हमें चाहने वाले मित्र

12 दिसंबर 2015

मेरे,,,, सोशल मिडिया के दोस्तों ,,एक आग्रह ,,एक अपील ,,,एक गुज़ारिश ,,इस सोशल मीडिया को ,,,प्लीज़ ,,,सोशल ही रहने दो ,,,अनसोशल ,,,,यानी असामाजिक लोगों को,,,, प्रोत्साहित कर समाजकंटक का पर्याय ना बनाये

मेरे,,,, सोशल मिडिया के दोस्तों ,,एक आग्रह ,,एक अपील ,,,एक गुज़ारिश ,,इस सोशल मीडिया को ,,,प्लीज़ ,,,सोशल ही रहने दो ,,,अनसोशल ,,,,यानी असामाजिक लोगों को,,,, प्रोत्साहित कर समाजकंटक का पर्याय ना बनाये ,,सिर्फ,,, कुछ गिनती के लोग ,,,मुट्ठीभर लोग ,,,हमारे इस सोशल मिडिया के भाईचारे ,,सद्भावना को बिगाड़कर ,,इस,,, सोशल मिडिया का नाम खराब करना चाहते है ,,ऐसे में रोज़ ,,सोशल मिडिया पर ,,एक दूसरे के साथ हंसने ,,हंसाने ,,प्यार बांटने ,,विचार बांटने वाले ,,,,हम लोगों को ज़िम्मेदार होना होगा ,,बारूद के ढेर पर रख दिए ,,,,इस सोशल मडिया को,,, हमारी अपनी हिकमत ,,राष्ट्रवादिता ,मानवता ,,निष्पक्षता ,,निर्भीकता ,,प्यार ,सद्भाव के साथ ,,,हमे खुद आगे बढ़कर,,,, इसे बचाना होगा ,सोशल मिडिया का उपयोग ,,हंसने हंसाने ,,वैचारिक जानकारी ,,एक नए ,,,राष्ट्र का रचनात्मक निर्माण के लिए,,, किये जाने को लेकर ,,,अभियान चलाना होगा ,,,नफरत फैलाने वाले ,,नफरत बांटने वाले ,,,लोगों को अलग थलग कर ,,,उन्हें क़ानून के हवाले करना होगा ,,हमे ऐसे लोगों के ,,,बहकावे से दूर रहना होगा ,,दोस्तों एक मज़हब से,,, दूसरे मज़हब की क्या दुश्मनी ,,एक पैगम्बर से ,,,दूसरे देवी देवता की ,,,क्या दुश्मनी ,,बस हमारे यह कुछ भटके हुए भाई,,, बेवजह पैगंबरों ,,देवी देवताओ के ,,,अपमान पर तुले है,,, सिर्फ इसलिए,,, के वोह हमारे इस जज़्बात ,,हमारी इस कमज़ोरी को जानते है,, के उनके ऐसा करने से हम भड़केंगे ,,,,एक दूसरे के खिलाफ मोर्चा खोलेंगे ,,लड़ेंगे,,, झगड़ेंगे और देश की सुख शांति,,, तरक़्क़ी को नुकसान पहुंचाएंगे ,,,,नफरत का बाजार गर्म करेंगे ,,ऐसे लोगों से ,,,हमे सावधान होना होगा ,,हमारे नौजवान दोस्तों ,,नौजवान भाइयो,,, खासकर नाबालिग से बालिगता की दहलीज़ पर क़दम रख रहे नोजवानो को ,,,,समझाना होगा ,,उन्हें बताना होगा ,,कोई भी पोस्ट बिना पढ़े ,,बिना समझे ,,,आगे फॉरवर्ड ना करे ,,लाइक ना करे ,,शेयर ना करे ,,दूसरे ,,,अगर कोई भी आपत्तिजनक पोस्ट नज़र आती है ,,,तो तुरंत इसकी सुचना,,, नज़दीकी थाने में ,,,नफरत फैलाने वाली पोस्ट का प्रिंट आउट ले,,और सोशल मिडिया को गंदगी से बचाने के लिए,,, ऐसे लोगों के खिलाफ ,,,कार्यवाही करवाये ,,कुछ बच्चे गलती कर सकते है ,,,केवल फॉरवर्ड करना उनका अपराध हो सकता है,,, लेकिन अब उन्हें समझदार बनना होगा ,,,कोई भी पोस्ट बिना पढ़े ,,बिना सोचे समझे,,, फॉरवर्ड नहीं करना