हमें चाहने वाले मित्र

14 सितंबर 2015

गंदगी देख महिला कलेक्टर ने उठाया कचरा फिर लगाई दुकानदारों की क्लास

बाएं कलेक्टर की आज की फोटो। दाएं जब (9 दिसंबर, 2014) उन्होंने अपने सफाई अभियान के कारण सुर्खियां बटोरी थीं।
बाएं कलेक्टर की आज की फोटो। दाएं जब (9 दिसंबर, 2014) उन्होंने अपने सफाई अभियान के कारण सुर्खियां बटोरी थीं।
पुष्कर. अजमेर की कलेक्टर डॉ. आरुषि ए. मलिक सफाई को लेकर हमेशा सुर्खियों में रही हैं। वो पुष्कर मेले की व्यवस्था देखने दौरे पर निकली थीं। हैरिटेज वॉक के निरीक्षण के दौरान कलेक्टर को अव्यवस्थाओं से रूबरू होना पड़ा। जगह-जगह गंदगी बिखरी मिली तो कलेक्टर ने अपने हाथों से ही सड़कों पर बिखरा कचरा उठाया, लेकिन उन्हें कचरा डालने के लिए कहीं कचरा पात्र नहीं दिखाई दिया। मेला स्थल पर हर जगह गंदगी देख खुद उसकी सफाई में लग गईं। लेकिन उन्हें कचरा डालने के लिए कहीं कचरा पात्र नहीं दिखाई दिया। सफाई के बाद उन्होंने वहां के दुकानदारों को फटकार लगाई फिर ईओ को अभियान चलाकर सफाई कराने तथा गंदगी फैलाने वाले दुकानदारों को आर्थिक दंड से दंडित करने के निर्देश दिए।
क्लीन सिटी बने पुष्कर
बैठक को संबोधित करते हुए कलेक्टर ने कहा कि उनकी मंशा है कि तीर्थ नगरी पुष्कर जिले की सबसे क्लीन सिटी बने। इसके लिए उन्होंने पालिका प्रशासन के साथ-साथ कस्बे के सभी पार्षदों व नगरवासियों से सहयोग की अपेक्षा की।
पहले भी अपने सफाई अभियान को लेकर बटोर चुकी हैं सुर्खियां
महिला कलेक्टर मलिक पहले भी अपने सफाई अभियान के कारण चर्चा बटोर चुकी हैं। जब पूरे भारत में नेता और अभिनेता फोटो खिंचवाने के लिए दिखावे के सफाई अभियान में लगे थे तब कलेक्टर डॉ. आरुषि ए. मलिक अपने कर्मचारियों संग मिलकर ऐसी सफाई की थी कि उनका चेहरा भी काला हो गया था। उस समय उन्होंने पहले झाड़ू लगाया था फिर फावड़े कचरे को इक्कठा कर उसे डस्टबीन में डाला था।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...