हमें चाहने वाले मित्र

19 नवंबर 2015

जंगजू ,,संघर्षशील ,,हर दिल अज़ीज़ ,,निर्गुट ,,,छत्तीस क़ौमों को साथ लेकर चलने वाले भाई क्रान्ति तिवारी

कोटा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदसत् जंगजू ,,संघर्षशील ,,हर दिल अज़ीज़ ,,निर्गुट ,,,छत्तीस क़ौमों को साथ लेकर चलने वाले भाई क्रान्ति तिवारी की कांग्रेस के पक्ष में क्रान्ति आंदोलन के कारण कोटा में कांग्रेस सक्रिय और ज़िंदाबाद हो रही है ,,,,,,,,,,,,सभी के दुःख दर्दों में शामिल होना ,,हर ज़ोर ज़ुल्म के संघर्ष के खिलाफ सबसे पहली आवाज़ क्रांतिकारी बन कर उठाना जिसका स्वभाव हो उसी का नाम क्रान्ति तिवारी है ,,,जी हाँ दोस्तों क्रांति तिवारी प्रदेश कांग्रेस कमेटी में यूँ तो कोटा में प्रदेश में सदस्य के रूप में प्रतिनिधित्व कर रहे है ,,,लेकिन ज़ुल्म ,,अत्याचार ,,नाइंसाफी ,,,समस्याओ के समाधान मामले में इनके संघर्ष के स्वभाव ने लोगों की इंसाफ की लड़ाई ने इन्हे इनके नाम के मुताबिक़ क्रन्तिकारी बना दिया है ,,, भाई क्रांति तिवारी दलगत राजनीति से ऊपर उठकर सामाजिक न्याय के हर मामले में उसके संघर्ष का हिस्सा बनते है ,,,हर घटना ,,हर मुद्दे पर सक्रिय होकर क्रांतितिवारी ने कांग्रेस में खुद को अधिकतम सक्रिय साबित कर दिखाया है ,,प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलेट की टीम के प्रमुख सदस्यों में शामिल होकर कोटा सहित राजस्थान के हर हिस्से में क्रांतितिवारी कांग्रेस को मज़बूत और सक्रिय कर ज़िंदाबाद करने में जुटे है ,,,,क्रान्ति तिवारी को अभी हाल ही में अन्ता नगरपालिका चुनाव क्षेत्र का प्रभारी बनाया था ,,कठिन काम था एक तो मुख्यमंत्री वसुंधरा का क्षेत्र उनके पुत्र सांसद दुष्यंत का संसदीय क्षेत्र भाजपा के मंत्री प्रभुलाल सैनी का विधानसभा क्षेत्र भाजपा की लहर उसके बाद भी क्रान्ति तिवारी के पर्यवेक्षण में इनकी निगरानी में कार्यकर्ताओं में इन्होने जान फूंकी ,,सक्रिय चुनावी मैनेजमेंट का ही नतीजा था के विकट परिस्थितियों के बावजूद भी इनके नेतृत्व के अंता नगरपालिका क्षेत्र में कांग्रेस ज़िंदाबाद हुई ,,,,,,,,,,,,क्रान्ति तिवारी पिछले दिनों उर्दू के हमदर्दो के साथ रैली में अपने दल बल के साथ उर्दू के हमदर्दो के संघर्ष शील जांबाजों का अपने अंदाज़ में होसला अफ़ज़ाई कर रहे थे ,,,,,,,क्रांतितिवारी के लगातार जनता से जुड़ाव ,,कार्यकर्ताओं के संघर्ष के स्वभाव ने चाहे जन आनदोलन प्रदर्शनों के तहत उनके खिलाफ कई मुक़दमे दर्ज करवा दिए हो लेकिन क्रान्ति तिवारी कोटा के आम कार्यकर्ता ,,कोटा की कांग्रेस ,,कोटा के शोषित उत्पीड़ित लोगों की ज़रूरत बनते जा रहे है जो खामोश रहकर ,,खुद बिन बुलाये ,समस्या के पास जाते है और अपने साथियों के साथ मिलकर उस समस्या का समाधान करने का कामयाब प्रयास कर दिखाते है ,,कोटा के कांग्रेस कार्यर्ताओं को उनसे बहुत उम्मीदे है उनका मानना है के कांग्रेस हाईकमान ने अगर उन्हें कोटा कांग्रेस के नेतृत्व की ज़िम्मेदारी सौंपी तो कोटा क्षेत्र में कांग्रेस राजस्थान की सभी कांग्रेस इकाइयों में मुखर और अव्वल रहेगी ,,,,,,,
