके सिंह के लिए मुश्किलें खड़ी हो सकती हैं। उस वक्त यूपीए सरकार और सिंह के बीच विवाद चल रहा था।
2012 में क्या आई थी खबर, क्या है पूरी कहानी...

- अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस ने 4 अप्रैल 2012 को एक खबर छापी थी।
- उसमें दावा किया गया था कि उसी साल जनवरी में आर्मी की दो टुकड़ियों ने दिल्ली की ओर कूच किया था। दावा किया गया था कि इसका मकसद तख्तापलट की कोशिश थी।
- 16 जनवरी को आर्मी चीफ जनरल वीके सिंह ने उम्र विवाद मामले में सुप्रीम कोर्ट में अर्जी लगाई थी। सरकार से सिंह की खींचतान जारी थी।
- 16-17 जनवरी की रात हिसार (हरियाणा) में सेना की 33वीं आर्म्ड डिविजन की यूनिट ने दिल्ली की ओर कूच किया। यूनिट के साथ 48 टैंक ट्रांसपोर्टर्स थे। इस पर आर्म्ड फाइटर व्हीकल (एएफवी) लदे थे। यूनिट को नजफगढ़ के पास रोक कर वापस भेजा गया।
- आगरा में 50वीं पैरा ब्रिगेड की एक दूसरी टुकड़ी पालम तक पहुंची गई थी। उसे वहीं रोक कर वापस भेजा गया।
- खुफिया एजेंसियों ने सरकार को अलर्ट किया। दिल्ली की ओर आने वाले ट्रैफिक की चेकिंग शुरू हुई।
- रक्षा सचिव शशिकांत शर्मा (तत्कालीन) ने देर रात डीजी (मिलिट्री ऑपरेशंस) लेफ्टिनेंट जनरल एके चौधरी को बुलाया। पैरा ब्रिगेड डीजीएमओ के तहत काम करती है। उन्होंने रूटीन मूवमेंट की जानकारी दी थी।
रविवार को तिवारी ने क्या कहा?
''जोड़ने या घटाने लायक कुछ नहीं है। जो कमेंट किया था। उसके बाद और कोई कमेंट नहीं बनता।''
''मुझे मालूम है कि मेरी हिंदी थोड़ी कमजोर है, इसलिए मैं फिर से इंग्लिश में दोहरा देता हूं। जो कमेंट किया था वही है।''
किसने-क्या कहा?
- जनरल वीके सिंह ने कहा, ''तिवारी के पास आजकल कोई काम नहीं है। वे मेरी किताब पढ़ लें, सब खुलासा हो जाएगा।''
- पूर्व रक्षा मंत्री एके एंटी ने भी इस मामले में सफाई दी है। उन्होंने कहा, '' मैंने उस वक्त संसद में जो बयान दिया था, वही सही है।"
- कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने कहा, ''उस रात कुछ तो ऐसा हुआ था, जो संविधान के खिलाफ था। इसकी सच्चाई सामने आनी चाहिए। वीके सिंह जैसे शख्स को मिनिस्टर बनाना बड़ी भूल है।''
मनमोहन सिंह ने क्या कहा था?
- उस वक्त के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा था,'' सरकार के खिलाफ 16-17 जनवरी की रात सेना के दिल्ली कूच की खबर झूठी है।''
- उन्होंने खबर को बेबुनियाद और बेवजह डर फैलाने वाला बताया था। रक्षा मंत्री एके एंटनी (तत्कालीन) ने भी रिपोर्ट का खंडन किया था।
उस वक्त आर्मी ने क्या किया था दावा?

- कोहरे में मूवमेंट की प्रैक्टिस की गई थी। हर मूवमेंट की जानकारी सरकार को नहीं दी जाती।
- पाकिस्तान को पता न चले, इस वजह से टुकड़ियों का मूवमेंट दिल्ली की ओर हुआ। बॉर्डर की ओर नहीं।
- पैरा ब्रिगेड का मूवमेंट हिंडन एयरबेस की ओर था, ताकि सी-130 में उन्हें ले जाने की कैपेसिटी का पता लगाया जा सके।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...