हमें चाहने वाले मित्र

12 सितंबर 2015

चिता पर लेटे शव ने दोस्त की उंगली पकड़ी, श्मशान में ही बुलाया गया डॉक्टर divyabhaskar network Sep 12, 2015, 10:45 AM IST Print Decrease Font Increase Font Email Google Plus Twitter Facebook COMMENTS 27 1 of 5 Next फोटो: श्मशान में चिता पर पड़े शव की जांच करता डॉक्टर फोटो: श्मशान में चिता पर पड़े शव की जांच करता डॉक्टर राजकोट (गुजरात)। शहर के जेतपुर श्मशान में गुरुवार की शाम उस समय समय अफरा-तफरी मच गई, जब शव की सांसे चलने की खबर फैली। वाकया उस समय का है, जब शव को चिता पर लिटाकर उस पर लकड़ियां रखी जा रही थीं। इसके बाद श्मशान में ही एक डॉक्टर को बुलाया गया। लगभग 10 मिनट की जांच के बाद डॉक्टर ने मृत शरीर घोषित कर दिया और इसके बाद अंतिम संस्कार हुआ। राजकोट शहर के जेतपुर में रहने वाले देवेंद्र पंड्या (25) की बुधवार सुबह बीमारी से मौत हो गई थी। देवेंद्र हार्ट पेशेंट थे और पिछले तीन दिनों से सिविल अस्पताल में भर्ती थे। सुबह डॉक्टर्स ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था। शाम को देवेंद्र का शव अंतिम संस्कार के लिए जेतपुर श्मशान घाट लाया गया था। दोस्त की उंगली पकड़ी: देवेंद्र के एक दोस्त के अनुसार जब शिव चिता पर रखा हुआ था और उस पर लकड़ियां रखी जा रही थीं। इसी दौरान देवेंद्र ने उसकी एक उंगली पकड़ ली। यह दृश्य मौके पर मौजूद कुछ अन्य लोगों ने भी देखा और तुरंत डॉक्टर को बुलाया। सूचना मिलते ही पुलिस की टीम भी श्मशान पहुंच गई थी। हालांकि जांच के बाद डॉक्टर ने देवेंद्र को मृत बताया और इसके बाद अंतिम संस्कार कर दिया गया।

फोटो: श्मशान में चिता पर पड़े शव की जांच करता डॉक्टर
फोटो: श्मशान में चिता पर पड़े शव की जांच करता डॉक्टर
राजकोट (गुजरात)। शहर के जेतपुर श्मशान में गुरुवार की शाम उस समय समय अफरा-तफरी मच गई, जब शव की सांसे चलने की खबर फैली। वाकया उस समय का है, जब शव को चिता पर लिटाकर उस पर लकड़ियां रखी जा रही थीं। इसके बाद श्मशान में ही एक डॉक्टर को बुलाया गया। लगभग 10 मिनट की जांच के बाद डॉक्टर ने मृत शरीर घोषित कर दिया और इसके बाद अंतिम संस्कार हुआ।
राजकोट शहर के जेतपुर में रहने वाले देवेंद्र पंड्या (25) की बुधवार सुबह बीमारी से मौत हो गई थी। देवेंद्र हार्ट पेशेंट थे और पिछले तीन दिनों से सिविल अस्पताल में भर्ती थे। सुबह डॉक्टर्स ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था। शाम को देवेंद्र का शव अंतिम संस्कार के लिए जेतपुर श्मशान घाट लाया गया था।
दोस्त की उंगली पकड़ी:
देवेंद्र के एक दोस्त के अनुसार जब शिव चिता पर रखा हुआ था और उस पर लकड़ियां रखी जा रही थीं। इसी दौरान देवेंद्र ने उसकी एक उंगली पकड़ ली। यह दृश्य मौके पर मौजूद कुछ अन्य लोगों ने भी देखा और तुरंत डॉक्टर को बुलाया। सूचना मिलते ही पुलिस की टीम भी श्मशान पहुंच गई थी। हालांकि जांच के बाद डॉक्टर ने देवेंद्र को मृत बताया और इसके बाद अंतिम संस्कार कर दिया गया।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...