सामजिक बदलाव ,,,,सामजिक न्याय ,,,,के मामले में लगातार संघर्षशील आधुनिक क्रान्ति के कोटा नायक क्रान्ति तिवारी ऐसी शख्सियत है जो पार्टी ,,जाती ,,,धर्म ,,समाज की बंदिशों से ऊपर उठ कर केवल इंसानियत और इन्साफ के लिए संघर्ष करते है ,,,,,भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस जिसे कई कोंग्रेसी चुनाव का फॉर्म भरवाते वक़्त इंडियन नेशनल कांग्रेस लिखवाते है ,,इस पार्टी के क्रान्ति तिवारी संविधान के पालक है ,,पार्टी के नीति नियमों में जो लिखा है वोह काम क्रान्ति तिवारी पूरी शिद्दत के साथ करते है ,,,,क्रांतितिवारी कच्ची बस्ती की समस्या हो ,,,क़ानून व्यवस्था का मामला हो ,,लोगों पर ज़ुल्म ज़्यादती ,,नाइंसाफी से जुड़े मुद्दे हो ,,,फैक्ट्री के मज़दूरों की छटनी का मामला हो ,,मंदिर ,,मस्जिद ,,,शमशान ,,,क़ब्रिस्तान के रखरखाव का मुद्दा हो क्रांतितिवारी हर काम में अपनी फौज के साथ मौजूद रहते है ,,,,,उनके पास कोई भी पीड़ित जाए या फिर सुनकर अख़बार में पढ़ कर वोह किसी पीड़ित की खिदमत करने जाए तो वोह यह नहीं देखते के वोह किस पार्टी ,,किस समाज ,,जाती ,,किस धर्म का है बस क्रान्ति तिवारी तो केवल पीड़ित का दुःख दर्द देखते है और फिर हर सम्भव प्रयासों में जुट जाते है ,,,कांग्रेस प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य होने के बाद भी क्रांतितिवारी किसी विशेष नेता के गुलाम नहीं है वोह कहते है के में कांग्रेस का सिपाही हूँ और कांग्रेस संगठन में आदर्शवाद है ,,सेवाभाव है ,,न्याय है इसलिए जो विधान में लिखा है ,,कांग्रेस के कर्तव्यों में लिखा है उसकी कसोटी पर मुझे खरा उतरना है ,,वोह कहते है के उनकी सर्वप्रथम जवाबदारी ईश्वर भगवान अल्लाह के प्रति है फिर दलित पीड़ितों के प्रति वोह ज़िम्मेदार है ,,वोह कहते है उनकी जवाबदारी सोनिया जी ,,,राहुल जी ,सचिन जी के प्रति है और इस मामले में वोह अपनी कसोटी पर सही है ,,,,,,,,,,,,,,,,,,,क्रान्ति तिवारी हिन्दू हो ,,,चाहे मुस्लिम हो ,,दलित हो चाहे ब्राह्मण हो सभी में ज़िंदाबाद है ,,जनसेवा कार्यों में क्रान्ति तिवारी का अंदाज़ निराला है पहले प्यार से फिर तकरार से नहीं मानने पर मुक्का लात से ,,इसीलिए क्रान्ति तिवारी के खिलाफ कुछ मुक़दमे भी दर्ज हुए है लेकिन वोह बेपरवाह है क्योंकि उन्हें अपने ईश्वर और दोस्तों जनता पर पूरा भरोसा है ,,,क्रांतितिवारी ने हाल ही में कांग्रेस हार के कारणों पर चिंतन मंथन के दौरान कांग्रेस की रीढ़ कहे जाने वाले मुस्लिम समाज को कांग्रेस से दूर होने के मामले में सोचने समझने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया , मुस्लिमों को सियासत में उचित प्रतिनितिध्त्व सम्मान देने की बात कही तो कांग्रेस कार्यालय में सन्नाटा छा गया कई लोग इनसे नाराज़ हुए लेकिन बाद में पार्टी इन्ही के विचार की लाइन पर चल पढ़ी है ,,,क्रान्ति तिवारी एक फोन पर लोगों के लिए उपस्थ्ति रहते है ,,,,,,,इसीलिए क्रांति तिवारी शोषित पीड़ित लोगों को न्याय दिलाने के मामले में एक नई क्रान्ति के महानायक के रूप में अपनी पहचान बना चुके है ,,,वोह इन्साफ की लड़ाई में यह भी ध्यान नहीं रखते के ज़ालिम उनकी अपनी पार्टी का है या अन्याय उनकी खुद की पार्टी की सरकार कर रही है वोह समझाइश असफल होने पर अपनी पार्टी की सरकार के खिलाफ भी संघर्ष का रास्ता अपना चुके है और इसीलिए उनके हमदर्द जो उनके एक इशारे पर जान देने और लेने पर आमादा होते है कहते है के क्रान्ति एक नई क्रान्ति है यह महानायक है इस युग के और हमारे लिए चौबीस केरेट खरा सोना है इसलिए क्रान्ति तिवारी हमारे लिए ज़िंदाबाद थे ,,ज़िंदाबाद है ,,ज़िंदाबाद रहेंगे ,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थानv

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...