होगा ,,ऐसी पोस्टों का बेरियर और थानेदार बनकर,,,, ऐसी पोस्ट जनरेट करने वाले को ,,, गिरफ्तार करवाना होगा ,,,दोस्तों हमारा देश साइबर क्राइम की रोकथाम के लिए ,,,तकीनीकी कमज़ोरियों के कारण ,,, कामयाब नहीं हो पा रहा है ,,हमारी सरकार,,, साइबर क्राइम को सख्त बनाने ,,दोषी लोगों को ,,,सख्त सजा दिलवाने और साइबर क्राइम थाने खोलने के प्रति ,,,, गंभीर नहीं है ,,इस पर हमारी सरकार का कोई चेक आउट भी नहीं है ,,हमारी सरकार की ऐसी पोस्ट करने वालों को,,, कठोर दण्ड दिलवाने के प्रति कोई गंभीरता भी नहीं है ,,लेकिन इसके लिए ,,,हमे सरकार को जगाना होगा ,,इसके लिए हमे ,,,सरकार को मजबूर करना होगा ,,दोस्तों ,,,सरकार की अपनी ज़िम्मेदारी है ,,लेकिन सोशल मीडिया के सिपाही होने के नाते,,, इसे साफ़ सुथरा रखने ,,इसे भाईचारा ,,सद्भाव का प्रतीक बनाये रखने के प्रति,,, हमारी भी अपनी ज़िम्मेदारियाँ है ,,हमे इस मामले में,,, जागरूकता अभियान चलाना होगा ,,सोशल साइट शुद्धिकरण के लिए,,, हमे सेमिनार ,,विधिक जानकारियों को लेकर,,, एक अभियान चलाना होगा ,,,दोस्तों यह देश हमारा ,,यह समाज हमारा ,,इस देश के लोग हमारे ,,इस देश में बसने वाले लोगों के रीती रिवाज ,धर्म परम्पराए ,,प्यार मोहब्बत हमारा ,,देवी देवता ,,पैगम्बर हमारे ,,,हम सब एक दूसरे के,,, फिर हम अपनी ज़िम्मेदारियों से दूर क्यों भागे ,,हमे आगे आना होगा ,,प्रशासन पुलिस की तो सिर्फ और सिर्फ ,,,अमन क़ायम रहे ,,विवाद ना हो इतनी ज़िम्मेदारी है ,,और वोह इसे बखूबी निभाने की कोशिश भी करते है ,,उनके पास कोई अलादीन का चिराग नहीं ,,,जो वोह इस बुराई को तलाश कर ,,,खत्म कर देंगे ,,लेकिन हमारे पास सूचनाये है ,,,समझदारी है ,,जानकारी है ,,,हम ऐसी पोस्टों को देखे ,,पढ़े ,,ज़िम्मेदार बने ,,,और ऐसी आपत्तिजनक पोस्टों के मामले में ,,,,मुक़दमा दर्ज करवाकर,,, दोषी लोगों को सज़ा दिलवाए ,,,, हम भड़के नहीं ,क़ानून अपने हाथ में ना लें ,,क़ानून का काम क़ानून करने दे अगर सड़को पर हम अपराधी के साथ झगड़ा मारपीट करने लगेंगे तो ऐसे अपराधी और हमारे लोगों में क्या फ़र्क़ रह जाएगा ,,क़ानून तोड़ने वाला हमेशा सीखचों के पीछे रहता है इस सच को हमे समझना और समझाना होगा ,,,,,पुलिस को भी ज़िम्मेदार बनना होगा ,,बस ,,,जिसके पास से पोस्ट फॉरवर्ड हुई ,,,उसे प्रथम अपराधी बना कर गिरफ्तार किया ,,,चेप्टर क्लोज़ ,,इससे बचना होगा,,,, ऐसी पोस्टों का ओरिजन कहाँ से हुआ,,, कोन लोग ऐसी पोस्टें जनरेट कर ,,,,हमारे नोजवानो को उकसाकर ,,बहकाकर ,,,ऐसी पोस्ट आगे फॉरवर्ड करवा रहे है ,,,ऐसे लोगों को तलाशना होगा ,,,,उनके चेहरे बेनक़ाब करना होंगे ,,,कोटा में अभी ,,,,दस से भी अधिक,,, इस तरह के मुक़दमे दर्ज हुए है,,,, लेकिन