हमें चाहने वाले मित्र

16 सितंबर 2015

छेड़छाड़ पर प्रिंसिपल ने कहा- सिर्फ छुआ ही है, रेप तो नहीं किया, लड़कियां भड़कीं dainikbhaskar.com Sep 16, 2015, 17:36 PM IST Print Decrease Font Increase Font Email Google Plus Twitter Facebook COMMENTS 3 1 of 12 Next शिक्षक और पिंसिपल के खिलाफ नारे लगाती छात्राएं। शिक्षक और पिंसिपल के खिलाफ नारे लगाती छात्राएं। पटना. बिहार की राजधानी स्थित पटना वीमेंस कॉलेज में बुधवार को छात्राओं ने जमकर हंगामा किया। छात्राएं छेड़खानी के आरोपी टीचर संजय दत्ता को बचाने की कोशिश करने वाली प्रिंसिपल सिस्टर मारी जैसी एसी के खिलाफ नारे लगा रही थीं। गौरतलब है कि लड़कियों की शिकायत पर प्रिंसिपल ने कहा था कि उसने सिर्फ छुआ है रेप तो नहीं किया ना। तुमलोग दुपट्टा गलत ढंग से लेती हो तो यह होगा ही, इसके लिए तुमलोग ही जिम्मेदार हो। पीड़िता की मां आई कॉलेज तो भड़क गया मामला कॉलेज का माहौल बुधवार सुबह से ही गर्म था। करीब 11.30 बजे छात्र संगठन AISF के छात्र कॉलेज के गेट पर आ गए और आरोपी शिक्षक और प्रिंसिपल के खिलाफ नारे लगाने लगे। गेट पर हो रहे विरोध प्रदर्शन की आवाज सुन लड़कियां क्लास छोड़ कॉलेज कैंपस में आ गईं। इसी दौरान पीड़िता की मां भी कॉलेज में पहुंच गई। कॉलेज कैंपस में जब सभी लड़कियां जमा हो गईं तो लंबे समय से शांत उनका गुस्सा फूट पड़ा। छात्राएं 'वी वांट जस्टिस' के नारे लगाने लगीं। विरोध प्रदर्शन देख कॉलेज प्रशासन ने मुख्य गेट को बंद कर दिया। प्रदर्शन के दौरान लड़कियों ने कॉलेज के गेट को तोड़ने की कोशिश भी की। कुछ लड़कियों के साथ कॉलेज प्रशासन द्वारा मारपीट किए जाने की बात भी सामने आ रही है। विरोध करने वाली लड़कियों के आई कार्ड छीने प्रदर्शन कर रहीं कुछ लड़कियों के आईकार्ड छीन लिए गए। एक टीचर ने उनकी फोटो भी उतारी और कहा जो लड़कियां हंगामा कर रही हैं, उन्हें कॉलेज से निकाल दिया जाएगा। बाद में पुलिस आई और जांच का भरोसा दिलाए जाने के बाद विरोध शांत हुआ। छात्रा ने फेसबुक पर लिखा था अपना दर्द, जिसके बाद सबके सामने आया मामला कॉलेज में होने वाले छेड़छाड़ की बात एक छात्रा ने फेसबुक पर अपना दर्द लिखा था, जिसके बाद यह मामला सबके सामने आया। यह लिखा था छात्रा ने... सर की हरकतें सामने आई, जो काफी समय से चली आ रही थी। लड़कियों को गलत तरीके से छुना और उन्हें सेक्सुअली हैरेस कर उनके विषयों में अंक बढ़ाने का दावा करना उनका काम है। हाल में बीएमसी विभाग की थर्ड इयर की छात्रा को भी दत्ता सर ने कहा कि मैं तुम्हारे अंक बढ़ा दुंगा, तुम अकेली बीसीए विभाग में आना। जब वह गई तो उसने छात्रा के प्राइवेट पार्ट्स पर छूने की कोशिश की। जब छात्रा ने कॉलेज की प्रिंसिपल सिस्टर मारी जेसी एसी से शिकायत की, तो प्रिंसिपल ने पूछा तुम्हारे पास शिक्षक के खिलाफ क्या सबूत है। जब शिक्षक ने उसे गलत ढंग से छुने की कोशिश की थी, तो छात्रा ने उसका वीडियो बना लिया था। उसे पहले से शक था कि संजय की उसपर गलत नजर है। छात्रा ने यह वीडियो जब प्रिंसिपल को दिखाया, तो प्रिंसिपल ने वीडियो देखने के बाद भी संजय के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया। प्रिंसिपल ने छात्रा को यह कह डाला कि उसने सिर्फ छुआ ही है ना। रेप तो नहीं किया.... प्रिंसिपल ने छात्रा को चुप रहने की धमकी दी और कहा कि अगर उसने बात फैलाई तो उसे कॉलेज के रेस्टिकेट कर दिया जाएगा।

