हमें चाहने वाले मित्र

26 अक्तूबर 2015

दादरीः ABVP का आरोप-अखलाक के बेटे का हिंदू लड़की से था अफेयर, बेवजह बना मुद्दा

मोहम्मद अखलाक का बेटा दानिश (फाइल फोटो)।
मोहम्मद अखलाक का बेटा दानिश (फाइल फोटो)।
लखनऊ. उत्तर प्रदेश के दादरी में बीफ की अफवाह पर मारे गए मोहम्मद अखलाक के मर्डर को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) ने आपसी रंजिश का नतीजा बताया है। आरएसएस और बीजेपी से जुड़ी स्टूडेंट विंग एबीवीपी ने दावा किया है कि अखलाक के बेटे का हिंदू लड़की से अफेयर था। इसी कारण उसकी हत्या हुई। लेकिन लोकल नेताओं ने इसे बीफ का मुद्दा बना दिया। बता दें, घटना वाले दिन अखलाक के साथ उसके छोटे बेटे दानिश पर भी हमला हुआ था। वह फिलहाल हॉस्पिटल में एडमिट है, जबकि बड़ा बेटा सरताज चेन्नई में इंडियन एयरफोर्स में टेक्निशियन है।
एबीवीपी के मुताबिक- जानबूझकर डायवर्ट हुआ मुद्दा

> इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, एबीवीपी के अवध रीजन ऑर्गेनाइजेशन सेक्रेटरी सत्यभान ने बताया, "वेस्टर्न यूपी की कई मीडिया रिपोर्ट्स में भी ये सामने आ चुका है कि अखलाक के बेटे का गांव के ही हिंदू लड़की के साथ अफेयर चल रहा था। उस लड़की के घरवालों ने इसी बात को लेकर अखलाक के परिवार पर हमला किया था।"
> सत्यभान के मुताबिक, "कुछ पार्टी के लीडरों ने साजिश के तहत इस मुद्दे को डायवर्ट कर दिया और बीफ खाने की अफवाह फैला दी। ऐसा सिर्फ राजनीतिक फायदे के लिए किया गया था।"

> दादरी मामला तुष्टीकरण की राजनीति का ही नतीजा है। यूपी सरकार ने विक्टिम फैमिली की मदद इसलिए की, क्योंकि वे माइनॉरिटी कम्युनिटी से थे।
क्या था मामला?
बकरीद के एक दिन पहले से दादरी के बिसहड़ा गांव में एक बछड़ा चोरी हो गया था। 28 सितंबर की रात अखलाक को एक प्लास्टिक बैग लिए घर से निकलते देखा गया। अखलाक ने इसे कचरे में डाल दिया। वहां मौजूद एक बच्चे ने यह बात लोगों को बता दी। कथित रूप से इसका एलान मंदिर के लाउडस्पीकर से किया गया। इसके बाद कुछ लोग अखलाक के घर पहुंचे और उससे मारपीट की। अखलाक की मौत हो गई। आरोप था कि अखलाक के पास बीफ है। इसके बाद बीफ के मुद्दे पर कई नेताओं ने तीखी बयानबाजी की है।
एनुअल कन्वेंशन में उठेगा मुद्दा

एबीवीपी का एनुअल स्टेट लेवल कन्वेंशन सीतापुर में 1-3 नवंबर तक चलेगा। इस कन्वेंशन के पहले दिन "तुष्टीकरण की राजनीति" विषय के जरिए दादरी केस पर भी चर्चा होगी। दूसरे दिन इसमें हिस्सा लेने वाले युवाओं के सुझाव मांगे जाएंगे। यूपी के गवर्नर राम नाईक को इस कन्वेंशन में बतौर चीफ गेस्ट बुलाया गया है। दादरी मामले को यूएन में लेकर जाने के आजम खान के बयान पर भी इस कन्वेंशन में चर्चा होगी। इस बीच, सपा ने गवर्नर के आरएसएस के प्रोग्राम में जाने को लेकर कमेंट किया है। सपा नेता राम गोपाल ने कहा, ''गवर्नर आरएसएस के एजेंट के तौर पर काम कर रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...