एक मामले में भी,,, पुलिस प्रथम अपराधी के बाद ,,,,पोस्ट जनरेट करने वाले तक ,,,,नहीं पहुंची है ,,,,अगर ऐसा हुआ होता,,,,, तो कोटा अदालत में हुआ हादसा ,,,,शायद,,, बचाया जा सकता था ,,,यह फॉरवर्ड करने वाले तो ,,,, सिर्फ और सिर्फ बेचारे है ,,,,नासमझ है ,,,मुख्य आरोपी तो ,,,,वोह लोग है ,,,जो सोशल साइट पर,,, पोस्ट बम,,, बनाकर समाज में ,,,नफरत की गंदगी फैला रहे है ,,समाज को तोडना और बिखेरना,,, चाहते है ,,लेकिन दोस्तों ,,,,कुछ लोग नासमझ हो सकते है ,,कुछ लोग नफरत फैलाने वाले हो सकते है ,,कुछ लोग अपराधी हो सकते है ,,लेकिन आप और हम तो ,,,संख्या में भी ज़्यादा है ,,समझदारी में भी ज़्यादा है ,,हमे इसे सोचना होगा ,,समझना होगा ,,,अपनी ज़िम्मेदारियों को समझना होगा ,,रोज़ हंसी ठहाके ,,शेर शायरी ,,कविताओं के ,,,इस साहित्यिक माहोल को बचाना होगा ,,रोज़ एक दूसरे को जानकारियां देने ,,एक दूसरे से जानकारियां लेने ,,,अपनी बात कहने ,दूसरे की बात समझने ,,त्योहारो पर,,, एक दूसरे को मुबारकबाद देने ,,सूचनाये देने ,,जन्म दिनों पर ,,,मुबारकबाद देने ,,सद्भाव का माहोल बनाने ,,प्यार बांटने के,, इस माहोल को ,,,इन ज़हरीले लोगों से बचाना होगा ,,आओ,,,, आप और हम ,,,,सब मिलकर ,,,संकल्प ले ,,,,के इस मामले में ,,,मिल जुलकर शपथ ले ,,,के कोई भी पोस्ट ,,,आपत्तिजनक किसी भी धर्म ,,,किसी भी वर्ग ,,,के खिलाफ आये ,,,,तो सभी मिलकर ,,,,ऐसे शख्स के खिलाफ ,,,,तुरंत क़ानूनी कार्यवाही करने के लिए ,,,,मुक़दमा दर्ज करवाये ,,,,और ऐसे लोगों को ,,,प्रोत्साहित करने की जगह हतोत्साहित करे ,,प्लीज़ आइये मेरा साथ दीजिये ,,हम ,,,एक जुट होकर ही इस बुराई का मुक़ाबला कर सकेंगे ,,प्लीज़ आइये अपने ,,,अपने ज़िलों में,,, पुलिस अधीक्षक,,,, ज़िलाकलेक्टर,,,,,विधिक सेवा प्राधिकरण से,,, सम्पर्क कर इस मामले में,,,, क़ानूनी जानकारियों के लिए,,,, प्रचार प्रसार के लिए ,,,गोष्ठिया करे ,,,,सेमिनार करे ,,,लोगों तक इस कड़वे सच और साइबर क़ानून को पहुंचाए ,,लोगों में ,,,,ऐसी कार्यवाही के खिलाफ जागरूकता अभियान चलाये ,,,,,,,प्लीज़ यह देश हमारा ,,यह समाज हमारा ,,यहां का सद्भाव ,,भाईचारा प्रमुख नारा हमारा ,,फिर क्यों हम अपनी ज़िम्मेदारियों से दूर भागे ,,आओ खुद को बदले ,,समाज को बदले ,,सोशल मिडिया में नफरत के माहोल को बदले ,,,,खुश रहे ,,दुसरो को भी खुश रखे ,,,,नफरत फैलाने वालों को रोके ,,,ठोकें नहीं ,,क़ानून के तहत उनके खिलाफ कार्यवाही करवाये ,,हम भड़के तो समझो हम हारे ,,नफरत फैलाने वाले जीते ,,इसलिए हमे नफरत फैलाने वालों को हराना भी है उन्हें जेल की सींखचों के पीछे पहुंचाना भी है ,,,,,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...