शिक्षक और पिंसिपल के खिलाफ नारे लगाती छात्राएं।
शिक्षक और पिंसिपल के खिलाफ नारे लगाती छात्राएं।
पटना. बिहार की राजधानी स्थित पटना वीमेंस कॉलेज में बुधवार को छात्राओं ने जमकर हंगामा किया। छात्राएं छेड़खानी के आरोपी टीचर संजय दत्ता को बचाने की कोशिश करने वाली प्रिंसिपल सिस्टर मारी जैसी एसी के खिलाफ नारे लगा रही थीं। गौरतलब है कि लड़कियों की शिकायत पर प्रिंसिपल ने कहा था कि उसने सिर्फ छुआ है रेप तो नहीं किया ना। तुमलोग दुपट्टा गलत ढंग से लेती हो तो यह होगा ही, इसके लिए तुमलोग ही जिम्मेदार हो।
पीड़िता की मां आई कॉलेज तो भड़क गया मामला
कॉलेज का माहौल बुधवार सुबह से ही गर्म था। करीब 11.30 बजे छात्र संगठन AISF के छात्र कॉलेज के गेट पर आ गए और आरोपी शिक्षक और प्रिंसिपल के खिलाफ नारे लगाने लगे। गेट पर हो रहे विरोध प्रदर्शन की आवाज सुन लड़कियां क्लास छोड़ कॉलेज कैंपस में आ गईं। इसी दौरान पीड़िता की मां भी कॉलेज में पहुंच गई। कॉलेज कैंपस में जब सभी लड़कियां जमा हो गईं तो लंबे समय से शांत उनका गुस्सा फूट पड़ा। छात्राएं 'वी वांट जस्टिस' के नारे लगाने लगीं। विरोध प्रदर्शन देख कॉलेज प्रशासन ने मुख्य गेट को बंद कर दिया। प्रदर्शन के दौरान लड़कियों ने कॉलेज के गेट को तोड़ने की कोशिश भी की। कुछ लड़कियों के साथ कॉलेज प्रशासन द्वारा मारपीट किए जाने की बात भी सामने आ रही है।
विरोध करने वाली लड़कियों के आई कार्ड छीने
प्रदर्शन कर रहीं कुछ लड़कियों के आईकार्ड छीन लिए गए। एक टीचर ने उनकी फोटो भी उतारी और कहा जो लड़कियां हंगामा कर रही हैं, उन्हें कॉलेज से निकाल दिया जाएगा। बाद में पुलिस आई और जांच का भरोसा दिलाए जाने के बाद विरोध शांत हुआ।
छात्रा ने फेसबुक पर लिखा था अपना दर्द, जिसके बाद सबके सामने आया मामला
कॉलेज में होने वाले छेड़छाड़ की बात एक छात्रा ने फेसबुक पर अपना दर्द लिखा था, जिसके बाद यह मामला सबके सामने आया। यह लिखा था छात्रा ने...
सर की हरकतें सामने आई, जो काफी समय से चली आ रही थी। लड़कियों को गलत तरीके से छुना और उन्हें सेक्सुअली हैरेस कर उनके विषयों में अंक बढ़ाने का दावा करना उनका काम है। हाल में बीएमसी विभाग की थर्ड इयर की छात्रा को भी दत्ता सर ने कहा कि मैं तुम्हारे अंक बढ़ा दुंगा, तुम अकेली बीसीए विभाग में आना। जब वह गई तो उसने छात्रा के प्राइवेट पार्ट्स पर छूने की कोशिश की।
जब छात्रा ने कॉलेज की प्रिंसिपल सिस्टर मारी जेसी एसी से शिकायत की, तो प्रिंसिपल ने पूछा तुम्हारे पास शिक्षक के खिलाफ क्या सबूत है। जब शिक्षक ने उसे गलत ढंग से छुने की कोशिश की थी, तो छात्रा ने उसका वीडियो बना लिया था। उसे पहले से शक था कि संजय की उसपर गलत नजर है। छात्रा ने यह वीडियो जब प्रिंसिपल को दिखाया, तो प्रिंसिपल ने वीडियो देखने के बाद भी संजय के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया। प्रिंसिपल ने छात्रा को यह कह डाला कि उसने सिर्फ छुआ ही है ना। रेप तो नहीं किया.... प्रिंसिपल ने छात्रा को चुप रहने की धमकी दी और कहा कि अगर उसने बात फैलाई तो उसे कॉलेज के रेस्टिकेट कर दिया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...